»   » स्वरागिनी: इस शो में नहीं है विलेन की कमी

स्वरागिनी: इस शो में नहीं है विलेन की कमी

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

[टेलीविजन] कलर्स के शो स्वरागिनी में रागिनी चल रहा है ड्रामा, जिससे शायद अब दर्शक भी उब चुकें हैं और शो से किनारा करने पर मजबूर हो गये हैं। शो में अभी खुशियों ने ढंग से दस्तक दे भी नहीं पाई थी कि विलेन ने उनका खात्मा करना शुरू कर दिया।

बहरहाल शो में हो मकर संक्रांति की तैयारी जहां दोनों परिवार इस त्यौहार जो हर्षौल्लास के साथ मना रहें हैं तो वहीं दूसरी ओर संस्कार-स्वरा कर रहें हैं पतंगबाजी डेट।लेकिन उनकी इस रोमांटिक पतंगबाजी के बीच आ जाएगा बाज यानी विलेन जो करेगा स्वरा पर एक जान-लेवा हमला।

[स्वरागिनी: स्वरा-संस्कार के रोमांस में लक्ष्य को लगी हथकड़ी]

आने वाले एपिसोड्स में दर्शक देखेंगे कि, दोनों परिवार मिलकर स्वरा-संस्कार की कुंडलियों का मिलान करेंगें, जिसमे स्वरा की कुंडली में लग जाती है अचानक आग। जिस देख उर्वशी मासी स्वरा को संस्कार के अपशकुन बताती है। लेकिन संस्कार यह सब मानने से इनकार कर देता है।

स्वरा-संस्कार

स्वरा-संस्कार

माहेश्वरी परिवार में चल रही है संस्कार-स्वरा की शादी की तैयारी। जहां माहेश्वरी परिवार करा रहा है दोनों की कुंडलियों का मिलान। लेकिन....

कुंडली में लगी आग

कुंडली में लगी आग

जी हां कुंडली में लग गयी है आग, और ये आग लगाई है रागिनी की मासी ने, जो किसी भी कीमत पर स्वरा-संस्कार की शादी नहीं होने देना चाहती है।

घी में डाला आग

घी में डाला आग

उर्वशी मासी संस्कार पर हमला कर सुजाता को भड़काती है कि स्वरा संस्कार के लिए अपशकुन हैं। हालांकि संस्कार यह सब मानने से इंकार कर देता है।

स्वरा-संसकर

स्वरा-संसकर

तो दूसरी ओर संस्कार स्वरा के घर एक फूलों का गुलदस्ता लेकर जाता है, जिसके देख स्वरा के पिता संस्कार पर भड़क जातें हैं।

संस्कार

संस्कार

स्वरा के पिता संस्कार से कहते हैं स्वरा के लिए फूलो का गुलदस्ता हमारे लिए कुछ नहीं, जिसके बाद संस्कार फ्लावर बुके से एक-एक गुलाब निकालकर सभी घर वालों का दिल जीत लेता है।

स्वरा-संस्कार

स्वरा-संस्कार

आने वाले एपिसोड्स में दर्शक देखेंगें कि जहां स्वरा और संस्कार रोमांटिक पालो को भर-पूर एन्जॉय कर रहें हैं तो वहीं कोई रच रहा है उनके खिलाफ एक साजिश।

कटी तेरी पतंग

कटी तेरी पतंग

दोनों अपने प्यार में इतना खो गये कि भूल ही गये की पतंग कट चुकी है। तो बस खतरे से अनजान स्वरा निकल गयी जंगल में कटी पतंग को ढूंढने।

खतरे में स्वरा

खतरे में स्वरा

जी हां स्वरा की जान खतरे में दरअसल किसी ने उसी की पतंग से काट दी है उसकी है गर्दन लेकिन किसने?

उर्वशी मासी

उर्वशी मासी

जी हां स्वरा पर हमला करने वाला कोई और नहीं बल्कि उर्वशी मासी है जिन्हें रास नहीं आ रही हैं स्वरा-संस्कार की खुशियां और कर देना चाहती है स्वरा संस्कार को अलग।

English summary
After picnic date Sanskaar and Swara celebrating makar sankranti, suddenly someone attacks on swara.
Please Wait while comments are loading...