For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    कौन बनेगा करोड़पति एपिसोड 10 Live: 25 लाख तक पहुंचने वाली पहली प्रतिभागी, चल रहा है खेल!

    |

    कौन बनेगा करोड़पति का आज का एपिसोड कल की प्रतिभागी मृणालिका दुबे के साथ शुरू हुआ है। मृणालिका अमिताभ बच्चन की काफी बड़ी फैन हैं और ये बात वो हर दो - तीन सवालों के बाद ज़ाहिर कर देती हैं।

    अमिताभ बच्चन से हॉटसीट पर मिलने के बाद ही मृणालिका ने उनके साथ अपने पास रखी 1981 की एक मैगज़ीन दिखाई जिसके कवर पर बच्चन साहब थे।

    मृणालिका धीरे धीरे खेल को आगे बढ़ा रही हैं और उनके खेल को सुंदर तरीके से देख अमिताभ बच्चन काफी प्रभावित हो चुके हैं। फिलहाल मृणालिका 25 लाख रूपये जीत चुकी हैं। इसके बाद 50 लाख के प्रश्न के लिए मृणालिका के पास कोई लाइफलाइन नहीं बची थी। ओलंपिक्स से जुड़े सवाल पर वो रिस्क नहीं लेना चाहती थीं।

    छोड़ दिया खेल

    छोड़ दिया खेल

    मृणालिका ने 25 लाख जीतकर पचास लाख के लिए कोई रिस्क नहीं लिया। उन्होंने खेल छोड़ दिया। लेकिन अमिताभ बच्चन ने उन्हें वेदांतु की ओर से उनकी छोटी बेटी को स्कॉलरशिप प्रदान की।

    केबीसी करमवीर

    केबीसी करमवीर

    केबीसी करमवीर के तहत आज शो पर आए डॉ. सुनील श्रॉफ जो मोहन फाउंडेशन नाम के एक ट्रस्ट के ज़रिए लोगों में अंगदान को लेकर जागरूक करते हैं। इस फाउंडेशन के ज़रिए वो बहुत लोगों को मुस्कान बांट चुके हैं।

    रितेश देशमुख ने दिया साथ

    रितेश देशमुख ने दिया साथ

    सुनील श्रॉफ का साथ देने के लिए शो पर आए रितेश देशमुख। रितेश ने आते ही अमिताभ बच्चन का पैर छुआ और अंगदान को लेकर एक वीडियो क्लिप देखकर बहुत ही ज़्यादा भावुक हो गए।

    कर चुके हैं अंगदान

    कर चुके हैं अंगदान

    रितेश देशमुख अपनी पत्नी जेनेलिया के साथ अंगदान कर चुके हैं। यही कारण है कि रितेश देशमुख, पिछले चार सालों से शाकाहारी बन चुके हैं क्योंकि वो अंगदान के लिए अपने शरीर को स्वस्थ रखना चाहते हैं।

    पिता को किया याद

    पिता को किया याद

    रितेश देशमुख ने बताया कि कैसे उनके पिता विलासराव देशमुख को भी अंगदान की ज़रूरत थी लेकिन सही समय पर डोनर ना मिल पाने के कारण वो अपनी ज़िंदगी से हाथ धो बैठे।

    खेलते थे केबीसी

    खेलते थे केबीसी

    वहीं रितेश देशमनुख ने मज़ाक में बताया कि वो अपने घर पर दीवाली पर कौन बनेगा करोड़पति खेलते थे जिसमें वो खुद अमिताभ बच्चन बैठते थे और घर के सारे लोग हॉटसीट पर बैठते थे।

    हरे रंग का मतलब

    हरे रंग का मतलब

    डॉ. श्रॉफ ने बताया कि अंगदान के लिए हरे रंग का रिबन जागरूकता के लिए लगाया जाता है जिससे लोगों को पता चल सके कि ये व्यक्ति अंगदान कर रहा है। इसके बाद अमिताभ बच्चन ने खेल की लाइट्स हरी करने का आग्रह किया।

    अंगदान का वादा

    अंगदान का वादा

    केबीसी पर आकर सुनील श्रॉफ और रितेश देशमुख ने अमिताभ बच्चन को भी प्रभावित किया और अमिताभ बच्चन ने भी अंगदान का वादा किया है।

    English summary
    KBC Episode 10 Live: Amitabh Bachchan offers contestant Mrinalika Dubey a special gift.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X