For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुचित्रा सेन की हालत अब भी खतरे से बाहर नहीं

    |

    बंगाली अभिनेत्री सुचित्रा सेन की हालत अब भी स्थिर बनी हुई है लेकिन अब भी वह खतरे से बाहर नहीं है। यह जानकारी उन डाक्टरों की ओर से दी गयी है जो कि सुचित्रा का इलाज कर रहे हैं।

    छाती के संक्रमण का इलाज करा रहीं सुचित्रा सेन की हालत पिछले रविवार रात अचानक से बिगड़ गयी थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्पताल ने हेल्थ बुलेटिन में कहा है कि सुचित्रा सेन की हालत अब स्थिर है। मालूम हो कि बड़े पर्दे पर उनकी पहली फिल्म 'शैरे छुत्तौर' (बंगाली) थी।

    उन्हें बंगाली की 'दीप ज्वाले जाय' और 'उत्तर फालगुनी' सरीखी फिल्मों के लिए जाना जाता है। वहीं, हिन्दी में वह 'देवदास', 'बंबई का बाबू' और 'ममता' और 'आंधी' सरीखी फिल्मों में अभिनय कर चुकी हैं।

    वर्ष 1978 में अपने सिनेमाई करियर को अलविदा कहने वाली यह अभिनेत्री 'सात पाके बंधा' के लिए वर्ष 1963 में मास्को फिल्म महोत्सव में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार जीत चुकी हैं। फिल्मों से संन्यास के बाद से वह एकांतपूर्ण जीवन जी रही हैं। वह सिर्फ अपनी अदाकारा बेटी मुनमुन सेन और नातिन रीमा और रिया सेन से ही मिलती हैं।

    English summary
    Iconic Bengali actress Suchitra Sen is "partially responding" to intermittent non-invasive ventilation support, but is not out of danger yet, a doctor said Sunday.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X