»   » Paltan Movie Review: पलटन के जरिए असली वॉर हीरोज के साथ नाइंसाफी कर बैठे जेपी दत्ता

Paltan Movie Review: पलटन के जरिए असली वॉर हीरोज के साथ नाइंसाफी कर बैठे जेपी दत्ता

Subscribe to Filmibeat Hindi
Rating:
1.5/5
Star Cast: जैकी श्राफ, अर्जुन रामपाल, सोनू सूद, हर्षवर्धन राणे, सिद्धांत कपूर
Director: जेपी दत्ता

जेपी दत्ता बॉलीवुड में वॉर मूवीज का पर्याय के तौर पर जाने जाते हैं। उन्होंने बॉर्डर और LOC: कार्गिल जैसी फिल्मों से ये साबित भी किया है। हालांकि हाल ही में आई में रिलीज हुई फिल्म पटलन को देखकर ऐसा मालूम होता है कि जेपी दत्ता का वो मैजिक खो चुका है। ये फिल्म काफी थकी हुई नजर आती है। ये वाकई जेपी दत्ता के फैंस के लिए निराशाजनक है। सच्ची घटनाओं पर आधारित जेपी दत्ता की पटलन 1967 में भारत-चीन के बीच हुए नाथू ला मिलिट्री क्लैश पर बनी है।

पलटन की शुरूआत होती है 1962 से होती है जहां चीनी सैनिकों ने भारतीय जवानों पर अरुणाचल प्रदेश स्थित नमका चू लेक पर हमला किया था। इस हमले में 1383 जानें चली गई थीं। इसके बाद सीन 1967 में शिफ्ट होता है जहां ऑडिएंस को रूबरू करवाया जाता है सिक्किम के नाथू ला बॉर्डर पर चल रहे भारत-चीन के तनाव से। फिल्म भारतीय जवानों की कहानी दिखाती है कि कैसे उन्होंने चीनी लोगों के खिलाफ ये संगीन लड़ाई लड़ी। इसी बीच ऑडिएंस को उन भारतीय जवानों की निजी जिंदगी के बारे में फ्लैशबैक भी दिखाए जाते हैं।

paltan-review-and-rating-arjun-rampal-sonu-sood-gurmeet-choudhary

जहां एक तरफ इतिहास की सबसे खतरनाक और रोमांचक घटना को दोहराए जाने का आइडिया पेपर पर काफी अच्छा लगता है वहीं दूसरी तरफ जेपी दत्त इस कहानी को अपने तरीके से कहने में बुरी तरह असफल हो जाते हैं। फिल्म का नैरेशन काफी खोखला लगता है। आपको लगता है कि फिल्म में कुछ रोमांचक होने के लिए आप सदियों से इंतजार में बैठे हैं।

फिल्म का स्क्रीनप्ले काफी ढ़ीला है और फिल्म में 'the more you sweat in peace, the less you bleed in war' जैसी लाइनें असर विहीन लगती हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary
    JP Dutta's Paltan ends up as a poor cousin of his own previous film 'Border' with its wafer-thin plot and below-average performances. At a point in the film, Sonu Sood tells a fellow soldier, "Hamari Paltan ko..Bhagwan ne shayad issi kam ke liy bheja hai." Unfortunately, JP Dutta's soldiers fail miserably in their mission of giving us an emotional fare.

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more