For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

मेरे अच्छे दिन तो अब शुरू हुए हैं, कमबैक पर बोले संजय दत्त

|

संजय दत्त, प्रस्थानम रीमेक के साथ एक बार फिर से बॉलीवुड में अपनी वापसी का रास्ता बना रहे हैं। वहीं पत्नी मान्यता के साथ संजय दत्त अब प्रोड्यूसर बन चुके हैं और उनका कहना है कि ये उनके करियर का अगला बड़ा कदम है। अब वो फिल्में प्रोड्यूस और डायरेक्ट करने की ओर ध्यान देंगे।

गौरतलब है कि 1993 बंबई बम ब्लास्ट के दौरान, राईफल और कारतूस रखने के आरोप में संजय दत्त पर TADA लगा था और उन पर कई धाराएं लगाई गई थीं। इसके बाद संजय दत्त को जेल की सज़ा काटनी पड़ी थी। कोर्ट केस चलते चलते और सज़ा काटते काटते संजय दत्त ने लगभग अपनी पूरी ज़िंदगी निकाल दी।

अब संजय दत्त की सज़ा पूरी तरह से 2016 में खत्म हो गई जिसके बाद से संजय दत्त की धमाकेदार वापसी का इंतज़ार हो रहा है। जेल की सज़ा खत्म होने के बाद संजय दत्त ने भूमि से वापसी की थी लेकिन फिल्म दर्शकों का दिल नहीं जीत पाई थी।

अब संजय दत्त प्रस्थानम के साथ एक बार फिर से वापसी कर रहे हैं। गौरतलब है 12 मार्च 1993 को बम्बई में 13 बम धमाके हुए जिसके बाद मुंबई दहल गया था। इस बम ब्लास्ट में 257 जान गईं और 750 से ऊपर लोगों का सब कुछ लुट गया।

अपनी फिल्म की शूट से मॉरीशस से लौटे संजय दत्त को पुलिस ने गिरफ्तार। उनके घर के दूसरे माले से एक एक 56 राइफल बरामद हुई जो उस जत्थे में थी, जिसका इस्तेमाल ब्लास्ट के दौरान हुआ।


संजय दत्त ने पुलिस के सामने अपने सारे गुनाह कुबूल किए थे लेकिन इसके बाद वो अपने हर बयान से पीछे हट गए। अदालत में उन बयानों के कोई मायने नहीं थे जो पुलिस के सामने दिए गए।

5 साल के लिए जेल गए थे दत्त

5 साल के लिए जेल गए थे दत्त

आतंकी गतिविधियों पर नज़र रखने वाली टाडा कोर्ड ने संजय दत्त को कोर्ट हाज़िरी का समन भेजा और उन्हें आतंकी गतिविधियों में संलिप्तता का केस दर्ज हुआ। 28 नवंबर 2006 को संजय दत्त को गैर कानूनी हथियार रखने का दोषी पाया गया और 5 साल की सज़ा दी गई। वहीं उन पर आतंकवादी गतिविधियों के आरोपों से बरी कर दिया गया।

नहीं मानी गई थी अपील

नहीं मानी गई थी अपील

संजय दत्त को पुणे के यरवदा जेल भेजा गया। फिर अगस्त में सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें बेल पर छोड़ दिया। 2013 में वापस उन्हें सरेंडर करने को कहा गया और 4 हफ्तों का वक्त दिया। संजय दत्त ने वापस अपील की पर इस बार सुप्रीम कोर्ट ने उनकी बात नहीं मानी।

वापस लिए थे बयान

वापस लिए थे बयान

हम आपको पढ़ाना ज़रूर चाहेंगे वो 10 बयान जो संजय दत्त ने अपनी पहली गिरफ्तारी के बाद पुलिस को दिए थे। हालांकि उन्होंने कोर्ट के सामने ये सारे बयान वापस ले लिए थे -

दाउद से मिला था

दाउद से मिला था

संजय दत्त उस वक्त यलगार नाम की फिल्म कर रहे थे जिसकी शूटिंग दुबई में हो रही थी। संजय ने पुलिस को बताया कि दुबई में वो दाउद इब्राहिम की पार्टी में गए जहां वो याकूब, टाईगर, अबू सलेम से मिले।

मारने की धमकी थी

मारने की धमकी थी

संजय ने कहा कि उन्हें राइफल चाहिए थी क्योंकि उनके पिता कांग्रेस एमपी थे और मां मुस्लिम। दंगे में उजड़े मुस्लिमों की मदद की वजह से उन्हें लगातार धमकियां मिल रही थीं कि उनकी बहनों का रेप कर दिया जाएगा और उन्हें मार दिया जाएगा।

दंगा खत्म होने तक चाहिए थी

दंगा खत्म होने तक चाहिए थी

संजय दत्त ने अबू सलेम और उनके साथियों को अपने घर बुलाया और उन्हें तीन राइफल दी गई। संजय ने एक रखने को कहा और बाकी लौटा दी। अबू के साथियों ने उन्हें हैंड ग्रेनेड भी दिखाई और पूछा कि वो भी चाहिए क्या।

रिक्वेस्ट की थी ले जाओ

रिक्वेस्ट की थी ले जाओ

संजय दत्त ने कहा कि उन्हें राइफल केवल दंगा शांत होने तक चाहिए थी और ऐसा होते ही उन्होंने हनीफ को फोन कर राइफल ले जाने को कहा था लेकिन हनीफ नहीं माना।

छिपा दी थी राइफल

छिपा दी थी राइफल

इसके बाद संजय दत्त ने राइफल अपने घर के दूसरे माले पर छिपा दी थी और अपने काम में व्यस्त हो गए। इसके बाद उन्हें आतिश फिल्म की शूटिंग के लिए मॉरीशस जाना था।

पुलिस को बताना चाहा था

पुलिस को बताना चाहा था

उन्होंने इस बारे में पुलिस को बताना चाहा था पर वो डर गए थे कि इससे उनके परिवार का नाम काफी खराब होगा। इसलिए उन्होंने अपने सेक्रेटरी की मदद से राइफल छिपा दी।

शूटिंग में व्यस्त हो गया

शूटिंग में व्यस्त हो गया

12 मार्च के बम धमाकों के बाद शूटिंग में व्यस्त हो गया। इसके बाद दोस्तों से टाईगर नाम के एक आदमी की काफी चर्चा सुनी थी कि बहुत ही तगड़ा बंदा है। उससे पुलिस भी डरती है।

जब तक कुछ कर पाता...

जब तक कुछ कर पाता...

जब 93 के आरोपियों के नाम बाहर आए तो मैं डर गया। मैंने अपने दोस्त को फोन कर वहां से राइफल हटाने को कहा लेकिन तब तक पुलिस ने उसे बरामद कर लिया था।

पिता से बोला झूठ

पिता से बोला झूठ

जब मेरे पिता ने मुझसे इस बारे में पूछा कि तो मैंने झूठ बोला क्योंकि मैं डर गया था। हालांकि वापस आते ही मुझे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। और मैंने सब सच बता दिया था।

NOTE : ये सारे बयान संजय दत्त ने कोर्ट के सामने वापस ले लिए थे!

English summary
Sanjay Dutt talked about his comeback and producing films. ‘My dark days are over' says an elated Dutt.
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more