»   » ''मेरी फिल्म सुपरहिट हुई.. लेकिन बॉक्स ऑफिस मुझे समझ नहीं आती....''

''मेरी फिल्म सुपरहिट हुई.. लेकिन बॉक्स ऑफिस मुझे समझ नहीं आती....''

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

अपने फिल्मी करियर के शुरूआत में ही तीन अलग अलग तरह फिल्में वालीं यह एक्ट्रेस एक बार फिर सबको हैरान करने एक्शन अवतार में आ रही हैं। यहां बात हो रही है कियारा आडवाणी की.. जो फिल्म एमएस धोनी से काफी पॉपुलर हो चुकी हैं। 

धोनी बॉयोपिक के बाद कियारा अब्बास- मस्तान की फिल्म 'मशीन' में अब्बास के बेटे मुस्ताफा के अपोजिट दिखने वाली हैं। यह मुस्ताफा की डेब्यू फिल्म है। लेकिन कियारा इस फिल्म को लेकर बेहद उत्साहित हैं, क्योंकि यहां उन्हें कुछ अलग करने का मौका मिला। इससे पहले कियारा को हमने कभी एक्शन अवतार में नहीं देखा है।

[फिल्म इंडस्ट्री में कोई नहीं, जो 'खान्स' के खिलाफ बोल सके- गोविंदा]

बहरहाल, फिल्म मशीन के प्रमोशन के दौरान फिल्मीबीट ने कियारा आडवाणी से कुछ खास बातचीत की। जहां उन्होंने अपनी फिल्म मशीन के साथ साथ.. अब्बास- मस्तान के साथ काम करने के अनुभव और बॉलीवुड सफर पर बातें कीं।

यहां पढ़ें इंटरव्यू के कुछ प्रमुख अंश:

एम एस धोनी ने बदली जिंदगी

एम एस धोनी ने बदली जिंदगी

आज भी जब मैं बाहर जाती हूं तो लोग पहचानते हैं.. इसी ने साक्षी धोनी का किरदार निभाया था। मैं बहुत खुश हूं। धोनी बॉयोपिक से काफी बदलाव आया है। यह सब काफी मोटिवेटिंग है। खासकर इसीलिए क्योंकि फिल्म इतनी बड़ी हिट रही है।

बॉक्स ऑफिस हिट कितना मायने रखता है

बॉक्स ऑफिस हिट कितना मायने रखता है

सच कहूं तो बॉक्स ऑफिस को लेकर मुझे ज्यादा समझ ही नहीं है। मैं बहुत खुश हूं कि धोनी ने बॉक्स ऑफिस पर इतना अच्छा कलेक्शन किया है। मैं बस इतना समझती हूं कि एक अच्छी फिल्म आपके लिए दूसरी फिल्मों का भी रास्ता खोल देती है। बहरहाल, कौन नहीं चाहता कि उनकी फिल्म बॉक्स ऑफिस हिट हो।

मुस्ताफा के साथ काम करने का अनुभव

मुस्ताफा के साथ काम करने का अनुभव

यह मुस्ताफा की डेब्यू फिल्म है। लेकिन उन्होंने मुझे अपनी एक्टिंग से बिल्कुल हैरान कर दिया। उनमें काफी कॉफिडेंस हैं.. बहुत एनर्जी है। ऐसा बिल्कुल नहीं लगता कि मुस्ताफा अपनी पहली फिल्म कर रहे हैं। मुस्ताफा बहुत मेहनती हैं।

डाइरेक्टर्स जिनके साथ काम करना चाहती हैं

डाइरेक्टर्स जिनके साथ काम करना चाहती हैं

मैंने नीरज पांडे, अब्बास मस्तान के साथ काम किया है। विशलिस्ट की बात करूं तो करण जौहर, संजय लीला भंसाली, राजकुमार हिरानी.. मैं सबके साथ काम करना चाहती हूं। मेरी लिस्ट बहुत लंबी है।

अब्बास मस्तान ने मुझे बिगाड़ दिया है

अब्बास मस्तान ने मुझे बिगाड़ दिया है

अब्बास मस्तान के साथ काम करने का अनुभव बहुत अच्छा रहा है.. यहां यूं कहूं कि बेस्ट रहा है। दोनों सेट पर काफी कूल रहते हैं और एक्टर्स को भी टेंशन नहीं देते। उन्होंने मेरी बहुत केयर की है। वो हमेशा ख्याल रखते थे कि मैं क्या खा रही हूं.. मेरे लिए कुछ ऑर्डर हुआ या नहीं। फिल्म के सेट पर हमेशा परिवार सा माहौल रहता था। मुझे नहीं पता अब किसी फिल्म के दौरान मुझे ऐसा माहौल मिल पाएगा या नहीं।

खान्स के साथ काम करना चाहूंगी

खान्स के साथ काम करना चाहूंगी

मैं किसी को एक चुन नहीं सकती। उनके साथ भला कौन काम नहीं करना चाहेगा। मुझे यदि मौका मिला तो मैं तीनों खान के साथ काम करना चाहूंगी।

बॉलीवुड में परिवारवाद (nepotism) पर आपका क्या मत है!

बॉलीवुड में परिवारवाद (nepotism) पर आपका क्या मत है!

मुझे नहीं लगता यह सही है। हां, किसी स्टार के बेटे या बेटी आने वाले होते हैं तो लोगों में उत्साह होता है। लेकिन यदि आप अच्छे एक्टर नहीं हैं तो आपकी भी अगली फिल्म फ्लॉप होगी। लोग सिर्फ इसीलिए सिनेमाघर तक नहीं आएंगे क्योंकि आप उनके फेवरिट स्टार के बेटे हो। आज के ऑडियंस बहुत स्मार्ट हैं। खैर, मैंने अभी तक ऐसा कुछ अनुभव नहीं किया है।

English summary
Kiara Advani in an interview talks about her upcoming movie Machine, box office numbers and much more.
Please Wait while comments are loading...