»   » #Alert: "सलमान, अक्षय, अजय, आमिर, शाहरूख...सब एक ही काम कर रहे हैं!"

#Alert: "सलमान, अक्षय, अजय, आमिर, शाहरूख...सब एक ही काम कर रहे हैं!"

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

विक्रमादित्य मोटवानी ने हाल ही में स्टार्स की स्टारडम पर बात करते हुए कहा कि आजकल सभी सीनियर एक्टर्स बहुत ही शानदार काम कर रहे हैं। अगर किसी को खुद पर काम करने की ज़रूरत है तो वो हैं ऋतिक रोशन। 

इतना ही नहीं, अगर नई जेनरेशन के एक्टर्स की भी बात की जाए तो रणवीर सिंह और रणबीर कपूर भी बेहतरीन काम कर रहे हैं। लेकिन ऋतिक को फिलहाल अपनी इस कला पर काम करने की ज़रूरत है।

vikramaditya-motwane-talks-about-experiments-cinema

वहीं फिल्मों के टिकट प्राइस पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि लोग केवल पैसा वसूल फिल्में देखने के लिए 350 - 400 रूपये खर्च करते हैं। इसलिए मल्टीप्लेक्स में लगी बाकी फिल्में नुकसान उठाती हैं।

दूसरे और तीसरे ग्रेड के लोगों के इंटरटेनमेंट का ज़िम्मा भाई के पास है। ऐसे में हमें पता होना चाहिए कि हम किस ग्रेड की जनता के लिए फिल्में बना रहे हैं। तो काम आसान हो जाता है। हर फिल्म हर कोई नहीं देख सकता।

ट्रैप्ड में राजकुमार राव ने शानदार काम किया है। इतना ही नहीं, जब वो बॉलीवुड में आए थे तो सबसे पहले उनकी तुलना अजय देवगन से की गई थी। जानिए क्यों -
 

लिमिटेड एडिशन

लिमिटेड एडिशन

राजकुमार राव में हर वो गुण है जो 10 साल बाद उन्हें एक बेहतरीन सुपरस्टार बना सकता है। सबसे दिलचस्प ये है कि ये सारे गुण आज से 20 साल पहले अजय देवगन में भी थे जब उन्होंने अपने करियर की शुरूआत की।

नेशनल अवार्ड

नेशनल अवार्ड

राजकुमार राव ने डेब्यू किया था लव सेक्स और धोखा। इसके बाद वो कई फिल्मों में दिखे लेकिन पहचान मिली पहले नेशनल अवार्ड से जो उन्हें शाहिद के लिए मिला! इसके लिए किस्मत नहीं हुनर चाहिए जो राजुकमार राव के पास है। शाहिद बॉलीवुड की बेहतरीन फिल्मों में से एक है। और इसमें कोई दो राय नहीं है।

 दो नेशनल अवार्ड

दो नेशनल अवार्ड

वहीं अजय देवगन ने भले ही अपना डेब्यू 1991 में किया था लेकिन 1998 में ज़ख्म और 2001 में द लेजेंड ऑफ भगत सिंह के लिए वो दो नेशनल अवार्ड जीत चुके हैं।

हर तरह के रोल

हर तरह के रोल

दोनों ही एक्टर ने हर तरह के रोल किए हैं। जहां राजकुमार राव ने डॉली की डोली और क्वीन में कॉमेडी का पुट डाला तो वहीं हमारी अधूरी कहानी में निगेटिव किरदार में भी नज़र आए।

हर फील्ड में महारत

हर फील्ड में महारत

अजय देवगन ने भी हर फील्ड में महारत हासिल की है। कॉमेडी, एक्शन, ड्रामा, सस्पेंस, निगेटिव इमेज।

सीरियस इमेज

सीरियस इमेज

दोनों ही एक्टर अपनी सीरियस इमेज के साथ बेहतरीन लगते हैं। चाहे वो काई पो छे हो या फिर सिटीलाइट्स। वहीं अजय देवगन का तो काम ही है इंटेंस रोल में जान डालना।

रोमांस के बिना भी सुपरहिट

रोमांस के बिना भी सुपरहिट

बॉलीवुड में रोमांस के बिना सुपरहिट होना बहुत ही बड़ी बात है और ये दोनों ही स्टार इस चुनौती पर पूरी तरह खरे उतरते हैं। बिना रोमांस के पूरी फिल्म अपने कंधों पर खींचना के लिए माद्दा चाहिए।

आम आदमी इमेज

आम आदमी इमेज

दोनों ही स्टार्स आम आदमी इमेज में बेहतरीन लगे हैं। राजकुमार राव ने सिटीलाइट्स, शाहिद, काई पो छे, सबमें आम आदमी का किरदार निभाया है। वहीं अजय देवगन ने दृश्यम और गंगाजल जैसी फिल्मों से आम आदमी की परिभाषा ही बदल डाली।

नो डांस प्लीज़

नो डांस प्लीज़

दोनों ही स्टार को डांस मत करवाना कभी। क्योंकि कर तो ये सब लेते हैं, लेकिन देखने वाले के लिए कॉमेडी हो जाता है।

टैलेंट का पिटारा

टैलेंट का पिटारा

देखा जाए तो ये दोनों ही एक्टर टैलेंट का पिटारा हैं और यही वजह के बॉलीवुड की बेस्ट कहानियां इनकी झोली में आ गिरती हैं। चाहे वो अलीगढ़ हो या फिर शाहिद। वहीं इतिहास गवाह है कि बॉलीवुड में कोई दूसरा एक्टर वो नहीं कर सकता जो अजय देवगन ने द लेजेंड ऑफ भगत सिंह में किया है।

छोटा बजट बड़ा धमाका

छोटा बजट बड़ा धमाका

इन दोनों ही एक्टर ने हमेशा छोटे छोटे बजट में बड़े धमाके किए हैं और यही कारण है कि इनके फैन्स इनके मुरीद हैं।

फिल्म से सुपरस्टार

फिल्म से सुपरस्टार

कुल मिलाकर कहा जाए तो राजकुमार राव अपनी फिल्मों के दम पर स्टार हैं। अपने अभिनय से एक स्टार हैं। और उनका ट्रैक रिकॉर्ड यही कहता है कि बॉलीवुड में अगर अजय देवगन की गद्दी कोई संभालेगा तो वो राजुकमार राव होंगे!

English summary
Vikramaditya Motwane talks about experiments in cinema.
Please Wait while comments are loading...