For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सलमान खान के 400 करोड़ को JHATKA....पूरे 400 करोड़ का LOSS!

    |

    सलमान खान बॉलीवुड बॉक्स ऑफिस को 2017 में शानदार अंत देने वाले थे। माना जा रहा था कि फिल्म कम से कम 350 से 400 करोड़ कमाएगी और बॉलीवुड में बॉक्स ऑफिस का सूखा खत्म होगा।

    वहीं दूसरी तरफ, 2018 में अक्षय कुमार की धमाकेदार ओपनिंग और फिर पद्मावती की रिलीज़ के बाद, ओपनिंग में ही बॉक्स ऑफिस कम से कम 600 करोड़ की कमाई के साथ धमाकेदार शुरूआत कर देगा।

    लेकिन अब पद्मावती की रिलीज़ मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन लग रही है। राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात के बाद अब बिहार ने भी पद्मावती पर बैन लगा दिया है।

    bihar-bans-padmavati-not-releasing-anytime-soon

    ऐसे में फिल्म को कितना नुकसान होगा इसका अंदाज़ा लगाया जा सकता है। जहां एक तरफ, 2017 में सलमान अच्छी खासी टाईगर कमाई देंगे वहीं, पद्मावती लगभग उतनी ही कमाई खो देगी।

    फिल्म को रिलीज़ करने की हर कोशिश बेकार जा रही है।वैसे कई लोगों ने माना था कि फिल्म बाहुबली को टक्कर देगी। लेकिन फिलहाल तो फिल्म को लेकर कंट्रोवर्सी ही खत्म नहीं हो पा रही है।

    हालांकि भंसाली के समर्थन में काफी लोग उतर चुके हैं। माना जा रहा है कि ये फिल्म, बॉलीवुड का बाहुबली को जवाब हो सकता है। लेकिन दुखद है कि फिल्म विवादों के कारण रिलीज़ नहीं हो पा रही है।

    चरम पर है प्रोटेस्ट

    चरम पर है प्रोटेस्ट

    फिल्म को लेकर हर जगह विरोध चरम पर है। कोई नहीं चाहता कि फिल्म रिलीज़ हो और इसके लिए हर संभव कोशिश की जा रही है। फिल्म को लेकर विद्रोह, जब से फिल्म बन रही है, तब से है।

    काट देंगे दीपिका की नाक, भंसाली का सर काटने पर इनाम

    काट देंगे दीपिका की नाक, भंसाली का सर काटने पर इनाम

    फिल्म को लेकर विद्रोह अपनी जगह है लेकिन कर्णी सेना ने धमकी दी है कि अगर फिल्म रिलीज़ हुई तो वो दीपिका पादुकोण की नाक काट देंगे क्योंकि भगवान राम ने भी धर्म की रक्षा के लिए शूर्पणखा की नाक काटी थी। वहीं भंसाली का सर काटकर देने वाले पर भी ईनाम रखा गया है।

    सबने दिया है समर्थन

    सबने दिया है समर्थन

    पद्मावती के समर्थन में अब लोग उतर रहे हैं। बूंदी की महारानी ने स्पष्ट किया कि जब भंसाली ने आश्वासन दे दिया है तो वो बिना फिल्म देखे, उसका विरोध नहीं करेंगी।

    डायेरक्टर्स एसोसिएशन ने दिया साथ

    डायेरक्टर्स एसोसिएशन ने दिया साथ

    डायरेक्टर सुधीर मिश्रा ने साफ कहा कि अभी तक किसी ने फिल्म देखी नहीं है और जब संजय लीला भंसाली खुद कह रहे हैं कि उड़ रही बातें सिर्फ अफवाहें हैं तो विरोध किसका हो रहा हैं?

    संजय का अपमान गलत

    संजय का अपमान गलत

    डायरेक्टर्स एसोसिएशन का कहना है कि संजय लीला भंसाली के साथ ऐसा बर्ताव किया जा रहा है कि उस इंसान के पास बुद्धि ना हो। ये सरासर गलत है।

    पूरे बॉलीवुड पर हमला

    पूरे बॉलीवुड पर हमला

    संजय पर अटैक करना, पूरी इंडस्ट्री पर अटैक करने के बराबर है। आज उन पर हो रहा है, कल को किसी पर भी हो सकता है।

    हम दुखी हैं

    हम दुखी हैं

    डायरेक्टर पर अटैक करना कहां की सभ्यता है? अगर हमारे पास फिल्म बनाने की छूट नहीं है तो ये कैसी आज़ादी है?

    प्राइवेट सेंसरशिप गलत है

    प्राइवेट सेंसरशिप गलत है

    हम इस तरह की प्राइवेट सेंसरशिप नहीं मानते। मैंने संजय के साथ काम किया है और वो बहुत ज़िम्मेदारी के साथ फिल्में बनाते हैं। अगर कुछ गलत है भी तो आप मीडिया में बोलिए। ये मारना पीटना कहां की सभ्यता है? - विक्रम गोखले

    क्यों बनाए फिल्में

    क्यों बनाए फिल्में

    अब अगर फिल्में भी पूछकर बनानी पड़े तो ज़रूरत ही क्या है। हम क्रिएटिव लोग हैं। इस तरह का बर्ताव डिज़र्व नहीं करते हैं। ये बिल्कुल गलत है।

    एकदम स्पष्ट बयान

    एकदम स्पष्ट बयान

    संजय लीला भंसाली ने एक वीडियो के माध्यम से स्पष्ट कहा कि मैंने ये फिल्म बहुत ही ज़िम्मेदारी और ईमानदारी से बनाई है। फिल्म में ऐसा कोई ड्रीम सीक्वंस नहीं हैं जिसकी बात की जा रही है। इतना ही नहीं, फिल्म में पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच ऐसा कोई सीन नहीं है जो किसी की मान मर्यादा को ठेस पहुंचाए।

    एक ड्रीम सीक्वंस का विवाद

    एक ड्रीम सीक्वंस का विवाद

    संजय लीला भंसाली की पद्मावती लगातार विवादों का मुद्दा बनी हुई है। विवाद केवल एक अफवाह है जिसके अनुसार, पद्मावती में अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मावती के बीच एक इंटिमेट सीन है जो कि ड्रीम सीक्वंस है।
    बस जबसे ये खबर फैली, तब से लोग संजय लीला भंसाली के पीछे पड़ गए। उन्हें मारा गया। उनके सेट जलाए गए और संजय लीला भंसाली ने लिखित दिया कि ये खबर गलत है।

    आखिरी बात

    आखिरी बात

    मैंने राजपूत मान - मर्यादा का पूरा ख्याल रखते हुए ये फिल्म बनाई है। मैं हमेशा से पद्मावती की कहानी से प्रभावित रहा हूं। और ये फिल्म उनके आत्मसम्मान, हिम्मत और बलिदान के लिए बनाई गई है। - संजय लीला भंसाली

    English summary
    Bihar bans Padmavati, not releasing anytime soon.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X