For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सन्नी देओल अपनी कमी खुद निकालते हैं..

    |

    शुक्रवार को प्रदर्शित हुई फिल्म 'सिंह साहब द ग्रेट' को औसत सराहना मिली है, लोगों के लिए इसमें फिल्मी मसाला तो है लेकिन फिल्म दर्शकों को लुभाने में ज्यादा सफल नहीं हो पायी है।हालांकि पंजाब औऱ सन्नी देओल के चाहने वालों को फिल्म अच्छी लग रही है। फिल्म की बॉक्सऑफिस रिपोर्ट से साफ हो पायेगा कि फिल्म लोगो को कितना पसंद आयी। फिल्म के बारे में सुनते हुए सन्नी देओल ने अपने बारे में भी एक खास बात लोगों के सामने शेयर की।

    सन्नी ने कहा कि वह अपने काम के सबसे बड़े आलोचक हैं। उन्हें अपने बारे में बेहतर मालूम रहता है, जब वह अभिनय में बेहतर प्रस्तुति नहीं दे पाते। उन्होंने कहा, "मैं खुद भी अपना आलोचक हूं। मुझे अच्छी तरह पता होता है कि मैं कहां सही हूं और कहां पर गलत होता हूं। कई बार लोग कहते हैं कि कितना बढ़िया शॉट दिया, पर मुझे खुशी नहीं होती। मुझे लगता है कि यह क्या था? मैं वह नहीं कर पाया, जो मैं करना चाहता था।"

    अपने पापा धर्मेंन्द्र को अपना रोल मॉडल बताने वाले सन्नी देओल ने कहा कि रीमेक के इस दौर में वह पिता धर्मेद्र की फिल्मों का रीमेक नहीं बना सकत हैं क्योंकि इन फिल्मों को बनाने का कोई मतलब नहीं है, क्योंकि वे प्रतिष्ठित फिल्में हैं।सन्नी ने साफ कहा कि "आप उन फिल्मों से विचार ले सकते हैं, लेकिन उनका रीमेक नहीं बना सकते। उनकी फिल्में प्रतिष्ठित हैं, मैं उनका रीमेक नहीं बना सकता।"

    English summary
    Actor Sunny Deol says he is the biggest critic of his work and knows it very well when his performance is not upto the mark.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X