For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    शुद्ध देसी रोमांस में है रोमांस, शादी और कंफ्यूजन- फिल्म रिव्यू

    |

    Shuddh Desi Romance movie review
    (सोनिका मिश्रा) अभी तक आपने यश राज फिल्म्स की यादगार प्रेम कहानियां देखी हैं। यशराज ने कई ऐतिहासिक लव स्टोरियों के साथ ही कई यादगार जोड़ियां भी दी हैं। लेकिन जैसे जैसे युग बदला वैसे वैसे प्यार की परिभाषा भी बदली और साथ ही यश राज की लव स्टोरियों में भी बदलाव देखने को मिले। शुद्ध देसी रोमांस में यश राज ने आज की यंग जेनरेशन की सोच और उनके प्यार, शादी को लेकर कंफ्यूस्ड सोच को सामने लाकर रख दिया। परिणिती चोपड़ा, सुशांत सिहं राजपूत और न्यू कमर वाणी कपूर की कहानी है शुद्ध देसी रोमांस। फिल्म की शुरुआत से लेकर अंत तक आपको आज के यूथ के जीवन की उन बातों और कमजोरियों के बारे में पता चलेगा जिनके बारे में शायद पुराने जमाने के लोग सोच भी नहीं सकते। आज की युवा पीढ़ी अपने रिश्तों और शादी को लेकर किस हद तक कंफ्यूस्ड है किसी भी बंधन में बंधने से कितना डरती है ये इस फिल्म में बेहतरीन तरीके से दिखाया गया है।

    रघुराम (सुशांत सिंह राजपूत) की शादी के फिल्म की शुरुआत होती है। तारा (वाणी कपूर) वो लड़की है जिससे रघू की शादी तय होती हैा। गायत्री एक बारातियों और बारात का इंतजाम करने वाले ठेकेदार ताउजी (ऋषी कपूर) के यहां काम करती है और रघु की शादी में उसकी बहन बनकर जाती है। रास्ते में रघू, गायत्री से अपने दिल की बात शेयर करता है और कहता है कि वो शादी नहीं करना चाहता। कंफ्यूज्ड है। फिर शादी के मंडप पर से रघू बिना किसी को बताए भाग जाता है। भागकर रघू वापस जयपुर जाता है जहां पर उसकी मुलाकात फिर से गायत्री से होती है और वो उसे कहता है कि वो उससे प्यार करता है। रघू, गायत्री से कहता है कि वो दोनों साथ में रहते हैं। गायत्री और रघू दोनों साथ में रहने लगते हैं और एक दिन शादी का फैसला करते हैं लेकिन शादी के दिन गायत्री रघू को छोड़कर भाग जाती है।

    रघू की मुलाकात वापस तारा से होती है और वो और तारा एक दूसरे से प्यार करने लगते हैं लेकिन शादी के बारे में नहीं सोचते। एक दिन फिर से रघू शादी के बारे में सोचता है और तारा को प्रपोज करने का फैसला करता है लेकिन कुछ ऐसा होता है कि फिर से रघू की शादी नहीं हो पाती।

    क्यों नहीं होती रघू की शादी

    क्यों नहीं होती रघू की शादी

    गायत्री तो रघू को छोड़कर भाग गयी लेकिन तारा के साथ भी रघू की शादी क्यों नहीं होती ये राज की बात हैा। यही है पूरी फिल्म का सार। ये जानने के लिए कि तारा और रघू के बीच ऐसा क्यो होता है कि शादी की बात ही नहीं होती देखिये शुद्ध देसी रोमांस।

    परिणिती इस बार भी सबसे आगे

    परिणिती इस बार भी सबसे आगे

    इससे पहले इशकजादे फिल्म में परिणिती चोपड़ा के आगे अर्जुन कपूर कहीं गायब से हो गये थे और शुद्ध देसी रोमांस में भी परिणिती के सामने सुशांत सिंह राजपूत थोड़ा ढीले पड़ गये। परिणिती ने इस बार भी अपनी परफॉर्मेंस से सबको पीछे छोड़ दिया।

    वाणी कपूर नहीं कर पाईं इंप्रेस

    वाणी कपूर नहीं कर पाईं इंप्रेस

    वाणी कपूर पूरी फिल्म में कहीं ना कहीं परिणिती की कॉपी करती रह गयीं। वाणी का स्टाइल या उनकी परफॉर्मेंस फिल्म में कहीं नज़र ही नहीं आई। डायलॉग भी वो बहुत ही फ्लैट डिलीवर कर रही थीं। इस हिसाब से कहीं भी वाणी अपनी छाप नहीं छोड़ पाईं।

    रघु के किरदार में जंचे हैं सुशांत

    रघु के किरदार में जंचे हैं सुशांत

    सुशांत सिंह राजपूत ने एक बार फिर से बता दिया कि वो एक बेहतरीन एक्टर हैं और सीरियस के साथ ही रोमांटिक और कॉमेडी में भी हिट हैं। सुशांत सिंह की ये पहली लीड रोल फिल्म थी इस हिसाब से उनकी एक्टिंग और उनकी कॉमेडी बेहतरीन थी।

    शुद्ध देसी रोमांस पसंद आएगी यूथ को

    शुद्ध देसी रोमांस पसंद आएगी यूथ को

    शुद्ध देसी रोमांस फिल्म पूरी तरह से यूथ को समर्पित है और आज की यंग जेनरेशन को ही ये फिल्म समझ में आ सकती है। लेकिन कहीं कहीं पर ये महसूस हुआ कि शायद यूथ को कुछ ज्यादा ही कंफ्यूज्ड दिखा दिया है आज की युवा पीढ़ी जानती है कि उन्हें कब क्या करना है।

    English summary
    Shuddh Desi Romance, starring Parineeti Chopra, Sushant Singh Rajput and Vaani Kapoor in lead roles, deals with live in relationship subject. But Shuddu Desi Romance fails to deliver what Yash Raj Films are known for that is true love, genuine emotions and feelings.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X