For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    बजट 2019: विकी कौशल के 'उरी' की तारीफ- वित्त मंत्री ने PIRACY पर कही बड़ी बात

    |

    विकी कौशल स्टारर फिल्म 'उरी' देश भर में छाई हुई है। इतना कि संसद भवन में बजट भाषण के दौरान भी वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने फिल्म की तारीफ की। उन्होंने कहा, हम उरी देखने गए थे और हॉल के अंदर जो जोश था, वह देखने लायक था। इस जिक्र के साथ ही संसद भवन में How's The Josh के नारे गूंजने लगे। यहां तक की स्क्रीन पर कई बार संसद में बैठे परेश रावल (बीजेपी सांसद) को भी दिखाया गया।

    Celebs Review: 'एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा'Celebs Review: 'एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा'

    बता दें, परेश रावल फिल्म उरी में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल की भूमिका निभाई है। इतना ही नहीं, पीयूष गोयल ने पायरेसी के खिलाफ कड़ा कदम उठाने की भी बात की।

    मनोरंजन जगत के लिए बजट में क्या प्रवाधान किए गए हैं, इसकी जानकारी सदन को देते हुए पीयूष गोयल ने कहा, मनोरंजन जगत से कई लोगों को रोजगार मिलता है और हम सभी फिल्में देखते हैं। फिल्म बनाने वालों की सुविधा के लिए सरकार ने सिंगल विंडों क्लीयरेंस का प्रावधान किया है। ताकि इस उद्योग को आगे बढ़ाया जा सके। साथ ही सरकार पायरेसी के खिलाफ भी कई कदम उठा रही है।

    गौरतलब है कि 2018 से अब तक लगभग हर रिलीज फिल्म पायरेसी का शिकार बनी है। रिलीज होते ही या रिलीज से पहले ही फिल्में ऑनलाइन उपलब्ध हो जा रही है, जिससे फिल्म की कमाई को नुकसान भी पहुंचता है।

    तमिलरॉकर्स कर रही है फिल्में लीक

    तमिलरॉकर्स कर रही है फिल्में लीक

    देखा जाए तो अब हर रिलीज हुई फिल्में, एक या दो दिनों में ऑनलाइन उपलब्ध हो जाती है और धड़ल्ले से डाउनलोड भी की जाती है। और इसके पीछे सिर्फ एक ही नाम है- तमिलरॉकर्स (TamilRockers)

    क्या है तमिलरॉकर्स

    क्या है तमिलरॉकर्स

    तमिलरॉकर्स एक टॉरेंट वेबसाइट है, जो गैरकानूनी तरीके से बॉलीवुड, टॉलीवुड, हॉलीवुड फिल्मों को डाउनलोड करने के लिए ऑनलाउन उपलब्ध कराती है। 2018 से अब तक लगभग सभी फिल्में इस वेबसाइट पर लीक हो चुकी है।

    फ्री इंटरनेट के साथ बढ़ती पायरेसी

    फ्री इंटरनेट के साथ बढ़ती पायरेसी

    सिर्फ गाने या ट्रेलर ही नहीं.. अब लोग पूरी की पूरी फिल्म भी फोन पर ही देख डालते हैं। क्योंकि रिलीज के साथ ही फिल्म इंटरनेट पर भी उपलब्ध हो जाती है। जिसे लोग कार, ट्रेन, बस या चलते चलते ही देख लेते हैं।

    मंहगी टिकट

    मंहगी टिकट

    पायरेसी का बढ़ता कारण टिकट के बढ़ते दाम भी है। छोटे बजट की फिल्मों के टिकट बड़े शहरों में 150-200 रूपए, जबकि बड़ी फिल्म के टिकट 300 रूपए तक में मिलते हैं। काफी लोग हर शुक्रवार 300 रूपए फिल्म पर खर्च नहीं कर सकते। जिस वजह से वे डाउनलोड करने की ताक में रहते हैं।

    फिल्में क्लैश भी हैं कारण

    फिल्में क्लैश भी हैं कारण

    अब एक साथ दो बड़ी फिल्में रिलीज होंगी.. तो कितने ही लोग दोनों फिल्में थियेटर में देख पाएंगे। मनोरंजन के लिए एक बार में 500 या 600 रूपए खर्च कर पाना.. आज भी आम आदमी के लिए काफी बड़ी बात है। लिहाजा, एक फिल्म थियेटर.. तो एक फिल्म इंटरनेट से डाउनलोड.. फिल्म निर्माताओं को भी यह बात समझनी पड़ेगी।

    पाइरेसी क्राइम है

    पाइरेसी क्राइम है

    बता दें, भारतीय कानून के तहत पाइरेसी अपराध है।हर फिल्म रिलीज होने से पहले आजकल एक्टर्स, डाइरेक्टर्स लोगों से विनती करते हैं कि कृप्या फिल्म थियेटर में जाकर ही देंखे। लेकिन पाइरेसी का जाल बढ़ता जा रहा है। लिहाजा, इस पर लगाम कसना जरूरी हो चुका है।

    English summary
    Vicky Kaushal's film Uri finds a mention in Budget 2019 speech, steps will be taken to fight piracy.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X