»   » #10Reasons: बॉलीवुड को दोबारा नहीं मिल पाया एक और शाहरूख खान!

#10Reasons: बॉलीवुड को दोबारा नहीं मिल पाया एक और शाहरूख खान!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

शाहरूख खान, मतलब बादशाह, रोमांस का। परदे पर शाहरूख ने जो किया वो शायद ही किसी ने किया है और शायद ही शायद कोई दोबारा कर पाए। टैलेंट के नाम पर अगर रोमांस को किसी ने परदे पर शिद्दत से उतारा है तो वो शाहरूख खान हैं।

इस काम में कोई उनके आस पास भी नहीं टिक सकता । हमने ढूंढने की कोशिश की वो कारण जिससे बॉलीवुड में शाहरूख की जगह कोई क्यों नहीं ले सकता।

25-years-of-srk-why-industry-can-t-have-another-shahrukh-khan

शाहरूख खान वो इंसान है जो बॉलीवुड का सबसे प्यारा विलेन। वो विलेन जिसे 100 खून माफ हो जाते थे। वो विलेन जिससे अंत तक हमदर्दी होने लगती थी।

चाहे वो डर का सनकी दीवाना हो या फिर अंजाम का बिगड़ैल रईसज़ादा। बाज़ीगर का शातिर धोखेबाज़ हो या फिर डॉन का तेज़ तर्रार क्रिमिनल। अंत तक रईस का स्मगलर भी। हर निगेटिव रोल में भी शाहरूख कोई जादू तो चला देते थे।

यही कारण है कि अमरीश पुरी के बाद शाहरूख खान बॉलीवुड के सबसे प्यारे विलेन होंगे। और वो विलेन जो जब हीरो बनकर आया तो सबके होश ही उड़ा दिए। शाहरूख को झेलने के लिए धन्यवाद।

वैसे ज़्यादातर लोग ये बात नहीं जानते कि शाहरूख खान को यश चोपड़ा ने हीरो बनने की सलाह दी थी लेकिन शाहरूख को लगता था कि उनके पास हीरो वाला चेहरा नहीं है।

हाल ही में विदेश की एक यूनिवर्सिटी में स्पीच देते समय शाहरूख ने कहा कि अगर मैं इस चेहरे के साथ 25 साल तक राज कर सकता हूं तो कोई भी कुछ भी कर सकता है।
[बॉक्स ऑफिस पर टॉप 10 क्या...टॉप 20 में भी नहीं थे सलमान खान!]

शाहरूख का ये कॉन्फिडेंस ही है कि आज तक बॉलीवुड को उसका दूसरा शाहरूख खान नहीं मिल पाया -

 खुद के दम पर बनाई अपनी किस्मत

खुद के दम पर बनाई अपनी किस्मत

उनके पास कोई गॉडफादर नहीं था। जब शाहरूख ने इंडस्ट्री में कदम रखा तो उनके पास कोई सिफारिश नहीं थी। उन्होंने अपने दम पर अपनी सफलता की कहानी लिखी। पहले छोटे परदे पर कदम जाए फिर निगेटिव किरदार निभाए। शाहरूख ने हर तरह से खुद को साबित किया।

2. औसत टैलेंट पर कॉन्फिडेंस

2. औसत टैलेंट पर कॉन्फिडेंस

ऐसा नहीं है कि शाहरूख इस इंडस्ट्री के सबसे उम्दा कलाकार है पर वो जो भी करते हैं उसमें वो बेहतरीन हैं। वो ऋतिक की तरह डांस नहीं कर सकते, सलमान की तरह मासूम नहीं लग सकते पर उनके जैसा रोमांस कोई नहीं कर सकता।

3.परिवार का प्यार

3.परिवार का प्यार

शाहरूख हमेशा से पारिवारिक इंसान हैं। उन्होंने इंडस्ट्री में आते ही शादी कर ली। इसके बाद परदे पर रोमांस को इबादत की तरह उतारा। लेकिन इस कड़ी में उनका परिवार और पत्नी कहीं पीछे नहीं छूटी।

 4. खुशमिज़ाज़ और ज़मीन से जुड़े

4. खुशमिज़ाज़ और ज़मीन से जुड़े

शाहरूख कभी अपनी सफलता में झूमते नहीं दिखते। जहां जिसको जितना क्रेडिट देना चाहिए उन्होंने दिया। यहूी खुशमिज़ाज़ी उनके काम करने के अंदाज़ में भी दिखती है।

5. स्टेज परफॉर्मर

5. स्टेज परफॉर्मर

शाहरूख एक शानदार कलाकार हैं और उनके अंदर दर्शकों को बांधने की कला है। यही खूबी उन्हें सबसे अलग खड़ा कर देती है। वो हर इंसान से जुड़ना जानते हैं।

6. एटीट्यूड

6. एटीट्यूड

शाहरूख को जब जहां एटीट्यूड दिखाना चाहिए उन्होंने खुलकर दिखाया और इसीलिए उन्हें फैन्स ने सर आंखों पर बिठाया। उन्होंने बस अपना काम किया और जहां प्रतिक्रिया देनी चाहिए वहां दी। चाहे वानखेड़े स्टेडियम या बेटे अबराम का जन्म।

7. जो किया दिल से किया

7. जो किया दिल से किया

शाहरूख हर रोल को दिल से करते हैं और शायद यही कारण है कि वो परदे पर राज, राहुल, रोहन, सूरी ही लगे कभी शाहरूख दिखे ही नहीं। यह काबिलियत कम ही एक्टर्स में दिखती है।

8. डिंपल्स

8. डिंपल्स

शाहरूख, उनके डिंपल्स और मुस्कान इस इंडस्ट्री की सबसे कीमती चीज़ है और ये बात किंग खान खुद भी जानते होंगे। तभी तो परदे पर जादू करते वक्त वो इनका इस्तेमाल करना कतई नहीं भूलते।

9. दोस्त

9. दोस्त

शाहरूख खान ऐसे दोस्त हैं जो दोस्तों के लिए कुछ भी करते हैं। यही उन्होंने फराह खान के साथ किया भी जिसके लिए इंडस्ट्री ने उन्हें माफ भी कर दिया। काजोल से लेकर करन जौहर तक उनकी दोस्ती हमेशा दिल से निभी है।

10. रोमांस

10. रोमांस

इसके बिना तो यह लिस्ट अधूरी है। शाहरूख ने रोमांस को जैसा जिया है वैसा कोई नहीं कर सकता। एक तरह से कहा जाए तो इस देश की कई पीढ़ियों के लिए रोमांस मतलब है कुछ कुछ होता है या दिल तो पागल है। अब इतनी सारी खूबियां किसी एक इंसान में तो नहीं मिल सकती और न ही मिल सकता है शाहरूख जैसा एक्टर।

English summary
25 years of SRK - why industry can't have another Shahrukh Khan.
Please Wait while comments are loading...