For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    शास्त्रीय गायक पंडित जसराज का निधन, पीएम नरेंद्र मोदी ने जताया दुख

    |

    गायिकी के रसराज, शास्त्रीय गायक, पद्म विभूषण से सम्मानित पंडित जसराज इस दुनिया को अलविदा कह गए। एक और सितारा इस मनहूस साल में डूब गया। 90 साल की उम्र में कार्डिएक अरेस्ट की वजह से पंडित जसराज निधन हो गया। पंडित जसराज ने अंतिम सांसे अमेरिका में ली। वह पिछले काफी समय से परिवार के साथ अमेरिका में ही रह रहे थे। दिग्गज शास्त्रीय गायक के जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुख व्यक्त किया।

    दृश्यम निर्देशक निशिकांत कामत का निधन, अजय देवगन से लेकर रितेश देशमुख ने दी श्रद्धांजलि

    पंडित जसराज की प्रतिभा के चलते उन्हें पद्मश्री, पद्म भूषण फिर पद्म विभूषण से सम्मानित किए गए। उनका जन्म 28 जनवरी 1930 को हरियाणा के हिसार में हुआ। उन्हें संगीत परिवार से विरासत में मिला। गायक की 4 पीढ़ियां शास्त्रीय संगीत से जुड़ी हुई हैं, उन्होंने भी परिवार की परंपरा को आगे बढ़ाया और गौरव हासिल किया। पंडित जसराज की खयाल शैली की विशेषता रही है। जिसके चलते उन्हें देश में ही नहीं विदेश में भी सम्मान हासिल हुआ।

    विरासत में मिला संगीत

    जसराज के पिता भी संगीत व गायिकी से जुड़े हुए थे जिनका नाम पंडित मोतीराम था, वह मेवाती घराने के संगीतज्ञ थे। पंडित जसराज ने छोटी सी उम्र में ही गायिकी की तालीम शुरू कर दी।

    महज 3 साल की उम्र में पिता का निधन

    जब पंडित जसराज महज तीन-चार साल के थे, उस दौरान पिता का हाथ उनके सिर से उठ गया। उन्होंने पिता व परिवार की परंपरा को आगे रखते हुए तबला फिर गायिकी सीखनी शुरू की। इसके बाद उन्होंने मेवाती घराने की विशेषता को आगे बढ़ाया।

    English summary
    Music legend Pandit Jasraj dies at 90 in america
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X