For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    गुरु दत्त ने जब मौत से कुछ घंटे पहले ही कह दिया था "मैं अब रिटायर होना चाहता हूं"

    |

    वसंत कुमार शिवशंकर पादुकोण का नाम सुन आप सोच रहे होंगे कि इनका नाता कहीं दीपिका पादुकोण से तो नहीं....लेकिन नहीं ये कोई और नहीं बल्कि हिंदी सिनेमा को अमरता देने वाले गुरु दत्त हैं। जिनका पूरा नाम कुछ इस तरह से है। महज 39 साल की उम्र में गुरु दत्त हिंदी सिनेमा की रीढ़ बन गए लेकिन छोटी सी उम्र में हासिल हुआ ये नाम, शोहरत व प्रतिभा छोड़ वह दुनिया को अलविदा कह गए।

    गुरु दत्त की गीता दत्त से शादी फिर वहीदा रहमान संग अफेयर, वो आखिरी रात- खुदखुशी या मौतगुरु दत्त की गीता दत्त से शादी फिर वहीदा रहमान संग अफेयर, वो आखिरी रात- खुदखुशी या मौत

    गुरु दत्त फिल्मों में अव्वल रहे। फिल्मों के लेखन की बात हो या निर्देशन की। सभी में वह निपुण थें। लेकिन गुरु दत्त बहुत ही भावुक व पजेसिव इंसान थे जिन्हें जिंदगी और लोगों से बहुत उम्मीदें थीं लेकिन ये सब उन्हें मिला नहीं... गुरु दत्त की जिंदगी तो बहुत नामी थी ही लेकिन मौत ऐसी जिसे लेकर आज भी सिर्फ लोगों के जहन में सिर्फ ढेरों सवाल है। आज तक ये रहस्य है कि उनकी मौत एक्सीडेंटल थी? आत्महत्या थी? हत्या थी या फिर कोई और साजिश?

    गुरु दत्त को तरक्की तो मिल गई...लेकिन प्यार नसीब नहीं हो पाया। जिंदगी में दो बार उन्होंने प्यार किया लेकिन मुकम्मल न हो पाया। कहते है...इसी वजह से गुरु दत्त ने मौत को गले लगा लिया। वहीं कुछ कहते हैं गुरु दत्त की मौत एक दुर्घटना थी। गुरु दत्त 10 अक्टूबर 1964 को अपने घर पर मृत पाए गए थे। कहा गया कि अत्यधिक शराब व नींद की गोलियां खाने की वजह से अभिनेता, फिल्मकार व निर्देशक की मौत हुई थी।

    गुरु दत्त की फिल्मोग्राफी

    गुरु दत्त की फिल्मोग्राफी

    "साहिब, बीवी और गुलाम", "प्यासा", "चौदहवीं का चांद", "कागज के फूल", "मिस्टर एंड मिसेज 55"... ये वो फिल्में हैं जिन्हें आज भी सिनेमा दौर में अहम माना जाता है। "कागज के फूल" वो फिल्म थी जिसे कहा गया कि इस फिल्म को गुरुदत्त ने अपने ही जिंदगी पर बनाया। इसमें अभिनेता को अपनी हीरोइन से प्यार हो जाता है और पत्नी के साथ दरार की कहानी को दिखाया गया था। एकदम ठीक ऐसे ही गुरुदत्त, वहीदा रहमान और गीता दत्त की रियल कहानी भी थी।

    टेलीफोन ऑपरेटर थे गुरुदत्त

    टेलीफोन ऑपरेटर थे गुरुदत्त

    गुरु दत्त ने अपने करियर की शुरुआत घर चलाने के लिए की। उन्होंने टेलीफोन ऑपरेटर के तौर पर लीवर ब्रदर्स फैक्ट्री में काम करना शुरू किया। लेकिन फिर उन्होंने ये सब छोड़ मुंबई माता पिता के पास आने का मन बनाया। गुरु दत्त के अंकल ने उन्हें तीन साल के कॉन्ट्रैक्ट पर प्रभात फिल्म कंपनी पुणे में नौकरी पर रखा। यहां गुरुदत्त की दोस्ती दिग्गज अभिनेता देवानंद से भी हुई।

    देवानंद की वजह से गुरुदत्त का ने बनाई पहली फिल्म

    देवानंद की वजह से गुरुदत्त का ने बनाई पहली फिल्म

    फिर गुरु दत्त ने कोरियोग्राफर, एक्टर और अस्सिटेंट डायरेक्टर के तौर पर काम करना शुरू किया। इसकी शुरुआत भी देवानंद की वजह से ही हुई। देवानंद ने अपनी कंपनी नवकेतन में उन्हें फिल्म डायेक्ट करने का मौका दिया। इस कंपनी के जरिए दत्त ने पहली फिल्म "बाजी" बनाई।

    शुरू हुआ निर्देशन से प्रोड्यूसर का सफर

    शुरू हुआ निर्देशन से प्रोड्यूसर का सफर

    साल 1951 में फिल्म "बाजी" रिलीज हुई। ये देवानंद के प्रोड्क्शन हाउस की दूसरी फिल्म थी। पहली फिल्म बुरी तरह फ्लॉप हो गई थी। इस दौरान दत्त और देवानंद के बीच एग्रीमेंट हुआ। एक्टर देवानंद होंगे और निर्देशन दत्त। ये फिल्म सुपरहिट हुई। इसके बाद सुपरहिट फिल्म "सीआईडी" में देवानंद नजर आए और इसे गुरुदत्त ने प्रोड्यूस किया।

