For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    कन्फ्यूजन का पुलिंदा है 'नो प्रॉब्लम'

    By अंकुर शर्मा
    |
    No Problem
    नाम तो है फिल्म का 'नो प्रॉब्लम' लेकिन उसमें से नो हटा दीजिये तो केवल प्रॉब्लम ही प्रॉब्लम ही नजर आयेगी। यकीन नहीं होता कि अनिल कपूर जैसा मंझा हुआ नेता ऐसी गल्ती कैसे कर सकता है? फिल्म में कहानी के नाम पर कुछ भी नहीं है अब आप यकीन कर सकते है कि बगैर कहानी के फिल्म कैसी होगी। फिल्म में अगर कुछ है तो वो है फिल्मी सितारों की भीड़। इसलिए फिल्म की शुरूआत कहां से हो रही है और कहां से अंत ये अंदाजा लगाना बेहद मुश्किल है।

    <strong>पढ़े : नो प्रॉब्लम: टिपिकल बॉलीवुड कॉमेडी </strong>पढ़े : नो प्रॉब्लम: टिपिकल बॉलीवुड कॉमेडी

    संजय दत्त, सुनील शेट्टी, शक्ति कपूर, अक्षय खन्ना, परेश रावल, मुकेश तिवारी, विश्वजीत प्रधान, सुष्मिता सेन, कंगना राणावत और नीतू चंद्रा के अलावा खुद अनिल कपूर प्रमुख भूमिका में हैं, इसके बावजूद बात बन नहीं पाई है। फिल्म में बहुत सारे दृश्यों का लॉजिक ही समझ में नहीं आता। अजीबोगरीब नाम और वेशभूषा वाले तमाम किरदार उलजलूल भंगिमाओं में कुछ ऐसे बिखरे पड़े हैं कि बहुत जल्द फिल्म उबाऊ हो जाती है। कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि अनिल कपूर का ये एक असफल प्रयास है, फिल्म कन्फ्यूजन का पुलिंदा है।

    English summary
    No Problem is no fun.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X