»   » Watch or Not..फिल्म शाहरुख जैसी और गाना अक्षय का...ये तो नाइंसाफी है!

Watch or Not..फिल्म शाहरुख जैसी और गाना अक्षय का...ये तो नाइंसाफी है!

By: shivani verma
Subscribe to Filmibeat Hindi

कल फिल्मी फ्राइडे को सिनेमाघरों में दो हिंदी फिल्में रिलीज़ हो रही हैं। पहली अब्बास मस्तान निर्देशित फिल्म 'मशीन' और दूसरी राजकुमार राव की फिल्म ट्रैप्ड। फिलहाल हम बात करने जा रहे हैं अब्बास मस्तान की फिल्म मशीन के बारे में। इस फिल्म से अब्बास के बेटे एक्टिंग में डेब्यू कर रहे हैं।

फिल्म में मुस्तफा के अलावा कियारा आडवाणी मुख्य भूमिका में हैं। इस फिल्म के ट्रेलर में दिखाया गया है कि ये फिल्म थ्रिलर है। साथ ही ट्रेलर में ये भी साफ दिख रहा है कि आपको फिल्म देखने के दौरान हो सकता है कि शाहरुख खान की बाज़ीगर और सैफ अली खान की रेस की याद आ जाए। क्योंकि इसमें कार रेस और बाज़ीगर जैसा थ्रिलर आपको देखने को मिल सकता है।

TRAILER: 2017 की बहुप्रतीक्षित फिल्म.. बाहुबली 2.. देंखे धमाकेदार ट्रेलर

बहरहाल, हम यहां बात करने जा रहे हैं उन मुद्दों पर जो आपको इस बात का फैसला लेने में मदद करेंगे कि ये फिल्म देखनी चाहिए या नहीं..

अब्बास-मस्तान की फिल्म

अब्बास-मस्तान की फिल्म

इस फिल्म को देखने की सबसे बड़ी खास बात ये है कि इस फिल्म को अब्बास-मस्तान डायरेक्ट कर रहे हैं। बाज़ीगर, दरार, बादशाह, रेस के साथ साथ बॉलीवुड को कई सुपरहिट फिल्में देने के बाद ये दोनों भाई मशीन जैसी फिल्म हमारे लिए लेकर आए हैं। फिल्म में ऐसा क्या क्या खास है इसे जानने के लिए ये फिल्म देखनी तो बनती है।

फिल्म का म्यूज़िक

फिल्म का म्यूज़िक

इस फिल्म का म्यूज़िक लोगों को काफी पसंद आ रहा है। बैकग्राउंड म्यूज़िक से लेकर फिल्म के गानों को लोगों ने पसंद किया है।

थ्रिलर

थ्रिलर

फिल्म के ट्रेलर में ये पता चल गया है कि ये एक थ्रिलर फिल्म है। थ्रिलर फिल्म को देखना लोग पसंद करते हैं। फिल्म में हर पल कुछ न कुछ सस्पेंस मिल सकता है।

एक्टर मुस्तफा

एक्टर मुस्तफा

इस फिल्म से अब्बास के बेटे मुस्तफा एक्टिंग में डेब्यू कर रहे हैं। और अच्छी बात ये है कि लोग मुस्तफा को पसंद भी कर रहे हैं।

एक्शन

एक्शन

जैसा कि आपको बताया कि ये एक थ्रिलर फिल्म है और थ्रिलर में ज़बर्दस्त एक्शन देखने को आपको मिलेगा ही। और एक्शन फिल्में देखना लोग पसंद करते हैं। तो आपको भी ये फिल्म एक बार देखनी चाहिए।

नेगेटिव बातें

नेगेटिव बातें

वहीं अब बात करें कि इस फिल्म में नेगेटिव क्या क्या हो सकता है तो सबसे पहले इसके रीमिक्स गानों पर ध्यान जाता है। अक्षय कुमार-रवीना टंडन की फिल्म के गाने 'तू चीज़ बड़ी है मस्त मस्त' को लेकर लोगों की मिली जुली प्रक्रिया आ रही है। इसका ऑरिजिनल गाना जितना बेहतरीन है उसके मुकाबले इसका रीमिक्स कम ही पसंद आ रहा है।

डायलॉग

डायलॉग

इस फिल्म के ट्रेलर में जितने डायलॉग दिखाए गए हैं वो बिल्कुल भी दमदार नहीं लगे। मुस्तफा का डायलॉग 'मैं ब्रेक पर पांव नहीं रखता..क्योंकि मुझे मरने से डर नहीं लगता'..अब ऐसे डायलॉग कौन बोलता है भला!

फिल्म का Buzzz कम

फिल्म का Buzzz कम

जिस तरह से शाहरुख सलमान या और बड़े स्टार की फिल्मों की चर्चाएं बहुत पहले से ही शुरू हो जाती हैं उस तरह से इस फिल्म की ज़्यादा चर्चाएं नहीं हैं। हो सकता है वर्ड ऑफ माउथ कम होने से इस फिल्म की ऑडियंस पर असर पड़े।

रेस और बाज़ीगर से मिलती जुलती कहानी

रेस और बाज़ीगर से मिलती जुलती कहानी

इस फिल्म का कार सीक्वेंस सैफ अली खान की फिल्म रेस से मिलता जुलता है। वहीं ट्रेलर के अंत में दिखाया गया है कि इसमें एक रिवेंज ड्रामा है जो कहीं न कहीं आपको शाहरुख खान की फिल्म बाज़ीगर की याद दिलाएगा। अब हमने ये दोनों फिल्में देखी हुई हैं तो मशीन फिल्म देखने की क्या ज़रूरत।

English summary
Kiara Advani and Mustafa's movie machine negetive and postive points.
Please Wait while comments are loading...