»   » "एक था टाईगर ब्लॉबस्टर थी, पर मुझे फिल्म में कुछ समझ नहीं आ रहा था!"

"एक था टाईगर ब्लॉबस्टर थी, पर मुझे फिल्म में कुछ समझ नहीं आ रहा था!"

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

सलमान खान के साथ काम करना और उनकी स्टारडम को हैंडल कर लेना आसान बात नहीं है और बहुत ही कम लोग हैं जो सलमान खान का एटीट्यूड और स्टारडम बिना अपने काम को खराब किए बिना हैंडल कर पाते हैं। ऐसे ही एक इंसान हैं कबीर खान जो फिलहाल अपनी और सलमान की अगली ईद रिलीज़ की तैयारी कर रहे हैं।

लेकिन क्या वाकई कबीर खान के लिए सलमान खान के साथ काम करना इतना आसान रहा है? तो इसका जवाब है नहीं।क्योंकि कबीर खान ने शो पर सलमान खान के साथ काम करने पर खुलकर बात की।

i-had-problems-with-ek-tha-tiger-could-not-digest-the-film-says-Kabir Khan
 

कबीर खान एक बेहतरीन डायरेक्टर हैं, ये तो सब जानते हैं लेकिन जब से वो सलमान खान के साथ आए वो ब्लॉकबस्टर डायरेक्टर हो गए और ब्लॉकबस्टर फिल्म के डायरेक्टर पर हो जाता है काफी प्रेशर, तो कबीर खान पर भी था।

कबीर खान एक था टाईगर सीक्वल नहीं डायरेक्ट कर रहे हैं। पर क्यों? इसकी वजह काफी दिलचस्प है। दरअसल, कबीर खान की मानें तो हर कहानी एक बार ही बताने के लिए होती है, इसलिए वो सीक्वल के पक्ष में नहीं रहते हैं।
[FINAL: ईद 2017 का महाक्लैश....सलमान की ट्यूबलाइट को मिलेगी टक्कर!]] 

एक था टाईगर की कहानी पूरी थी, वो आगे से कहीं नहीं जाती इसलिए वो इस फिल्म को फ्रेंचाइज़ी में नहीं बदलना चाहते थे। हालांकि यशराज फिल्म्स ने उन्हें एक था टाईगर ऑफर की पर उन्होंने मना कर दिया।

जानिए कबीर खान ने टाईगर ज़िंदा है के बारे में क्या क्या खुलासे किए -

सलमान का प्रेशर

सलमान का प्रेशर

करण जौहर ने कबीर खान से पूछा कि वो सलमान के साथ बॉलीवुड की सबसे बड़ी फिल्मों में से एक बजरंगी भाईजान दे चुके हैं। क्या ऐसे में सलमान के साथ काम करने में प्रेशर होता है कि उनकी स्टारडम के लिए फिल्म में कुछ अलग करना पड़ेगा?

सलमान के लायक फिल्म

सलमान के लायक फिल्म

कबीर खान ने बताया कि पहली फिल्म टाईगर ज़िंदा है के साथ उन्हें ऐसा करना पड़ा। वो इंडस्ट्री में बाहरी थे इसलिए सलमान के साथ फिल्म करना और यशराज फिल्म्स जैसा प्रोड्यूसर मिलना बड़ी बात थी।

 कुछ चीज़ें नहीं थी पसंद

कुछ चीज़ें नहीं थी पसंद

कबीर ने बताया कि एक था टाईगर में कई ऐसी चीज़ें थीं जो उन्हें फिल्म में नहीं करना था पर उन्होंने की। उनका इशारा माशाल्लाह गाने की तरफ था जो फिल्म में अलग से रखा गया था। वहीं सलमान और कैटरीना का लव एंगल भी इसमें शामिल था।

हाथ से छूट गई फिल्म

हाथ से छूट गई फिल्म

कबीर ने बताया कि भले ही उन्होंने वो सब एडजस्टमेंट कर दिए जो सलमान खान की फिल्म के हिसाब से उस फिल्म में होने चाहिए थी लेकिन ये सब करते करते उन्हें पता ही नहीं चला कि फिल्म कब उनके हाथ से छूट गई।

पसंद ही नहीं आई

पसंद ही नहीं आई

कबीर खान ने स्पष्ट और दो टूक बात बताई कि भले ही एक था टाईगर ब्लॉकबस्टर थी और 100 करोड़ क्लब में फटाफट शामिल हो गई लेकिन फिर भी उन्हें अपनी ये फिल्म बिल्कुल पसंद नहीं है।

 अगली फिल्म में नहीं की गलती

अगली फिल्म में नहीं की गलती

यही कारण है कि बजरंगी भाईजान में कबीर ने बिल्कुल गलती नहीं की। उन्होंने बताया कि फिल्म वैसे ही बनाई जैसे उन्हें बनानी थी। किसी की नहीं सुनी और ऐसा कोई काम नहीं किया जो उन्हें सही नहीं लग रहा था।

समझ नहीं आता था बिज़नेस

समझ नहीं आता था बिज़नेस

कबीर ने बताया कि शुरू में उन्हें ये बिज़नेस समझ ही नहीं आता था। एक होती थी फ्राइडे के पहले वाली फिल्म जो प्रमोशन वगैरह करके शुक्रवार को रिलीज़ से पहले ही बेच दी जाती थी और एक होती थी फ्राइडे के बाद वाली फिल्म जो Word Of Mouth पर चलती थी।

 प्रोड्यूसर नहीं मिलता था

प्रोड्यूसर नहीं मिलता था

कबीर ने बताया कि सबसे मुश्किल था अपनी फिल्मों के लिए प्रोड्यूसर ढूंढना। लोग मुझे डॉक्यूमेंट्री बनाने वाला ही समझते थे और उन्हें लगता था कि मैं फिल्म नहीं बना सकता।

अर्जुन को लाओ

अर्जुन को लाओ

एक प्रोड्यूसर ने तो यहां तक कह दिया था कि अर्जुन रामपाल को ले लो तो फिल्म चल जाएगी। कबीर खान ने बताया कि मेरे पास उनके पीए का नंबर भी नहीं था तो मैं अर्जुन रामपाल से कैसे मिल पाता। आज भी मेरे पास उनका नंबर नहीं है।

 नही की कोई गलती

नही की कोई गलती

फैंटम बनाने की बात पर उन्होंने कहा कि कोई फिल्म बनाने का मलाल नहीं है क्योंकि वही बनाई है जो बनाना चाहता था।

 
English summary
I had problems with Ek Tha Tiger could not digest the film says Kabir Khan.
Please Wait while comments are loading...