For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Preview: 5 कारण क्यों देखें रंगरसिया

    |

    नंदना सेन और रणदीप हुड्डा की फिल्म रंगरसिया बहुत ज़्यादा नाम कमा चुकी है। अपने बोल्ड कंटेंट और इंटिमेट दृश्यों की वजह से फिल्म ने बहुत जल्दी ध्यान खींचा। कहा जा रहा है कि फिल्म कई सालों से सेंसर बोर्ड में अटकी पड़ी है पर अब जब फिल्म को रिलीज़ के लिए हरी झंडी मिली है तबसे भी केवल गलत कारण और कंट्रोवर्सी की वजह से फिल्म का नाम लिया जा रहा है। एक अच्छी फिल्म कंट्रोवर्सी की भेंट न चढ़ जाए इसलिए हम आपको देते हैं पांच कारण जो बनाते हैं इस फिल्म को Must Watch -

    केतन मेहता

    केतन मेहता

    अगर आपने मंगल पांडे - द राइज़िंग देखी है तो केतन मेहता को देखने ज़रूर जाएं और अगर आपने केतन मेहता का नाम पहले नहीं सुना है तो शायद आप बेहतरीन सिनेमा मिस कर रहे हैं। केतन इतिहास को परदे पर उतारने की कला बखूबी जानते हैं। इस बार भी उन्होंने एक विवाद से भरा ऐतिहासिक विषय उठाया है और दर्शकों को उम्मीद है कि वो न्याय ज़रूर करेंगे।

    राजा रवि वर्मा

    राजा रवि वर्मा

    इतिहास में वापस ले जाती रंगरसिया, राजा रवि वर्मा का जीवन बयान करती है। राजा रवि वर्मा एक चित्रकार जिनकी कला को हमेशा अश्लील तबका दे दिया। फिल्म देखकर आप खुद डिसाइड करें कि क्या ज़रूरी था एक बेहतरीन कलाकार की प्रतिभा या बंद समाज की ढंकी सोच!

    रणदीप हुड्डा

    रणदीप हुड्डा

    रणदीप की खासियत है कि वो हर फिल्म में पिछली से बेहतर प्रदर्शन करते हैं। हाईवे में हरियाणवी जाट के रोल में जहां उन्होंने तहलका कर दिया वहीं अब वो पुरानी सदी के राजा का शाही ढंग परदे पर उतारने को तैयार हैं और फिल्म का ट्रेलर बता चुका है कि उन्होंने कमाल का काम किया है

    नंदना सेन

    नंदना सेन

    वह हिंदी सिनेमा में ज़्यादा नहीं दिखी है पर लेकिन वो जब भी परदे पर आईं हैं अपना काम बखूबी कर के गई हैं। ब्लैक, प्रिंस, झूठा ही सही सबमें उनका अभिनय बेजोड़ है। इसके अलावा वो एक मंझी हुई अदाकारा हैं और फूहड़ और अश्लील सिनेमा से अब तक कोसों दूर हैं।

     संदेश शांडिल्य, सोनू निगम, रूप कुमार राठौड़

    संदेश शांडिल्य, सोनू निगम, रूप कुमार राठौड़

    संगीत के बिना कोई भी फिल्म अधूरी है। रूप कुमार राठौड़ की आवाज़ अग्निपथ के सैंया के बाद सुनाई नहीं दी है। उन्हें सुनना सुकून देगा वहीं सोनू निगम भी बहुत अरसे बाद किसी अच्छे गीत में सुनाई देंगे। कभी खुशी कभी गम और जब वी मेट में सुर बिखेर चुके संदेश शांडिल्य का संगीत भी फिल्म को देखने लायक बनाता है।

    English summary
    Not only boldness or intimacy, Rangrasiya has many more dimensions. We give you five reasons why to watch the film.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X