    ऐसे दिग्गजों की टीम बन गई

    ऐसे दिग्गजों की टीम बन गई

    ऐसे गुरु दत्त टेलीफोन ऑपरेटर की नौकरी छोड़ बॉलीवुड में अपना सिक्का अजमाने लगे। फिर तो गुरुदत्त की अपनी टीम बन गई थी। उन्होंने कॉमेडियन जॉनी वॉकर, सिनेमटोग्राफर वीके मूर्थी, लेखक अबरार अल्वी और एक्ट्रेस वाहिदा रहमान जैसे टेलेंट को निखारा।

    साल 1954 में गुरु दत्त की ब्लॉकबस्टर फिल्म "आर-पार" आई, इसके बाद "मिस्टर एंड मिसेज" फिर "सीआईडी" और फिर "प्यासा"। ऐसे ही कई हिट फिल्मों का सिलसिला जारी रहा।

    एक्टिंग भी की

    एक्टिंग भी की

    "प्यासा" फिल्म में दिलीप कुमार को गुरु दत्त लेना चाहते थे लेकिन उन्होंने मना कर दिया तो फिर गुरु दत्त ने खुद ही एक्टिंग में उतरना मुनासिब समझा। फिल्म "प्यासा" जब आई तो सुपरहिट साबित हुई और गुरु दत्त की एक्टिंग की सराहना भी हुई।

    गुरु दत्त की शादी और प्रेम कहानी

    गुरु दत्त की शादी और प्रेम कहानी

    गुरु दत्त का पहला प्यार गीता रॉय थी। जो एक जमाने में लता मंगेश्कर से भी बड़ी गायिका हुआ करती थी। गुरु दत्त की पहली फिल्म "बाजी" के दौरान ही गीता से वह मिले थे। यही से दोनों के बीच प्रेम प्रसंग शुरु हुआ। दोनों ने 3 साल अफेयर चलाने के बाद साल 1953 में शादी कर ली। दोनों के तीन बच्चे भी हुए। लेकिन शादी के चार साल बाद गीता और गुरु के बीच झगड़े शुरू हो गए।

    वहीदा रहमान और गुरु दत्त का जिक्र

    वहीदा रहमान और गुरु दत्त का जिक्र

    जब भी गुरु दत्त की निजी जिंदगी की बात होती है तो इस दिग्गज एक्ट्रेस का नाम जरूर आता है। एक समय था जब वहीदा और गुरु को लेकर अटकलों का बाजार खूब गर्म हुआ करते था। तमाम अफवाहें मिर्च मसाले के साथ मैगजीन के पन्नों पर छपा करती थी।

    इन गॉसिप्स में ये तक कहा गया कि गुरु दत्त की शादी वहीदा रहमान की वजह से ही टूटी। गुरु दत्त वहीदा रहमान से मोहब्बत करने लगे थे। फिल्म "सीआईडी" से वहीदा को गुरुदत्त ने ही लॉन्च किया। वहीदा ने गुरुदत्त की कई फिल्मों में काम किया और दिल में भी जगह बना ली। लेकिन ये मोहब्बत गुरुदत्त की मुकम्मल नहीं हो पाई। हुआ यूं कि इन प्रेम प्रसंग की बातों को सुन गीता ने गुरुदत्त को छोड़ दूसरे घर पर रहना शुरू कर दिया। वह बच्चों को भी अपने संग ले गईं। वहीं गुरु दत्त की जिद्द और ज्यादा पजेसिव होने के चलते शायद वहीदा ने भी उनका साथ छोड़ दिया।

    मौत से पहले कहा था,

    मौत से पहले कहा था, "मैं रिटायर होना चाहता हूं"

    10 तारीख (1964) के दिन गुरुदत्त ने भाई के साथ बच्चों के लिए शॉपिंग की। पतंग उड़ाई और फिर वह लेखक अबरार अल्वी से मिल फिल्म "बहारें फिर भी आएंगी" को लेकर चर्चा की। ये गुरुदत्त का आखिरी प्रोजेक्ट था जिसे गुरुदत्त के जाने के बाद धर्मेंद के साथ पूरा किया गया। इस फिल्म के बारे में चर्चा करने के दौरान अबरार अल्वी से गुरुदत्त ने कहा, "यार अबरार अगर तुम बुरा न मानो तो मैं अब रिटायर होना चाहता हूं।" अगली सुबह गुरुदत्त ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था।

    गुरु दत्त की मौत

    गुरु दत्त की मौत

    गुरुदत्त एक ऐसा दीया था जो कुछ ही सालों के बाद बूझ गया। छोटे से करियर में उन्होंने हिंदी सिनेमा को नई दिशा दी। लेकिन 10 अक्टूबर 1964 वो दिन था जब गुरुदत्त ने एक आधा पढ़े नॉवेल के साथ वह मृत पाए गए। इस दिन गुरुदत्त युग का अंत हो गया।

    English summary
    Guru Dutt Birth anniversary: Guru Dutt filmography death life and family
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X