For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

    Pari Review: लंबे समय बाद एक हॉरर फिल्म जिसे देख कांप जाएंगे आप, जबदरस्त

    By Madhuri
    |
    Rating:
    3.0/5
    Star Cast: अनुष्का शर्मा, परमब्रत चटर्जी, रजत कपूर, रिताभरी चक्रवर्ती, दिबेंदु भट्टाचार्य
    Director: प्रोसित रॉय

    पुरानी हवेली, दरवाजों की डरावनी आवाज, सफेद सा़ड़ी में औरतें और एक डरावने मेकअप में हीरो, अनुष्का शर्मा की परी में ऐसा कुछ नहीं है। यह बाकी हॉरर फिल्मों से काफी अलग है और आपको कुछ नया देखने को मिलेगा। फिल्म के पहले स्क्रीमर रिलीज किए गए थे तो पहले ही प्लॉट को लेकर काफी भूमिका बांध दे चुके हैं। लेकिन हम आपसे वादा करते हैं कि हम स्पॉयलर बताकर आपका बिल्कुल भी मूड खराब नहीं करेंगे।

    pari-movie-review-story-rating-plot

    फिल्म की शुरुआत अरणब (परमब्रत चटर्जी) से होती है जो अपने पिता के साथ कार में बैठा होता है और कार चलाने के दौरान उसके पिता एक बुढ़ी महिला को धक्का मार देते हैं और वो उसी वक्त मर जाती है। आगे की जांच के बाद पुलिस उस महिला जंगल के बीच स्थित उस महिला के घर पहुंचते हैं तो बेड़ियों में जकड़ी रुखसाना (अनुष्का शर्मा) उन्हें मिलती है।बेहद दुखी अरणब रुखसाना की मदद करना चाहता है। वो उसे अपने घर भी लेकर आता है जहां वो अकेले अपने पैरेंट्लेस से अलग रहता है। उसे नहीं पता होता कि ये कोई परियों की कहानी नहीं है। क्या अरणब जब तक सबकुछ जानेगा तब तक बहुत देर हो जाएगी? 

    pari-movie-review-story-rating-plot

    पहली बार डायरेक्ट कर रहे प्रोसित राय ने इस फिल्म में शैतानों की प्रेम कहानी को बखूबी दिखाया है और साथ ही वो इंडियन सिनेमा को हॉरर फिल्म में कुछ अलग दिखाने में भी कामयाब हुए हैं। यह बात तो आप भी मानेंगे कि दिल दहलाने वाले डिस्टर्बिंग विजुअल देख पाना और दिखा पाना सबके बस की बात नहीं होती। प्रोसित राय के पक्ष में सबसे अच्छी बात ये है कि वो पहले फ्रेम से ही वो माहौल बनाने में सफल हुए हैं जो किसी भी हॉरर फिल्म में जरुरी हैं।

    अगर फिल्म के नकारात्मक पक्षों की बात करें तो फिल्म का धीमा नैरेशन थका देता है।क्लाईमैक्स में मेलोड्रैमेटिक टच भी आपको थोड़ा निराश कर सकता है। आखिरी 20 मिनट को छोड़ दिया जाए तो परी में एक सुपरनैचुरल कहानी के सभी मसाले हैं।

    pari-movie-review-story-rating-plot

    तारीफ अनुष्का शर्मा की करनी होगी जिन्होंने इसमें अच्छा इमोशन दिखाया है और बिना मेकअप अवतार दिखाया है। फिल्म में उनकी नीली आखें जिसमें कई गहरे राज छिपे हैं। जैसे गिरगिट रंग बदलता है वैसे ही अनुष्का शर्मा कई रूप दिखाने में सफल हुई हैं। परमब्रत चटर्जी भी फिल्म में टॉप फॉर्म में हैं। अनुष्का के शानदार परफॉर्मेंस के बादद भी वो अपनी छाप छोड़ने में सफल हुए हैं।रजत कपूर भी फिल्म में काफी डरावने लगे हैं। काश फिल्म में उनकी मौजुदगी थोड़ी और होती है। मनसी मुल्तानी और रीताभरी चक्रवर्ती ने भी अपना काम बखूबी किया है।

    परी की सिनेमेटोग्राफी बहुत ही अच्छी है और सब मिलाकर ये एक खूबसूरत फिल्म पश करती है। केतन सोढा का बैकग्राउंड म्यूजिक भी काफी शानदार है। अनुष्का शर्मा की वाकई तारीफ करनी होगी होगी कि अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलकर उन्होंने ऐसी फिल्म की। यह फिल्म कमजोर दिल वालों के लिए नहीं है।

    English summary
    Anushka Sharma's Pari steers clear of these Indian horror films staple and instead churns out an engaging story with oven-fresh treatment.

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more