For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सेंसर बोर्ड की 'तानाशाही' पर अनुराग कश्यप करेंगे अरूण जेटली से 'सीधी बात'

    |

    कहते हैं कि किसी को दबाना उतना ही चाहिए जितना सामने वाला सह सके। नए सेंसर बोर्ड के नए नियमों पर अब तक बॉलीवुड धीरे धीरे गरम हो रहा था लेकिन NH 10 की गालियों पर आपत्ति जताते ही फिल्म के को प्रोड्यूसर अनुराग कश्यप का सब्र टूट चुका है।

    वो सेंसर बोर्ड की इस तानाशाही को कुबूल करने के मूड में बिल्कुल नहीं दिख रहे हैं और उन्होंने सीधा सूचना एवं प्रसारण मंत्री अरूण जेटली से इस बाबत मुलाकात करने का मन बना लिया है। वहीं सूत्रों के अनुसार अनुराग का साथ कई प्रोड्यूसर देंगे जिनमें एकता कपूर भी शामिल हैं।

    गौरतलब है कि इंडस्ट्री के एक बहुत बड़ा वर्ग सेंसर बोर्ड की तरफ से जारी बैन शब्दों की सूची और अन्य चीज़ों के खिलाफ था। उनका मानना है कि फिल्मों के लिए A सर्टिफिकेट इसीलिए होता है कि ऐसी चीज़ें एक आयु के बाद लोगों की समझ के साथ सामंजस्य बैठैा सकती हैं। जब उन्हें A सर्टिफिकेट से गुरेज नहीं है तो सेंसर अपनी तानाशाही नहीं चला सकता।

    ALSO SEE PICS: NH10 की एंग्री यंग वूमन अनुष्का शर्मा

    इंडस्ट्री में हर वर्ग के लिए फिल्में बनती हैं और ये अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हनन है। वहीं अनुराग कश्यप पहले ही सूचना एवं प्रसारण मंत्री (राज्य) राज्यवर्धन सिंह राठौर से मिल चुके हैं और अब वो प्रोड्यूसर के एक दल के साथ सीधा मंत्री अरूण जेटली से मुलाकात करेंगे।

    वहीं इधर बॉलीवुड के भड़के तेवर देखकर सेंसर बोर्ड अध्यक्ष पहलाज़ निहलानी ने बाकी बोर्ड सदस्यों के हस्तक्षेप के बाद इस सूची पर फिलहाल रोक लगाते हुए इस पर पुनर्विचार करने का मन बना लिया है।

    English summary
    Anurag Kashyap, who had recently met junior minister Rajyavardhan Rathore to talk about the ban, is now planning to meet I&B Minister Arun Jaitley over Censor Board's cuss words list.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X