For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    अमिताभ बच्चन ने किया अपने वारिस का एलान, सायरा बानो का फूटा दर्द - इस हफ्ते स्टार्स ने की दिल खोलकर बातें

    |

    बॉलीवुड स्टार्स जब भी अपनी फिल्में प्रमोट करते हैं, उस दौरान वो बेबाकी से ढेर सारी बातें करते हैं। वहीं कुछ स्टार्स ऐसे भी हैं जो जब भी बोलते हैं दो टूक बोलते हैं। फिर चाहे वो किसी इंटरव्यू में दिया गया बयान हो या फिर सोशल मीडिया पर रखी गई अपनी राय।

    इस हफ्ते रणवीर सिंह और आलिया भट्ट, बेबाकी से कॉफी विद करण पर अपनी बातें और किस्से बताते दिखे। रणवीर सिंह का कहना था कि अगर उर्फी जावेद को अपना आउटफिट रिपीट करना पड़ा यानि कि वही कपड़ा दोबारा पहनना पड़ा तो वो परेशान हो जाएंगी। वहीं आलिया भट्ट का कहना था कि रणवीर सिंह उनकी सहेली हैं। ये तो हुईं मज़ेदार बातें लेकिन कई गंभीर मुद्दों पर भी बात होते दिखी।

    एक तरफ, अपनी फिल्म शाबाश मिट्ठू को प्रमोट करते हुए तापसी पन्नू जहां क्रिकेट और महिला क्रिकेट पर अपनी राय देती दिखीं वहीं उन्होंने इंडस्ट्री में हीरो और हीरोइन की फीस में बहुत बड़े अंतर पर भी बेबाकी से अपनी दो टूक राय दी।

    अमिताभ बच्चन जहां विरासत संभालने और उत्तराधिकारी होने पर अपनी राय देते दिखे तो वहीं एक इवेंट के दौरान, राजकुमार राव ने अपने संघर्ष के दिन याद किए और नेपोटिज़्म से लेकर साउथ की फिल्मों पर अपनी राय दी। पढ़िए, इस हफ्ते स्टार्स ने दिए कौन से बेबाक और दो टूक बयान।

    गुडबाय बॉयफ्रेंड गुडबाय गर्लफ्रेंड

    गुडबाय बॉयफ्रेंड गुडबाय गर्लफ्रेंड

    कॉफी विद करण के एपिसोड में आलिया भट्ट ने बताया, शादी से ठीक पहले, उन्होंने और रणबीर कपूर ने एक साथ लंच किया और ये लंच खास था क्योंकि बॉयफ्रेंड - गर्लफ्रेंड के तौर पर ये उनका आखिरी लंच था। दोनों ने एक दूसरे को बॉयफ्रेंड - गर्लफ्रेंड के तौर पर गुड बाय कहा और फिर सात फेरे लेने मंडप पहुंच गए। रणबीर की आदत के बारे में बात करते हुए आलिया ने बताया कि वो बहुत पूजा पाठ वाले इंसान हैं। शादी के दौरान भी वो एक एक रस्म, एक एक मंत्र सुन रहे थे और समझ रहेे थे। यहां तक कि उन्हें जो नहीं समझ आ रहा था, वो रूक रूक कर पंडित जी से पूछ भी रहे थे।

    राजनीति में अक्षय कुमार?

    राजनीति में अक्षय कुमार?

    एक इवेंट में अक्षय कुमार से राजनीति में आने के बारे में पूछा गया लेकिन अक्षय कुमार ने इस प्लान को नकार दिया। अक्षय का कहना था, मैं फिल्में बनाकर खुश हूं। एक एक्टर के तौर पर मैं समाज के कई ऐसे मुद्दे हैं जिनके बारे में अपनी फिल्मों में बात करने की पूरी कोशिश करता हूं। वो मुद्दे जो ज़रूरी हैं। एक प्रोड्यूसर के तौर पर मैंने 150 फिल्में बनाई हैं और अक्सर ये समाज के किसी ना किसी मुद्दे पर बात करती हैं। गौरतलब है कि इससे पहले भी नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू लेने के बाद अक्षय कुमार के राजनीति में आने की खबरें थीं जिनका अक्षय कुमार ने तुरंत खंडन कर दिया।

    अमिताभ बच्चन के उत्तराधिकारी अभिषेक

    अमिताभ बच्चन के उत्तराधिकारी अभिषेक

    अमिताभ बच्चन ने अपनी और अभिषेक बच्चन की एक ही जैसी तस्वीर शेयर करते हुए अपने पिता हरिवंश राय बच्चन की एक लाईन लिखी - मेरा बेटा मेरा उत्तराधिकारी नहीं होगा, जो मेरा उत्तराधिकारी होगा वही मेरा बेटा होगा। अमिताभ बच्चन ने इस लाईन के साथ गर्व से अभिषेक बच्चन को अपना उत्तराधिकारी बताया जो उनके अभिनय की कला की विरासत को संभाल कर रखेंगे।

