For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    मोदी सरकार ने PIRACY के खिलाफ कसा लगाम- होगी 3 साल की जेल और 10 लाख जुर्माना

    |

    आखिरकार मोदी सरकार ने फिल्म इंडस्ट्री के एक बड़ी समस्या पर लगाम कसने की कोशिश की है। जी हां, फिल्म की पायरेसी को रोकने के लिए कैबिनेट ने सिनेमैटोग्राफी एक्ट 1952 में बदलाव को अपनी मंजूरी दे दी है। अंधाधुन हो रही फिल्म की पायरेसी को रोकने के लिए ही सरकार ने यह कदम उठाया है। इसमें दोषी पाए व्यक्ति को 3 साल जेल और 10 लाख जुर्माना की सजा हो सकती है।

    'दबंग 3' के बाद- इस एक्शन कॉमेडी फिल्म में फाइनल सलमान खान'दबंग 3' के बाद- इस एक्शन कॉमेडी फिल्म में फाइनल सलमान खान

    केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को कैबिनेट के इस फैसले की जानकारी दी। Cinematograph Act 1957 में एक संशोधन जोड़ते हुए निर्माता की लिखित अनुमति के बिना किसी भी फिल्म को रिकॉर्ड करने पर इसे कानून का उल्लंघन माना जाएगा।

    इससे पहले केंद्रीय वित्तमंत्री पीयूष गोयल ने भी शुक्रवार को अंतरिम बजट में पायरेसी (नकल) पर नियंत्रण के लिए सरकार द्वारा सिनेमैटोग्राफी एक्ट में एंटी कैमकॉर्डिग प्रावधान को शामिल किए जाने की घोषणा की थी।

    2.0 से लेकर मणिकर्णिका तक, सभी फिल्में ऑनलाइन लीक- यहां जानें क्या है TamilRockers2.0 से लेकर मणिकर्णिका तक, सभी फिल्में ऑनलाइन लीक- यहां जानें क्या है TamilRockers

    गौरतलब है कि 2018 से अब तक लगभग हर रिलीज फिल्म पायरेसी का शिकार बनी है। रिलीज होते ही या रिलीज से पहले ही फिल्में ऑनलाइन उपलब्ध हो जा रही है, जिससे फिल्म की कमाई को नुकसान भी पहुंचता है।

    एक्ट में बदलाव

    एक्ट में बदलाव

    एक्ट के 6 एए में एक नई धारा जोड़ी जाएगी। इसके बाद किसी भी फिल्म को बिना प्रोड्यूसर या कंपनी की अनुमति के रिकॉर्ड करना जुर्म होगा। ऐसा करने पर संबंधित आरोपित को 3 साल की कैद या 10 लाख रुपए तक का जुर्माना या दोनों सजा का प्रावधान होगा।

    तमिलरॉकर्स कर रही है फिल्में लीक

    तमिलरॉकर्स कर रही है फिल्में लीक

    देखा जाए तो अब हर रिलीज हुई फिल्में, एक या दो दिनों में ऑनलाइन उपलब्ध हो जाती है और धड़ल्ले से डाउनलोड भी की जाती है। और इसके पीछे सिर्फ एक ही नाम है- तमिलरॉकर्स (TamilRockers)

    फ्री इंटरनेट के साथ बढ़ती पायरेसी

    फ्री इंटरनेट के साथ बढ़ती पायरेसी

    सिर्फ गाने या ट्रेलर ही नहीं.. अब लोग पूरी की पूरी फिल्म भी फोन पर ही देख डालते हैं। क्योंकि रिलीज के साथ ही फिल्म इंटरनेट पर भी उपलब्ध हो जाती है। जिसे लोग कार, ट्रेन, बस या चलते चलते ही देख लेते हैं।

    मंहगी टिकट

    मंहगी टिकट

    पायरेसी का बढ़ता कारण टिकट के बढ़ते दाम भी है। छोटे बजट की फिल्मों के टिकट बड़े शहरों में 150-200 रूपए, जबकि बड़ी फिल्म के टिकट 300 रूपए तक में मिलते हैं। काफी लोग हर शुक्रवार 300 रूपए फिल्म पर खर्च नहीं कर सकते। जिस वजह से वे डाउनलोड करने की ताक में रहते हैं।

    पाइरेसी क्राइम है

    पाइरेसी क्राइम है

    बता दें, भारतीय कानून के तहत पाइरेसी अपराध है।हर फिल्म रिलीज होने से पहले आजकल एक्टर्स, डाइरेक्टर्स लोगों से विनती करते हैं कि कृप्या फिल्म थियेटर में जाकर ही देंखे। लेकिन पाइरेसी का जाल बढ़ता जा रहा है। लिहाजा, इस पर लगाम कसना जरूरी हो चुका है।

    क्या है तमिलरॉकर्स

    क्या है तमिलरॉकर्स

    तमिलरॉकर्स एक टॉरेंट वेबसाइट है, जो गैरकानूनी तरीके से बॉलीवुड, टॉलीवुड, हॉलीवुड फिल्मों को डाउनलोड करने के लिए ऑनलाउन उपलब्ध कराती है। 2018 से अब तक लगभग सभी फिल्में इस वेबसाइट पर लीक हो चुकी है।

    English summary
    The Union Cabinet on Wednesday approved amendments to the Cinematograph Act for imposing strict penalties to combat the menace of film piracy.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X