»   » कहानी की बैंड: आखिर आठ साल तक किसी ने अंजली की शादी क्यों नहीं की???

कहानी की बैंड: आखिर आठ साल तक किसी ने अंजली की शादी क्यों नहीं की???

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

[Trisha Gaur]ठीक है कुछ कुछ होता है आपकी फेवरिट फिल्मों में से हैं, हमारी भी है, हम कसम खाकर कहते हैं लेकिन फिर भी कहानी में कुछ बातें अजीब थी ये तो आप भी मानेंगे। हमारे सामने नहीं मानेंगे तो मन में मान लीजिए लेकिन हां ये बातें काफी लॉजिकल हैं और कहानी की बजा देती हैं बैंड। पर अगर ये लॉजिक कहानी में डाल दिए जाते तो भी बज जाती कहानी की बैंड! नहीं समझे...लीजिए हम समझा देते हैं। अगर कुछ कुछ होता है में होते ये ट्विस्ट तो बज जाती कहानी की बैंड!

अंजली की शादी

अंजली की शादी

ठीक है वो राहुल से प्यार करती थी पर इतनी ज़िद्दी बेटी किसकी होती है। क्या अंजली की मां को (पाय लागू रीमा लागू आंटी), अंजली की शादी की कभी चिंता नहीं हुई। अब ऐसा तो है नहीं कि राहुल - टीना ने बाल विवाह किया था (तब तो बालिका वधू भी नहीं थी कि कॉपी कर पाते), खैर पॉइंट ये है कि आठ साल तक अंजली की शादी क्यों नहीं हुई। अगर अंजली पहले ही टाइम पर शादी कर लेती तो कहानी की बज जाती बैंड। क्योंकि तब फिर अंजली ज़्यादा से ज़्यादा एक बेबी सिटिंग सेंटर खोल लेती या डांस क्लासेस भी अच्छा ऑप्शन था। लेकिन हमारा सवाल वही है कि आखिर किसी को अंजली की शादी की चिंता क्यों नहीं थी?

छोटी अंजली पहले ही चुरा लेती चिट्ठी!

छोटी अंजली पहले ही चुरा लेती चिट्ठी!

फिल्म में शाहरूख, मतलब राहुल की बेटी अंजली कहीं से भी good girlतो नहीं थी। जितनी खुराफाती वो थी उतने तो बचपन में हम भी नहीं थे। तो अगर उसे पता था कि उसे उसकी मां ने चिट्ठियां लिख कर दी हैं तो उसने पहले ही क्यों नहीं सारी पढ़ ली? हम तो बचपन में नई क्लास में जाते ही सबसे पहले इंग्लिश हिॆदी की स्टोरी पढ़ते थे। ये लकड़ी को जहां अकल लगानी चाहिए थी वहां लगाती तो शायद कहानी की बैंड बज जाती। पर अंजली की शादी तो सही उम्र में हो जाती।

 अगर प्यार दोस्ती है तो पहले क्यों नहीं हुआ

अगर प्यार दोस्ती है तो पहले क्यों नहीं हुआ

फिल्म के एक सीन में राहुल कहता है प्यार दोस्ती है और सब पागल हो जाते हैं, आप, हम, देश और काजोल। पर भइया अगर प्यार दोस्ती है तो पहले क्यों नहीं हुआ। शाहरूख को रानी से प्यार हो जाता है तो वो उससे दोस्ती करने के पीछे पड़ जाता है तो इस हिसाब से तो प्यार हो जाए तो दोस्ती कर लो। मतलब देखा जाए तो राहुल हर लड़के की तरह दो दो लड़कियों के साथ टू टाइमिंग कर रहा था। ooops लेकिन अगर राहुल अंजली में प्यार हो जाता तो बज जाती कहानी की बैंड

सलमान खान होते पीछा करने वाले बॉयफ्रेंड

सलमान खान होते पीछा करने वाले बॉयफ्रेंड

अगर सलमान खान पीछा करने वाला बॉयफ्रेंड होता तो उसे अंजली के हर मूवमेंट की खबर होती। और किसी से शादी करने से पहले आदमी बैकग्राउंड चेक कर लेता है न। ऐसा होता तो सलमान को राहुल के बारे में पता होता और वो और पता करवा लेता। लेकिन अगर सलमान काजोल को छोड़ देता तो शायद बज जाती कहानी की बैंड। आखिर उन्हें शर्माते मुस्कुराते देखना किसे पसंद नहीं है। खैर ऐसा हो जाता तो काजोल सिंगल होती और शायद करन जौहर उनका और शाहरूख का रोमांस और ज़्यादा दिखा पाते। अब शाहरूख काजोल और रोमांस से बॉलीवुड प्रेमी कभी नहीं थक सकते ;)

 अगर रानी को डॉक्टर कह देते बेड रेस्ट

अगर रानी को डॉक्टर कह देते बेड रेस्ट

रानी मुखर्जी अपनी डिलीवरी के बाद बहुत बीमार थीं। एक मिनट वो शायद मरने वाली थीं फिर भी इतनी लंबी लंबी आठ चिट्ठियां। और क्या उन्हें पता था कि अंजली अब तक उनके पति के लिए कुंवारी बैठी है। अब इतना भी गुडलुकिंग नहीं है वो C'mon! खैर वो इतनी बीमार थीं तो उन्हें डॉक्टर को बेड रेस्ट करने देना चाहिए था और प्लीज़ बेड रेस्ट मतलब लंबी चिट्ठियां लिखना नहीं होता। Grow up!

अगर राहुल को फरीदा आंटी ने सच बोलना सिखाया होता

अगर राहुल को फरीदा आंटी ने सच बोलना सिखाया होता

खैर क्या बोलें। इतनी अच्छी परवरिश लेकिन फरीदा आंटी राहुल को सच बोलना नहीं सिखा पाईं। पूरी फिल्म में राहुल ने कहा कि हम एक बार जीते हैं, एक बार मरते हैं, प्यार भी एक बार होता है और शादी भी एक ही बार की जाती हैं। फिर एंड में आकर उन्होंने या तो पलटी मार ली या फिर काजोल से झूठ बोला। Hawwwwww Rahul चीटर ही नहीं Liar भी था, पर अगर बेचारा ऐसा नहीं करता तो शायद बज जाती कहानी की बैंड!

English summary
Kuch Kuch Hota Hai is one of the best love story ever, but the film had some irrelevant, weird and insane moments. Trust us on that. Film lacked some basic logics but still we are bolly romance maniacs and we do't regret lack of logics .Cheers!
Please Wait while comments are loading...