For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    "यदि कल सोकर उठूं और अभिनय करने लायक नहीं रहूं, तो सुसाइड कर लूंगा"

    |

    जब कभी भी बॉलीवुड के दमदार अभिनेताओं की बात होती है, तो नसीरूद्दीन शाह का नाम जरूर ही लिया जाता है। उन्होंने दशकों से फिल्म इंडस्ट्री को एक से बढ़कर एक बेहतरीन किरदार दिये हैं और यहां अपनी एक खास जगह बनाई है। हाल ही में उन्होंने आईएएनएस से इंटरव्यू के दौरान अपनी फिल्मों और अभिनय पर बातें कीं और कहा कि, मुझे लगता है कि यदि मैं कल उठूं और परफॉर्म करने लायक नहीं रहूं तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। इसके बिना मेरा जीवन क्या होगा?

    उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि इसी संदेह को पूरा करने के लिए मुझे अभी तक काम मिल रहा है। मेरे पास दर्शकों को देने के लिए कुछ है और मैं खुशनसीब हूं कि लोग मुझे देखना चाहते हैं। अच्छी बात ये है कि मैं अपने काम को पसंद भी करता हूं।'

    अभिनेता ने कहा, 'मैं जब नए आने वाले लोगों से मिलता हूं, तो मेरे पास गिरीश कर्नाड, ओम पुरी, श्याम बेनेगल, सत्यदेव दुबे जैसे उदाहरण हैं। मैं जब युवा था, ये मेरे लिए आइडल थे। जब कोई संघर्ष कर रहा होता है तो प्रोत्साहन बहुत जरूरी होता है, और इन लोगों ने हमेशा मुझे गाइड किया है।'

    मुश्किलों में भी संघर्ष जारी रखा था

    मुश्किलों में भी संघर्ष जारी रखा था

    अपने अभिनय सफर पर नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि मैंने मुश्किल दिनों में भी एक्टर बनने के लिए अपने संघर्ष को जारी रखा था इसीलिए जब मैं नए एक्टर्स और फिल्म निर्देशकों के साथ काम करता हूं तो मैं कोशिश करता हूं और कहानी को प्रोत्साहित करूं, जो बताने योग्य है।

    थियेटर से फिल्मों तक

    थियेटर से फिल्मों तक

    नसीरूद्दीन शाह उन अभिनेताओं में हैं, जिन्होंने थियेटर, टेलीविजन, फिल्म, शॉर्ट फिल्म.. यह माध्यम में शानदार काम किया है।

    फिल्मों में विवधता

    फिल्मों में विवधता

    ना सिर्फ हिंदी, बल्कि नसीरूद्दीन शाह ने तेलुगु, मलयालम, कन्नड़ और अंग्रेजी सिनेमा में भी काम किया है और तारीफ पाई है।

    फिल्मों में डेब्यू

    फिल्मों में डेब्यू

    उन्होंने साल 1975 में फिल्म निशांत के साथ बॉलीवुड में एंट्री ली और फिर बैक टू बैक फिल्मों में नजर आते गए। उन्हें जितनी सफलता कमर्शियल फिल्मों से मिली.. उतनी ही पहचान पैरेलर फिल्मों से मिली।

    अवार्ड्स

    अवार्ड्स

    अभिनेता को साल 1987 में पद्मश्री और 2003 में पद्म भूषण से नवाजा जा चुका है। वहीं, उन्हें आज तक तीन नेशनल अवार्ड और तीन फिल्मफेयर अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है।

    आर्ट फिल्मों को दी पहचान

    आर्ट फिल्मों को दी पहचान

    कहना गलत नहीं होगा कि ओम पुरी, स्मिता पाटिल, शबाना आज़मी जैसे कलाकारों के साथ नसीरूद्दीन शाह ने भी आर्ट फिल्मों को विश्व पटल पर एक खास पहचान दी है।

    28 करोड़ डोनेशन के बाद, अब सुपरस्टार अक्षय कुमार करेंगे थियेटर मालिकों की मदद- बड़ा फैसला

    English summary
    Actor Naseeruddin Shah has said that if he wakes up one day unable to act, he will ‘probably commit suicide’.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X