»   »  स्ट्रेटः एक उलझी हुई फिल्‍म

स्ट्रेटः एक उलझी हुई फिल्‍म

Posted By: Super
Subscribe to Filmibeat Hindi
Film Straight Review
निर्देशक : पार्वती बालगोपालन
कलाकार : विनय पाठक , गुल पनाग , अनुज चौधरी , अचला सचदेव , केतकी दवे , सिद्धांत मक्कड़

पार्वती बालगोपालन द्धारा निर्देशित की गई फिल्‍म स्‍ट्रेट काफी भ्रामक फिल्‍म है। इतनी भ्रामक की फिल्‍म का 30 वर्षीय कुवारा पात्र पीनू पटेल भी समझ नही पाता है कि वो गे है या स्‍ट्रेट।

डाइरेक्टर पार्वती ने अपनी फिल्म में इस सब्जेक्ट को बड़ी चतुराई के साथ कॉमिडी की चाशनी में घोलकर पेश करने की कोशिश की है, लेकिन बेवजह कहानी को लंबा खींचने और पात्रों में आपसी तालमेल के अभाव में फिल्म दर्शकों को पूरी तरह बांध नहीं पाती।

ऐसा लगता है कि फिल्म की शुरुआत में पार्वती कहानी को गे कल्चर से दूर रखना चाहती थीं और इसी कशमकश में वह भटक गईं। पीनू पटेल लंदन का एक रेस्‍तरां व्‍यवसायी है। उसकी शादी नही हो रही है। उसका एक दोस्‍त लॉटरी जीतने पर उसे किस करता है उस वक्‍त उसे समझ में नही आता है कि वह क्‍या है।

विनय पाठक के रूप में हिंदी सिनेमा को एक ऐसा कलाकार मिल गया है जो किसी भी चरित्र को जी सकता है। लेकिन अगर फिल्‍म की बात की जाए विनय के अलावा ऐसा कुछ भी नही है जिसको देखने के लिए जाया जाए।

गुल पनाग और अनुज चौधरी ने बस काम चलाऊ अभिनय किया है। फिल्‍म में कई सारे द्धिअर्थी संवाद है। कुल मिलाकार कहा जाए तो एक औसत फिल्‍म है।

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

X