For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

बोले बच्चन..शाहरुख, सलमान, आमिर ने दी बॉलीवुड को निराली पहचान

|

पिछले शुक्रवार को रिलीज हुई फिल्म भूतनाथ रिटर्न्स ने अच्छी-खासी शुरूआत कर ली है। इस फिल्म के जरिये अमिताभ ने एक बार फिर से साबित कर दिया है कि वो ग्रैंड फादर बनने के बाद भी हीरोगिरी कर सकते हैं।

केवल बॉलीवुड ही नहीं हॉलीवुड में भी काम कर चुके अमिताभ बच्चन एक परिपक्क सोच के मालिक है। हाल ही में उन्होंने हिंदी सिनेमा के दर्शकों और कलाकारों के बारे में खुलकर बातचीत की।

अमिताभ ने कहा कि वह भारतीय फिल्मों की बढ़ रही पहुंच से खुश हैं

अमिताभ ने कहा कि वह भारतीय फिल्मों की बढ़ रही पहुंच से खुश हैं। उनका कहना है कि शाहरुख खान, आमिर खान और सलमान खान सरीखे सितारे विश्व स्तर पर अपनी क्षमता साकार करने और इसे दुनिया में आगे बढ़ाने का श्रेय पाने के हकदार हैं।

फिर गूंजेंगी देवियों-सज्जनों नमस्कार की आवाज, 'केबीसी 8' की शूटिंग शुरू

यकीनन सत्यजीत रे, बिमल रॉय और मृणाल सेन सरीखे फिल्मकार साथ ही साथ राज कपूर जैसे कलाकारों ने भी अपनी कलाकारी या कौशल से आगे बढ़ते हुए दुनियाभर के दिलों में अपनी जगह बनाई, लेकिन मौजूदा समय में भारतीय फिल्मों (हिंदी एवं क्षेत्रीय) की दृश्यता सबसे ऊपर दिखती है।

भारतीय फिल्में न केवल अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सवों में जगह पा रही हैं बल्कि पेरु, पनामा और मोरक्को जैसे गैर-पारंपरिक बाजारों में भी इनकी रिलीज की संख्या बढ़ रही है।

आगे की खबर स्लाइडों में...

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय सिनेमा में दिलचस्पी

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय सिनेमा में दिलचस्पी

71 वर्षीय अमिताभ बच्चन ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय सिनेमा में दिलचस्पी दिखना बहुत खुशी की बात है।

बीते समय को सोचते हुए उन्होंने कहा, "कई वर्षो पूर्व जब मैंने शुरुआत की तो उस समय आज की तरह फिल्मों की मार्केटिंग या प्रचार नहीं हुआ करता था।

हम इन बाजारों के बारे में नहीं जानते थे..हमें कभी अहसास नहीं हुआ कि बाहरी देशों के लोग एक हिंदी या कोई भी भारतीय फिल्म देखना चाहेंगे।

उन्होंने कहा, "लेकिन जब यह एक बार शुरू हुआ तो हमें इसे देख रहे लोगों की संख्या के महत्व का अहसास हुआ।"

1969 से अब तक...

1969 से अब तक...

बिग बी ने वर्ष 1969 में फिल्म 'सात हिंदुस्तानी' से फिल्मों में कदम रखा। वह 1980 और 1990 के दशक में लंदन के वेंब्ले और न्यू जर्सी में दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियम में प्रस्तुति देना याद करते हैं।

शाहरुख, सलमान, आमिर ने बढ़ाया हिंदी सिनेमा को

शाहरुख, सलमान, आमिर ने बढ़ाया हिंदी सिनेमा को

बॉलीवुड के 'एंग्री यंग मैन' के नाम से मशहूर बच्चन ने कहा "लेकिन कहीं न कहीं हमारे तुरंत बाद आई पीढ़ी के शाहरुख, सलमान, आमिर और फिल्मकार करण जौहर ने भी इस क्षमता को अंतर्राष्ट्रीय जगत में आगे बढ़ाया। इसलिए अगर आप पहचान बनाने का श्रेय देना चाहते हैं तो आपको इन लोगों को श्रेय देना चाहिए।"

'कभी खुशी कभी गम'

'कभी खुशी कभी गम'

उन्होंने कहा कि यह 'कभी खुशी कभी गम' सरीखी फिल्म की वजह से है, जो पश्चिमी जगत में एक प्रतिष्ठित फिल्म बन गई। इसने पाया कि विदेशों में भारतीय फिल्मों के लिए संभावनाएं हैं।

मेलबर्न अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव

मेलबर्न अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव

बच्चन को जुलाई के अंत में मेलबर्न अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में शामिल होना है। उन्होंने कहा, "शाहरुख जर्मनी में उतने ही लोकप्रिय हैं, जितने यहां। ऋतिक रोशन, सलमान और

आमिर को भी बराबर अनुपात में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्यार मिलता है। तो जाहिर तौर पर भारतीय सिनेमा बढ़िया चल रहा है।"

English summary
Megastar Amitabh Bachchan has travelled the world, meeting cinema icons from all over. He feels happy at the growing reach of Indian movies and says younger stars like Shah Rukh Khan, Aamir Khan and Salman Khan deserve the credit for realising their potential globally and pushing it in the world.
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more