»   » समीक्षा : डबल धमाल यानी डबल बकवास

समीक्षा : डबल धमाल यानी डबल बकवास

Posted By: Priya Srivastava
Subscribe to Filmibeat Hindi
Double Dhamaal is a comedy. Sequel to Dhamaal, it is about the four friends – Manav (Jaaved Jaffrey), Adi (Arshad Warsi), Roy (Ritesh Deshmukh) and Boman (Aashish Chowdhary) – and their encounter with Kabir (Sanjay Dutt) who is no longer a police officer.
फिल्म : डबल धमाल
कलाकार : आशीष चौधरी, संजय दत्त, मल्लिका शहरावत, कंगना रनौत, अरशद वारसी, जावेद जाफरी
निर्देशक : इंद्र कुमार
रेटिंग : 1.5/5

इंद्र कुमार ने कुछ वर्षों पहले इश्क, दिल जैसी शानदार कॉमेडी व ड्रामा से युक्त फिल्में दी हैं। लेकिन हाल के कुछ वर्षों में वह भी टाइप कॉमेडी दिखाने की श्रेणी में शामिल हो गये हैं। धमाल के पहले भाग में भी उन्होंने जबरन कई कॉमेडी सीक्वेंस डालने की कोशिश की थी। लेकिन डबल धमाल बना कर उन्होंने उसमें और इजाफा किया है।

हाल ही में फिल्म रेडी भी आयी है। यह भी कॉमेडी फिल्मों की ही श्रेणी में शामिल होती है। लेकिन इसके बावजूद इस फिल्म में लोगों को थियेटर में हंसने के कई मौके देती है। वहां सलमान खान के संवाद ही काफी थे। लेकिन इंद्र कुमार की डबल धमाल में कई सितारे होने के बावजूद कुछ भी खास बात नजर नहीं आती। हिंदी सिनेमा में प्रायः संजीव कुमार, अशोक कुमार, दिलीप कुमार जैसे लीजेंडरी नायकों का माखौल उडाया जाता रहा है। यह फंडा अब पुराना हो चुका है। इसके बावजूद इंद्र कुमार ने डबल धमाल में इसका सहारा लिया है।

पूरी फिल्म में केवल कुछ प्रसंगों को छोड दें तो बिल्कुल हंसी नहीं आती। बल्कि उबाऊ लगती है कहानी। फिल्म में चार चोरों का किरदार है। आदि, मानव, रॉय और बोमन। चारों चोर हैं। और हर बार किसी न किसी वजह से अपनी ही जाल में फंस जाते हैं। उन्हें कोई और नहीं फंसाता है कबीर नायक। कामिनी कबीर की प्रेमिका है। कहानी में कई टि्वस्ट आते हैं।

लेकिन दर्शकों को कुछ भी नया देखने को नहीं मिलता। निस्संदेह सतीश कौशिक के बाबा प्रवचन पर दर्शकों को हंसी आयेगी। उन्होंने कॉमेडी के माध्यम से महाभारत और रामायण का वाचन किया है। लेकिन इसके अतिरिक्त फिल्म में ऐसा कुछ भी नहीं जो आपको फिल्म देखने के लिए उत्साहित करे। फिल्म में मल्लिका के गीत जलेबी बाई इन दिनों लोकप्रिय हो रहे हैं। लेकिन फिल्म में यह गीत बेफिजूल नजर आता है।

गौरतलब है कि इन दिनों हिंदी फिल्मों का फिल्मांकन कशीनो में बहुत हो रहा है। फिल्म भेजा फ्राय 2 में भी कशीनो की कहानी है और डबल धमाल में भी फिल्म कशीनो में ही नजर आती है। अभिनय के दृष्टिकोण से अरशद वारसी हमेशा की तरह सब पर भारी पड़े हैं। संजय दत्त ने कुछ खास अभिनय नहीं किया। उम्मीद है कि वह अग्निपथ से अपने फॉर्म में वापस आयेंगे।

कंगना ने बेहतरीन एक्टिंग की है। मल्लिका में कुछ भी नयापन नहीं। जावेद ने अपने किरदार को बखूबी निभाया। डबल धमाल भले ही कुछ खास धमाल न मचा पाये। लेकिन इंद्र कुमार ने फिल्म के अंत में इस फिल्म के पार्ट 3 बनने की घोषणा कर दी है। यह बेहद आश्चर्य करनेवाला मुद्दा है। लगता है कि वाकई इन दिनों कहानियों की कमी हो गयी है। वैसे फिल्म के बॉक्स ऑफिस रिपोर्ट आने के बाद अपना इरादा जरूर बदल लेना चाहिए।

English summary
Double Dhamaal is a comedy. Sequel to Dhamaal, it is about the four friends – Manav (Jaaved Jaffrey), Adi (Arshad Warsi), Roy (Ritesh Deshmukh) and Boman (Aashish Chowdhary) – and their encounter with Kabir (Sanjay Dutt) who is no longer a police officer.
Please Wait while comments are loading...

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi