For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सलमान खान और अक्षय कुमार की छुट्टी हो जाती, इन हीरोइन को चांस तो देते, बदल जाती ब्लॉकबस्टर

    |

    सोनम कपूर, करीना कपूर, स्वरा भास्कर और शिखा तल्सानिया स्टारर वीरे दी वेडिंग का ट्रेलर आज रिलीज़ हो रहा है। इस फिल्म के अब तक रिलीज हुए पोस्टर्स से समझ में आ रहा है कि ये फिल्म चार लड़कियों की दोस्ती की कहानी है। रिलीज किए गए पोस्टर की टैगलाइन में साफ लिखा है - Not A Chick Flick। यानि कि टिपिकल लड़कियों वाली फिल्म समझने की गलती ना करें। इससे मालूम होता है कि ये ऑडिएंस को एक और दोस्ती और कॉमेडी से भरपूर एंटरटेनिंग फिल्म मिलने वाली है।

    [स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर 2 : फिल्म के सेट से लीक हुई तस्वीरें, दिखा टाइगर का धमाकेदार लुक]

    इससे पहले भी दोस्ती पर बनीं कई फिल्में आ चुकी हैं। जो ऑडिएंस को काफी पसंद आई हैं। जिनमें दिल चाहता है, जिंदगी न मिलेगी दोबारा या फिर काई पो चे शामिल हैं। इन सभी को खूब पसंद किया गया। खास बात ये भी है कि पहले आई सभी फिल्म लड़कों की दोस्ती पर आधारित हैं, वहीं वीरे दी वेडिंग में पहली बार चार लड़कियों की दोस्ती की कहानी देखने को मिलेगी। हैरानी वाली बात है कि अब तक बॉलीवुड में लड़कियों की दोस्ती पर कोई फिल्म ठीक से बनी ही नहीं।

    बॉलीवुड में तो ऐसी फिल्में नहीं बनीं लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि दोस्ती पर बनी टॉप फिल्मों में अगर लड़कों की जगह लड़कियों की दोस्ती दिखाई जाती तो क्या नजारा होता। आगे जानें दोस्ती पर बनीं बॉलीवुड की फेमस फिल्मों में हीरो की जगह कौन-कौन सी हीरोईन ले सकती थीं और इसके बाद ये फिल्में क्या-क्या कमाल कर सकती थीं।

    दिल चाहता है

    दिल चाहता है

    दिल चाहता है में आमिर, अक्षय खन्ना और सैफ अली खान की जगह अगर प्रीती जिंटा, ऐश्वर्या राय और सोनाली बेंद्रे होती तो कहानी थोड़ी अलग होती।

    जिंदगी न मिलेगी दोबारा

    जिंदगी न मिलेगी दोबारा

    वहीं इस फिल्म में ऋतिक रोशन, अभय देओल और फरहान अख्तर की जगह अगर प्रियंका चोपड़ा, करीना कपूर, कोंकणा सेन शर्मा होती तो फिल्म कुछ ज्यादा ही इंटरेस्टिंग हो जाती।

    रॉक ऑन

    रॉक ऑन

    इस फिल्म में दीपिका पादुकोण, कैटरीना कैफ, बिपाशा बसु और प्रियंका चोपड़ा के बीच दोस्ती की कहानी दिखाई जाती तो फिल्म और भी बड़ी ब्लॉकबस्टर हो सकती थी।

    गरम मसाला

    गरम मसाला

    फिल्म गरम मसाला में अक्षय कुमार औ जॉन अब्राहम की जगह करीना कपूर और प्रिंयका चोपड़ा लड़के घुमाती नजर आतीं तो मजा ही कुछ और होता।

    मुन्नाभाई एमबीबीएस

    मुन्नाभाई एमबीबीएस

    संजय दत्त और अरशद वारसी की जगह विद्या बालन और रानी मुखर्जी होती तो फिल्म का मजा दोगुना हो जाता।

    3 इडीयट्स

    3 इडीयट्स

    आमिर खान, आर माधवन और शरमन जोशी की जगह इस फिल्म में कंगना रनौत, अमृता राव और श्रद्धा कपूर होतीं तो आपको ये फिल्म कैसी लगती?

    रंग दे बसंती

    रंग दे बसंती

    वहीं रंग दे बसंती में चार दोस्तों की जगह चार सहेलियां करीना कपूर, ऐशवर्या राय, प्रियंका चोपड़ा और सुष्मिता सेन होतीं तो फिल्म एकदम अलग ही बनती।

    काई पो चे

    काई पो चे

    वहीं काई पो चे में अगर प्रीती जिंटा, कल्कि कोचलिन और कोंकणा सेन शर्मा की दोस्ती की कहानी दिखाई जाती तो फिल्म कमाल होती।

    करण अर्जुन

    करण अर्जुन

    शाहरुख खान और सलमान खान के बजाए अगर श्रीदेवी और माधुरी दीक्षित करण अर्जुन होतीं तो कहानी कैसी होती?

    हेरा फेरी

    हेरा फेरी

    वहीं हेरा फेरी में करीना कपूर, जेनेलिया डी सूजा और काजोल कॉमेडी करती नजर आतीं तो फिल्म और भी मजेदार होती।

    English summary
    Bollywood films based on men friendship can be different if these actress replaced actors.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X