»   » #TripleTalaq..एक सुपरहिट फिल्म..ऐसा नाम..बर्बाद हो जाती औरतों की जिंदगी..

#TripleTalaq..एक सुपरहिट फिल्म..ऐसा नाम..बर्बाद हो जाती औरतों की जिंदगी..

Written By: Utkarsh
Subscribe to Filmibeat Hindi

हाल ही में तीन तलाक को सुप्रीम कोर्ट ने असंवैधानिक करार दे दिया है। तीन तलाक से न जाने कितने घर बर्बाद हुए, जो अब आगे नहीं होगा। तीन तलाक पर एक फिल्म भी बनी थी। ये फिल्म उस दौर की सुपर-डुपर हिट फिल्म थी। इस फिल्म में तीन तलाक से पीड़िता औरत की दुर्दशा दिखाई गई थी। वहीं ये फिल्म जहां सामाजिक सुधार पर बनी थी। वहीं इसका नाम मुस्लिम औरतों की जिंदगी बर्बाद करने के लिए काफी था।

[दो धमाकेदार फिल्मों का CLASH.. खान सुपरस्टार ने कहा- मुझे कोई टेंशन नहीं है....]

हम बात कर रहे हैं सुपरहिट फिल्म निकाह की। निकाह एक मुस्लिम औरत की कहानी थी। जिसे पति तीन तलाक देकर दुर्दशा होने के लिए छोड़ देता है। इसके बाद ये फिल्म तलाक की ऐसी व्यवस्था पर कड़े सवाल उठाती है। वहीं इस फिल्म का नाम पहले इतना खतरनाक था कि मजह नाम से ही कई मुस्लिम महिलाओं की जिंदगी बर्बाद हो जाती।

triple-talaq-verdict-bollywood-film-nikaah-connection

निकाह फिल्म का नाम पहले मेकर्स ने 'तलाक तलाक तलाक' रखा था। जाहिर है फिल्म का नाम लेते ही कई मुस्लिम महिलाओं को तलाक दे दिया जाता। ऐसे में ये बात एक शख्स के दिमाग में आई और उसने सभी को फिल्म का नाम बदले के लिए बड़े ही फिल्मी तरीके से राजी किया। आगे जाने फिल्म के नाम की फिल्मी कहानी और जानें इस सुपरहिट फिल्म के बारे में और बातें-

फिल्म का नाम

फिल्म का नाम

1982 में आई फिल्म 'निकाह' का नाम पहले 'तलाक तलाक तलाक' था। इस नाम के परिणामों के बारे में न तो मेकर्स को पता था नहीं निर्देशक को।

[प्रसून जोशी के पास आई सर्टिफिकेट के लिए पहली फिल्म..हो गई बैन]

इस मुद्दे पर थी फिल्म

इस मुद्दे पर थी फिल्म

मशहूर प्रोड्यूसर-डायरेक्टर बीआर चोपड़ा ने मुस्लिम समाज के 'तीन तलाक' के मुद्दे को लेकर पहले 'तलाक तलाक तलाक' नाम से फिल्म बनाई।

शरिया कानून

शरिया कानून

यह फिल्म शरिया कानून पर बेस्ड है। फिल्म में राज बब्बर, दीपक पराशर और सलमा आगा ने लीड रोल निभाया था। इनके अलावा असरानी और इफ्तेखार भी थे।

हुआ कुछ यूं

हुआ कुछ यूं

फिल्म की शूटिंग शुरू हुई। एक दिन बीआर चोपड़ा अपने एक दोस्त के साथ बैठे हुए थे तो इसी फिल्म का जिक्र चल रहा था। तभी उनके दोस्त ने फिल्म के टाइटल के बारे में पूछा तो बीआर चोपड़ा ने बताया 'तलाक तलाक तलाक'।

हो जाएंगे कितने तलाक

हो जाएंगे कितने तलाक

ये सुनकर चोपड़ा साहब का दोस्त चौंक गया और उसने पूछा- कोई मुस्लिम शख्स ये फिल्म देखकर घर पहुंचा और उसकी बीवी ने फिल्म का नाम पूछ लिया तो पति कहेगा- 'तलाक तलाक तलाक'। ऐसे में तो समाज में बवाल हो जाएगा और ना जाने कितनी औरतों का तलाक तो ऐसे ही हो जाएगा।

फिर बदला नाम

फिर बदला नाम

ये सुनकर चोपड़ा साहब भी चौंक गए और उन्होंने फैसला किया कि इस फिल्म का नाम बदला जाएगा। काफी खोजबीन और चर्चा के इस फिल्म का नाम 'निकाह' रखा गया।

सुपर हिट फिल्म

सुपर हिट फिल्म

फिल्म निकाह उस दौर की सबसे हिट फिल्म थी। इस फिल्म ने जहां कॉन्ट्रोवर्सी क्रिएट की थी वहीं लोगों ने इसे खूब पसंद भी किया था।

गजब के गाने

गजब के गाने

वहीं इस फिल्म का म्यूजिक भी लाजवाब था। जिसे लोग आज तक याद करते हैं। इस फिल्म का गाना 'दिल के अरमां आंसुओं में बह गए' किसे नहीं याद होगा।

कुछ ऐसी थी कहानी

कुछ ऐसी थी कहानी

फिल्म ‘निकाह' में हैदर (राज बब्बर) और निलोफर (सलमा आगा) कॉलेज में साथ-साथ पढ़ते हैं। निलोफर वसीम यानी (दीपक पराशर) को चाहती है। वसीम नवाब है। इसके बाद निलोफर और वसीम शादी कर लेते हैं। एक दिन गुस्से में आकर वसीम निलोफर को तीन बार 'तलाक तलाक तलाक' कह देता है, जिसके बाद शरीयत के मुताबिक निलोफर का वसीम से तलाक हो जाता है।

तलाक क्यों?

तलाक क्यों?

फिल्म 'निकाह' की कहानी मशहूर राइटर डॉ. अचला नागर ने लिखी है। दरअसल जब निकाह औरत की मर्जी के बगैर नहीं हो सकता तो फिर आखिर तलाक क्यों? ये वो सवाल था, जिसकी वजह से उन्होंने इस फिल्म की कहानी लिखी।

English summary
Triple Talaq Verdict and Bollywood film nikaah connection..know the dangerous controversy
Please Wait while comments are loading...