For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    नेहा कक्कड़ की दर्दनाक कहानी: मां-बाप नहीं करना चाहते थे पैदा, पैसों की दिक्कत,रातों जाग तय किया सफर

    |

    6 जून को नेहा कक्कड़ अपना बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। इस मौके पर नेहा कक्कड़ ने अपने संघर्ष की कहानी को संगीत के जरिए पेश किया। एक सिंगर की जुबानी उनका स्ट्रगल वीडियो यूट्यूब पर रिलीज कर दिया गया है। ऋषिकेश के गरीब परिवार में जन्मी नेहा कक्कड़ ने जन्म से लेकर सिंगर बनने के सफर को फैंस के साथ शेयर किया। ये वीडियो गाने और रेप के जरिए नेहा के परिवार, घर, परेशानी और सफलता के सफर को दिखाती है।

    इरफान खान की पत्नी सुतापा का दर्दनाक पोस्ट, 'मैं तु्म्हें छू सकती हूं'-RARE तस्वीरेंइरफान खान की पत्नी सुतापा का दर्दनाक पोस्ट, 'मैं तु्म्हें छू सकती हूं'-RARE तस्वीरें

    नेहा कक्कड़ के वीडियो में कई दर्दनाक खुलासे भी हैं। उन्होंने बताया कि वह कम पढ़े लिखे और सीधे सादे परिवार में जन्मी थीं। आर्थिक तंगी के चलते माता पिता उन्हें पैदा नहीं करना चाहते थे लेकिन गर्भ 8 हफ्ते का था जिसके चलते नेहा का जन्म हुआ। कैसे नेहा कक्कड़, सोनू का सफर जागरण में शुरू हुआ और फिर वह देश की टॉप सिंगर बन गईं।

    जन्म नहीं देना चाहते थे मां-बाप

    जन्म नहीं देना चाहते थे मां-बाप

    वीडियो की शुरुआत में घर के हालात के साथ साथ नेहा कक्कड़ ने ये भी खुलासा किया कि उनके माता पिता उन्हें जन्म नहीं देना चाहते थे। जिसका कारण आर्थिक तंगी थी। लेकिन गर्भधारण किए ज्यादा समय हो चुका था तो मां गर्भपात नहीं करवा पाई।

    जगराते में गाती थीं गाना

    जगराते में गाती थीं गाना

    4 साल की उम्र में ही नेहा कक्कड़ और उनकी बड़ी बहन सोनू कक्कड़ ने गाना गाना शुरू कर दिया था। वे दोनों जागरण में गाना गाकर आसपास के एरिया में फेमस हो गए थे। पैसों के चलते वह माता की भेंटे गाया करते थे।

    ऋषिकेश साल 1988

    ऋषिकेश साल 1988

    नेहा कक्कड़ा का संघर्ष जिस दिन वह पैदा हुईं, साल 1988 दिन 6 जून से ही शुरू हो गया था। घर के हालात ठीक नहीं थे और माता पिता कम पढ़े लिखे थे।

    पैसों नहीं होते थे और रात को रोते थे

    पैसों नहीं होते थे और रात को रोते थे

    नेहा ने बताया कि उनके घर में पैसे नहीं हुआ करते थे और परिवार रोया करता था। इस बीच नेहा का जन्म हुआ था। नेहा ने बताया था कि उनकी बहन सोनू पहले से ही जागरण में गाया करती थी और उन्हें देखते देखते वह भी सीख गई थी।

    पिता की समोसे के दुकान

    पिता की समोसे के दुकान

    नेहा कक्कड़ और सोनू कक्कड़ जागरण में गाया करते थे। ये दो छोटे बच्चे पूरी रात जागरण में जागकर घर के हालातों में मदद किया करते थे। वहीं नेहा के पिता की समोसे की दुकान थी।

    नहीं जीती थी सिंगिंग कॉम्पीटिशन

    नहीं जीती थी सिंगिंग कॉम्पीटिशन

    जागरण में गाना गाने वाली नेहा कक्कड़ ने मशहूर टीवी शोइंडियन आइडल में हिस्सा लिया था लेकिन वह ये शो नहीं जीत पाई थी। लेकिन आज वो करोड़ों लोगों का दिल जीत चुकी हैं।

    English summary
    Neha kakkar struggle story share on birthday read singar whole life in this video
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X