For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    महिमा चौधरी का भयंकर एक्सीडेंट, कहा- 67 ग्लास के टुकड़े मेरे चेहरे पर थे, मर रही थी, काम नहीं मिला !

    |

    सुभाष घई की फिल्म 'परदेस' से डेब्यू करने के बाद रातों रात महिमा चौधरी सुपरहिट हो गईं। शाहरूख खान के अपोजिट उनकी जोड़ी को बेहद पसंद किया गया। महिमा को बेस्ट फीमेल फिल्मफेयर डेब्यू का पुरस्कार भी मिला। लेकिन महिमा चौधरी की जिंदगी में एक दौर ऐसा भी आया जब एक भयानक एक्सीडेंट ने उनकी चेहरे के साथ करियर की भी काया पलट कर रख दी।

    खुद इसका खुलासा महिमा चौधरी ने एक इंटरव्यू में किया है। महिमा ने बताया है कि कैसे 21 साल पहले वह मौत के मुंह से वापस निकली। हादसे में उनका चेहरा बुरी तरह खराब हो गया था, ऐसे में उन्होंने खुद को फिल्मों से दूर कर लिया। क्योंकि वह फिल्म इंडस्ट्री की हकीकत से वाकिफ थीं।

    आलम ये था कि जब महिमा ने एक्सीडेंट के बाद अपना चेहरा देखा तो वह बुरी तरह से डर गई थीं। गौरतलब है कि महिमा ने साल 2006 में बॅाबी मुखर्जी से शादी की। साल 2013 में दोनों का तलाक हो गया। दोनों की बेटी अरियाना है जो कि महिमा के साथ रहती है। चलिए आपको बताते हैं कितना दर्दनाक था महिमा चौधरी का एक्सीडेंट

    21 साल पहले दिल क्या करें

    21 साल पहले दिल क्या करें

    एक एंटरटेनमेंट चैनल को दिए गए इंटरव्यू में महिमा चौधरी ने कहा कि ये आज की नहीं बल्कि 21 साल पहले की बात है जब मेरे साथ ये भयंकर हादसा हुआ था। उस दौरान मैं 1999 में अजय देवगन और काजोल के साथ दिल क्या करे की शूटिंग कर रही थी।

    एक्सीडेंट में ट्रक ने महिमा की कार को टक्कर मारी

    एक्सीडेंट में ट्रक ने महिमा की कार को टक्कर मारी

    इस पूरे एक्सीडेंट में ट्रक ने महिमा की कार को काफी तेजी से टक्कर मारी थी। उनकी गाड़ी के कांच के कई टूकड़े महिमा के चेहरे पर आकर धस गए। महिमा को लगा वो कभी नहीं बचेंगी।

    मुझे लगा मैं मर रही हूं-महिमा चौधरी

    मुझे लगा मैं मर रही हूं-महिमा चौधरी

    महिमा ने बताया कि मुझे लगा कि मैं मर रही हूं। किसी ने भी वहां पर मेरी मदद नहीं की। अस्पताल पहुंचने के बाद जब मेरी मां और अजय आए तो दोनों कुछ बातें करने लगे।

    मेरे चेहरे से 67 ग्लास के टुकड़े निकाले गए

    मेरे चेहरे से 67 ग्लास के टुकड़े निकाले गए

    इसके बाद मैं उठी और मैंने अपना चेहरा देखा। खुद को देखकर मैं बुरी तरह डर गई। इसके बाद मेरे चेहरे की सर्जरी हुई। डॅाक्टर्स ने मेरे चेहरे से कुल मिलाकर 67 ग्लास के टुकड़े निकाले।

    सर्जरी के बाद ठीक होने में लंबा समय

    सर्जरी के बाद ठीक होने में लंबा समय

    वह आगे बताती हैं कि सर्जरी के बाद मुझे ठीक होने में लंबा समय चला गया। मैं हमेशा घर के अंदर रहती थीं। बाहर धूप में जाना मना था। इस दौरान में शीशे में खुद को देखना नहीं पसंद करती।

    काम नहीं मिलेगा ये अहसास हो गया था

    काम नहीं मिलेगा ये अहसास हो गया था

    महिमा ने बताया कि उन्हें ये अहसास होना शुरू हो गया था कि अब फिल्मों में उन्हें कोई काम नहीं मिलेगा। वह कहती हैं कि उस वक्त किसी को ये नहीं बताया क्योंकि कोई सपोर्ट नहीं करता था। अगर मैं किसी को बताती तो वो कहते इसका चेहरा खराब हो गया है, किसी और को फिल्म में साइन कर लेते

    परिवार का साथ मिला

    परिवार का साथ मिला

    वह आगे बताती हैं कि बस, इस वजह से मैंने फिल्मों से दूरी बना ली। लोगों से छिपती रही। मुझे मेरे परिवार का साथ मिला। उन लोगों ने मुझे संभाला।

    English summary
    Mahima chaudhry revealed about her horrific accident said 67 glass pieces form my face removed
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X