For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    खुशकिस्मत हूं कि सिनेमा के बेहतरीन दौर का हिस्सा हूं: फारूख शेख

    |

    Happy time to be in films: Farooque Sheikh
    आमतौर पर बॉलीवुड से नाराज रहने वाले बहुमुखी प्रतिभा के धनी अभिनेता फारूख शेख के मुंह से पहली बार हिंदी सिनेमा के लिए कुछ अच्छी बातें निकली हैं। बेहतरीन कलाकार फारूख शेख ने कहा है कि आज का दौऱ हिंदी सिनेमा का सबसे बेहतरीन दौर है और मैं इस दौर का हिस्सा हूं, यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है। फारूख ने आज के दौर के कलाकारों की दिल से तारीफ की औऱ कहा कि आज के कलाकार काफी मेहनती हैं जिसका नतीजा है कि आज फिल्में जल्दी-जल्दी बनती हैं।

    फारूख खुद के एक सिने अभिनेता से अच्छा थियेटर कलाकार मानते हैं। उन्होंने कहा कि कोई भी अभिनेता आजीवन रंगमंच कलाकार रहकर भी एक सम्मानित जिंदगी बिता सकता है। एक रंगमंच कलाकार के रूप में मेरा मानना है कि यह प्रेम का श्रम है। आज काफी चीजें बदल चुकी हैं और पहले का दौर अब नहीं रहा। आज कोई अभिनेता एक पूर्वकालिक

    रंगमंच कलाकार के रूप में काम कर सकता है और सम्मानित जिंदगी जी सकता है। मुझे लगता है कि आखिरकार सकारात्मक बदलाव आ रहा है।"

    फारूख 30 सालों से सिनेमा जगत में काम कर रहे हैं। उन्होंने 'नूरी' 'साथ-साथ' 'उमराव जान' 'बाजार' 'कथा' और 'बीवी हो तो ऐसी' फिल्मों में काम किया है। उन्होंने कहा कि सिनेमा इस समय अपने सबसे अच्छे दौर में है।

    मालूम हो कि इससे पहले फारूख शेख ने कहा था कि उन्हें सही रूप से हिंदी सिनेमा के लोगों ने नहीं लिया नहीं तो आज उनका करियर नासिरूद्दीन शाह से बढि़या होता। उन्हें जितनी इज्जत बॉलीवुड में मिली उससे कहीं ज्यादा के वह हकदार थे।

    English summary
    Veteran actor Farooque Sheikh praises changes in the film industry and the theatre world. He says this is a happy time to be in the movie business and adds that one can lead a respectable life by being a full time theatre artist.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X