For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुशांत ने मेरे साथ बद्तमीज़ी की थी, सारा ने भी जब सुना तो घबरा कर आई - केदारनाथ एक्टर नीतिश भारद्वाज

    |

    सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान स्टारर केदारनाथ, 6 दिसंबर 2018 को रिलीज़ हुई थी। फिल्म, 2015 में उत्तराखंड में आए भयानक भूकंप और बाढ़ की त्रासदी पर बनी थी जिसने पूरा राज्य तबाह कर दिया था। फिल्म सारा अली खान की पहली फिल्म थी और सुशांत के फैन्स के लिए उनकी एक और यादगार।

    फिल्म में सारा अली खान के पिता का रोल निभाया था महाभारत के श्रीकृष्ण, नीतिश भारद्वाज। शूटिंग के दौरान की अपनी यादें साझा करते हुए नीतिश भारद्वाज ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में बताया कि किस तरह, सुशांत गुस्से में उनसे बद्तमीज़ी कर गए थे।

    इस किस्से को बताते हुए नीतिश ने बताया कि वैसे सुशांत एक अच्छा लड़का था लेकिन दिमाग का गरम था और जब सुशांत गुस्से में होते थे तो सीनियर जूनियर का लिहाज़ भी भूल जाते थे।

    नीतिश ने बताया - सुशांत और मेरी केदारनाथ से जुड़ी याद एक थप्पड़ से जुड़ी हुई है। एक सीन में नीतिश भारद्वाज को सुशांत को एक थप्पड़ मारना था। फिल्म की शूटिंग मुंबई में चल रही थी और सीन शूट होने से एक दिन पहले, सुशांत सुबह सुबह नीतिश भारद्वाज के घर रिहर्सल करने आए।

    हमारे दो अलग तरीके थे

    हमारे दो अलग तरीके थे

    उस दिन जिस तरह हमारी रिहर्सल गई मुझे ऐसा लगा, मैं सुशांत को अपने घर के बाहर फेंक दूं। तो हुआ यूं कि मैं इस सीन के लिए बिल्कुल अलग तरह से रिहर्सल कर रहा था और सुशांत मुझे बिल्कुल अलग ढंग से रिहर्सल करने को कह रहा था। क्योंकि मेरे अभिनय से वो उस तरह रिएक्ट नहीं कर पा रहा था जिस तरह से करना चाहता था।

    वो मुझसे उखड़ गया

    वो मुझसे उखड़ गया

    आखिरी में अभिषेक कपूर ने कहा कि जिस तरह नीतिश जी कर रहे हैं, वही सही तरीका है इस सीन को करने का। ये बात सुनकर सुशांत मुझसे थोड़ा उखड़ गया और हम दोनों के बीच बहस हुई जिसके बारे में मैंने कभी किसी को नहीं बताया।

    बद्तमीज़ी भी की

    बद्तमीज़ी भी की

    वो कहता गया - चूंकि आप इस तरह से एक्टिंग करना जानते ही नहीं हैं, इसलिए आप इस सीन को मेरे तरीके से करना ही नहीं चाहते हैं। वो मुझे इस तरह की बातें बोलता गया। मुझे लगता है कि ये एक सीनियर एक्टर के साथ उसकी बद्तमीज़ी थी। और उसने अपनी मर्यादा पार की थी।

    किसी तरह शॉट पूरा हुआ

    किसी तरह शॉट पूरा हुआ

    हालांकि मैंने उससे बस इतना कहा कि मैं वही करूंगा जो मेरे डायरेक्टर ने मुझसे करने को कहा है। तो तुम अभिषेक को क्यों नहीं मनाते कि ये सीन तुम्हारी तरह से किया जाए। आखिरकार हमने शॉट मेरी ही तरह से पूरा किया।

    बाद में गलती भी मानी और माफी भी मांगी

    बाद में गलती भी मानी और माफी भी मांगी

    बाद में सुशांत मेरे पास आया और मेरे गले लग गया। उसने मुझसे कहा - सॉरी सर, मैं क्यूं बोल दिया ऐसा। सॉरी! मुझे आपसे वो सारी बातें नहीं कहनी चाहिए थी। तो उस वक्त उसका इस तरह आकर अपनी गलती के लिए मुझसे माफी मांग लेना, मुझे बहुत ही प्यारा लगा।

    यादगार बन गई तस्वीर

    यादगार बन गई तस्वीर

    जब सुशांत मुझसे ये सब कह रहा था, उसी समय किसी ने हमारी ये तस्वीर खींच ली थी। इसी बीच सारा को किसी ने वैनिटी वैन में बता दिया कि मेरे और सुशांत के बीच बहस हुई है और सुशांत ने मेरे साथ बद्तमीज़ी की। और वो मेरे पास भागती हुई आई।

    गलतियां मान लेता था सुशांत

    गलतियां मान लेता था सुशांत

    तो सुशांत कभी कभी जब गुस्से में होता था तो ऐसी चीज़ें बोल या कर देता था। वरना वो बहुत ही प्यारा लड़का था। ये सारी चीज़ें जो क्रिएटिव काम के दौरान होती ही रहती हैं। बाद में उसने मुझे चॉकलेट का एक डिब्बा भेजा था।

    एक और थप्पड़ की कहानी

    एक और थप्पड़ की कहानी

    वहीं सारा के साथ काम करने की अपनी यादें बांटते हुए नीतिश भारद्वाज ने बताया कि एक सीन था जहां मुझे सारा को एक थप्पड़ मारना था। वो मुझे बार बार कहती रही कि सर सच में थप्पड़ मारिए वरना मेरा रिएक्शन नहीं आएगा। और मैं मना करता रहा।

    तमाचे की करती रही ज़िद

    तमाचे की करती रही ज़िद

    सारा अली खान ने अभिषेक कपूर को भी काफी समझाने की कोशिश कर डाली कि ये थप्पड़ पड़न उनके लिए कितना ज़रूरी है। ऐसा वो द दो दिनों तक करती रही। फिर अभिषेक ने भी मुझे कहा, सर, उसको एक तमाचा मार दीजिए। मैं आखिरी मिनट तक ना कहता रहा।

    दिया तमाचा

    दिया तमाचा

    आखिरी क्लोज़ अप शॉट में मैंने उसे एक थप्पड़ मारा, वो चौंक गई और उसका रिएक्शन आया। वो भी यही चाहती थी और मैं भी। शॉट से पहले मैंने जानबूझकर किसी बात के लिए उसे डांटा भी था जिससे हम दोनों के बीच थोड़ी टेंशन रहे। कभी कभी साथी कलाकार से अच्छा रिएक्शन लेने के लिए या उसकी मदद करने के लिए ऐसा करना पड़ता है।

    English summary
    Kedarnath completes two years and Senior actor Nitish Bhardwaj narrates how Sushant Singh Rajput misbehaved and insulted him.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X