»   » हवा हवाई फिल्म रिव्यू- सपने भी सच होते हैं, कोशिश दिल से होनी चाहिए

हवा हवाई फिल्म रिव्यू- सपने भी सच होते हैं, कोशिश दिल से होनी चाहिए

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

स्टार- 4
निर्माता-
निर्देशक- अमोल गुप्ते
कलाकार- पार्थो गुप्ते, साकिब सलीम
संगीत- हितेश सोनिक

"कौन है जो सपने नहीं देखता, सपनों को पूरा नहीं करना चाहता, कोई तो ऐसा सपना होगा तुम लोगों का।" कितना इत्तेफाक रखते हैं आप इस बात से। अगर आप भी सपने देखते हैं और उन्हें सच करने की इच्छा में आपकी रातों की नींदे उड़ जाती हैं तो अमोल गुप्ते की इस हफ्ते रिलीज फिल्म हवा हवाई आपके लिए एक बेहतरीन मौका है एक ऐसा अनुभव लेने के लिए जो कि आपके सपने देखने और उन्हें सच करने की उम्मीद देगा। जो आपको महसूस कराएगा कि सपने देखिये भी और उन्हें पूरा करने की कोशिश भी करिये क्योंकि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

हवा हवाई फिल्म की कहानी शुरु होती है अर्जुन (पार्थो गुप्ता) से जो कि एक दुकान में चाय बांटने वाले का काम करता है। इस काम से उसे जो भी पैसे मिलते हैं वो उनसे अपनी मां और अपने भाई की देखभाल करता है। इस काम के दौरान ही अर्जुन के स्केटिंग क्लासेस के बारे में पता चलता है। अर्जुन जब भी बच्चों के पैरों में स्केट्स बांधकर फिसलते हुए देखता है वो काफी उत्साहित हो उठता है और धीरे धीरे उसके मन में भी स्केटिंग सीखने की चाह उत्पन्न होती है।वो अनिकेत (साकिब सलीम) के पास जाता है जो कि बच्चों को स्केट सिखाते हैं। अर्जुन के उत्साह और उसके सपने को देखकर अनिकेत अर्जुन को स्केट कॉंपटीशन का चैंपियन बनाने का फैसला करते हैं।

लेकिन अनिकेत जो सोचते हैं वैसा नहीं होता। कुछ ऐसी घटनाएं घटती हैं कि ये सपना टूटता सा नज़र आता है। आखिर ऐसा क्या होता है ये जानने के लिए आपको हवा हवाई देखने अपने नजदीकी सिनेमाहॉल जाना होगा।

बेहतरीन कहानी

बेहतरीन कहानी

सिंपल लेकिन बहुत सारे इमोशन लिये हुए है। फिल्म देखते समय आपको एक पल भी यूं नहीं लगेगा कि आपने गलत फिल्म चुनी है। फिल्म की कहानी अपनी ही गति से आगे बढ़ती है और दर्शकों को भी अपने साथ आखिर पल तक बांधे रखती है।

निर्देशन कमाल का

निर्देशन कमाल का

अमोल गुप्ते जिन्होंने तारे जमीन पर से अपने करियर को एक बेहतरीन टर्न दिया और उसके बाद स्टेलिन का डब्बा से बच्चों की फिल्मों को एक अलग ही लेवल पर पहुंचा दिया, ने हवा हवाई में भी अपने निर्देशन का बेहतरीन प्रदर्शन किया है। हालांकि उनकी पिछली फिल्मों के मुकाबले हवा हवाई थोड़ी फीकी है लेकिन साल 2014 की बेहतरीन फिल्मों में हवा हवाई अपनी पहचान जरुर बनाएगी।

पार्थो, साकिब और पार्थो के दोस्त दिल छू लेंगे

पार्थो, साकिब और पार्थो के दोस्त दिल छू लेंगे

पार्थो ने एक बार फिर से अपने बेहतरीन अभिनय का प्रदर्शन किया है। आजकल फिल्मो में चाइल्ड कलाकार भी इतने टैलेंटेड होते हैं कि बिना किसी स्टार के भी ये सिर्फ अपने दम पर फिल्में बॉक्स ऑफिस पर चला लेते हैं। पार्थो भी उनमें से एक हैं। साकिब सलीम ने भी फिल्म में एक कोच के किरदार में जान डाल दी है। लेकिन पार्थो के दोस्त के रुप में अशफआख बिलमिल्ला खान ने तो गजब ही कर दिया है।

संगीत बेहतरीन

संगीत बेहतरीन

हवा हवाई का संगीत हितेश सोनिक ने दिया है। गानों को बहुत ही खूबसूरती से शूट कियिा गया है। कुछ गाने जैसे कि फिल्म का टाइटल सॉंग जो कि अमोल गुप्ते ने बनाया है वो काफी हिट हो रहा है, इसके अलावा सपनों को गिनते, घूम गयी, और सिर उठा के गाने भी काफी अच्छे हैं।

देखें या नहीं

देखें या नहीं

खैर इतनी तारीफ के बाद ये कहना कि फिल्म देखे या नहीं शायद थोड़ा अजीब लगेगा लेकिन हमारा कहना है कि हवा हवाई इस साल की बेहतरीन फिल्मों में से एक है। फिल्म देखते समय आपकी आंखो में आंसू भी आएंगे तो दिल की धड़कने भी बढ़ेगी और अंत में एक प्यारी सी मुस्कुराहट लिये आप बाहर आएंगे।

English summary
Hawaa Hawaai movie is story of a small boy Arjun who follows his dream and finally achieves it. Partho and Saquib Salim starer Hawaa Hawaai releasing today on Box office. Hawaa Hawaai is based on dreams and the journey to turn them into real.
Please Wait while comments are loading...