For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    गुलशन कुमार मर्डर केस- बॉम्बे HC ने अब्दुल रऊफ की उम्रकैद की सजा को रखा बरकरार, गोलियों से भूनकर की थी हत्या

    |

    गुलशन कुमार मर्डर केस मामले में गुरुवार को बॉम्बे हाईकोर्ट ने दोषी अब्दुल रऊफ मर्चेंट की याचिका खारिज कर दी। अदालत ने मुंबई सेशन कोर्ट की ओर से रऊफ को सुनाई गई उम्रकैद की सजा को बरकरार रखा है। 12 अगस्त 1997 को मुंबई के साउथ अंधेरी इलाके में जीतेश्वर महादेव मंदिर के बाहर गुलशन कुमार की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी।

    हाईकोर्ट ने साफ कहा है कि अब्दुल रऊफ किसी तरह की उदारता का हकदार नहीं है क्योंकि वह पहले भी पैरोल के बहाने बांग्लादेश भाग गया था।

    अदालत ने इस मामले में रमेश तौरानी को बरी कर दिया है। उनपर हत्या के लिए उकसाने का आरोप था। उसके बरी होने पर महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि तौरानी को बरी करने के खिलाफ वे फिर से अदालत में अपील करेंगे।

    अक्षय कुमार की 'बेल बॉटम' को लेकर थियेटर और ओटीटी में खींचतान, मिला 30 करोड़ का ऑफर?अक्षय कुमार की 'बेल बॉटम' को लेकर थियेटर और ओटीटी में खींचतान, मिला 30 करोड़ का ऑफर?

    बता दें, मर्चेंट को गुलशन कुमार हत्या के केस में कोर्ट ने दोषी ठहराया था। अप्रैल 2002 में उसे उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। 2009 में उसे बीमार मां से मिलने के लिए पैरोल मिली थी। इसी दौरान वह बांग्लादेश भाग गया था।भारत-बांग्लादेश सीमा से फिर से गिरफ्तारी के बाद रऊफ मर्चेंट को साल 2016 में एक सत्र अदालत ने मुंबई के आर्थर रोड जेल भेज दिया था।

    रखी टी-सीरीज की नींव

    रखी टी-सीरीज की नींव

    गौरतलब है कि, 80 के दशक में टी-सीरीज नाम की एक म्यूजिक कंपनी की नींव रखी गई। जो आगे चलकर देश की सबसे बड़ी म्यूजिक कंपनी बनी।महज 10 साल में ही गुलशन कुमार ने टी सीरिज के बिजनेस को 350 मिलियन तक पहुंचाया था। उन्होंने कई गायकों को लॉन्च किया। एक समय पर वह 'कैसेट किंग' के नाम से मशहूर थे।

    मंदिर के बाहर गोलियों से भूनकर कर दी थी हत्या

    मंदिर के बाहर गोलियों से भूनकर कर दी थी हत्या

    12 अगस्त 1997 को मुंबई के साउथ अंधेरी इलाके में स्थित जीतेश्वर महादेव मंदिर के बाहर गोली मारकर गुलशन की हत्या कर दी गई थी। जांच में सामने आया था कि अबु सलेम ने सिंगर गुलशन कुमार से 10 करोड़ रुपये देने के लिए कहा था। गुलशन कुमार ने मना करते हुए कहा था कि इतने रुपए देकर वै वैष्णो देवी में भंडारा कराएंगे। इस बात से नाराज सलेम ने शूटर राजा के जरिए गुलशन कुमार का मर्डर करवा दिया था।

    दो शॉर्प शूटर्स ने दिया था हत्या को अंजाम

    दो शॉर्प शूटर्स ने दिया था हत्या को अंजाम

    अबू सलेम ने गुलशन कुमार को मारने की जिम्मेदारी दाऊद मर्चेंट और विनोद जगताप नाम के दो शार्प शूटरों को दी थी। 9 जनवरी 2001 को विनोद जगताप ने कुबूल किया कि उसने ही गुलशन कुमार को गोली मारी थी।

    16 गोलियों से उन्हें छलनी कर दिया

    16 गोलियों से उन्हें छलनी कर दिया

    गुलशन कुमार मंदिर में बिना बॉडीगार्ड के पूजा के लिए जा रहे थे। इसी दौरान मंदिर के बाहर तीन हमलावरों ने एक के बाद एक 16 गोलियों से उन्हें छलनी कर दिया था। उनके ड्राइवर ने उन्हें बचाने की कोशिश की तो शूटर्स ने उसे भी गोली मार दी। गुलशन कुमार को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो चुकी थी।

    English summary
    The Bombay High Court on Thursday upheld the conviction of Abdul Rauf Merchant, aide of gangster Dawood Ibrahim, in the murder case of Gulshan Kumar, founder of T-series.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X