    मैं झुंड का हिस्सा नहीं बन सकता - राजकुमार राव

    मैं झुंड का हिस्सा नहीं बन सकता - राजकुमार राव

    एक इवेंट के दौरान पैन इंडिया फिल्मों पर अपनी राय रखते हुए राजकुमार राव का कहना था कि वो भेड़चाल का हिस्सा नहीं बन सकते हैं। राजकुमार ने अपने काम के बारे में बात करते हुए कहा, एक अभिनेता के तौर पर मैं ऐसी फिल्में करता हूं जिन पर मुझे गर्व हो, बजाय वो फिल्में करने के जो ट्रेंड में चलती रहें। जब तक मेरी फिल्म का प्रोड्यूसर, नुकसान नहीं झेल रहा है, मैं ऐसी फिल्में करता रहूंगा। मैं झुंड का हिस्सा नहीं बनना चाहता। भले ही मेरी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर 100 करोड़ रुपये ना कमाएं। इस इवेंट पर राजकुमार राव ने साउथ Vs बॉलीवुड की बहस और नेपोटिज़्म के मुद्दे पर भी अपनी राय रखी।

    तकिए में मुंह छिपा कर सोती हूं - सायरा बानो

    तकिए में मुंह छिपा कर सोती हूं - सायरा बानो

    7 जुलाई को मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार के निधन को एक साल पूरे हुए। उनकी पुण्यतिथि पर सायरा बानो ने अपने साहेब को याद करते हुए एक इमोशनल चिट्ठी लिखी और इस चिट्ठी में उन्होंने बताया कि दिलीप साहब के जाने के बाद वो ठीक नहीं हैं। हर रोज़ मुश्किल से बीत रहा है। सायरा बानो ने एक भावुक चिट्ठी में लिखा, साहेब के बिना ये एक साल बहुत ही मुश्किल से बीता है। मैं जब बेड पर उन्हें अपने बगल में नहीं देखती हूं तो तकिए में मुंह छिपा लेती हूं और सो जाती हूं। इस उम्मीद में कि सुबह उठूंगी तो शायद वो बगल में लेटे हुए मिल जाएंगे। उनके गुलाबी गाल, सूरज की तरह चमकते हुए दिखाई देंगे। मैं उनकी पत्नी, दोस्त, मां, सहेली, फैन, सब कुछ थी और अल्लाह का मैं इस बात के लिए बहुत शुक्रिया करती हूं।

    शाहरूख खान की तीनों फिल्में फ्लॉप होंगी

    शाहरूख खान की तीनों फिल्में फ्लॉप होंगी

    शाहरुख खान ने कुछ समय पहले पठान के अलावा जवान और डंकी का ऐलान किया था और इसके बाद से उनके फैंस काफी एक्साइटेड थे। लेकिन केआरके का कहना है कि शाहरुख खान की ये तीनों फिल्म फ्लॉप होंगी। इसके अलावा उनका कहना है कि तीनों में से किसी भी फिल्म ने अगर 200 करोड़ का आंकड़ा छुआ तो वो फिल्म का रिव्यू करना बंद कर देंगे। केआरके ने ट्वीट करते हुए लिखा - ''मैं जोखिम और चुनौती लेने के लिए तैयार हूँ! अगर उनमें से एक भी फिल्म भारत में ₹200 करोड़ का कारोबार करेगी, तो मैं फिल्मों की समीक्षा करना बंद कर दूंगा। और अगर ये तीनों फिल्में फ्लॉप हो जाएंगी तो iamsrk भाई जान करेंगे फिल्मों से संन्यास का ऐलान क्या हो भाई?''

    हीरोइनों को फीस कम मिलती है आप की वजह से - तापसी पन्नू

    हीरोइनों को फीस कम मिलती है आप की वजह से - तापसी पन्नू

    तापसी पन्नू ने एक इंटरव्यू में हीरो और हीरोइन को मिलने वाली फीस के बड़े अंतर पर पहली बार बात करते हुए अपनी राय रखी। तापसी ने फीस कम मिलने की वजह बताते हुए कहा कि यह समस्या वहां से शुरू होती है जबकि महिला प्रधान फिल्मों को देखने के लिए लोग नहीं आते हैं। दर्शक एडवांस बुकिंग करने के बजाए इन फिल्मों के रिव्यू का इंतजार करते हैं। पुरुष प्रधान फिल्मों की बात आती है को एडवांस बुकिंग अधिक होती है। जो कि महिला प्रधान फिल्मों के पूरे वीकेंड की कमाई के बराबर होती हैं। तापसी का कहना है कि हीरोइनों को कम फीस मिलने के लिए दर्शकों का भी उतना ही दोष है। जब वो फिल्म देखने आएंगे ही नहीं, तो फीस किस बात की मिलेगी?

    मेरे बैंक में केवल 18 रूपये थे - राजकुमार राव

    मेरे बैंक में केवल 18 रूपये थे - राजकुमार राव

    राजकुमार राव के लिए सफलता के मुकाम तक पहुंचना कितना मुश्किल रहा है, इसका जिक्र उन्होंने हाल ही में किया। राजकुमार राव ने बताया है कि किस तरह जेब में केवल 18 रुपए लेकर उन्होंने मुश्किल दिनों को पारले जी खाकर पार किया है। राजकुमार के लिए सबसे मुश्किल समय दिल्ली से मुंबई के लिए आना था। उन्होंने बताया, मेरे बैंक अकाउंट में केवल 18 रुपए बचे थे। राजकुमार ने साथ ही ये भी बताया कि एक्टर बनने के अलावा उनके पास कोई दूसरा ऑप्शन नहीं था। कोई प्लान बी नहीं था। वो केवल एक्टर ही बनना चाहते थे।

    English summary
    This week stars poured their hearts out. While amitabh bachchan chose his heir, Saira Banu shared the pain of losing Dilip Kumar after 56 years. Read trending celeb statements.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X