For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    राहत की हिरासत से कुछ परेशान तो कुछ खामोश

    By Neha Nautiyal
    |
    विदेशी मुद्रा रखने के आरोप में दिल्ली में पाकिस्तानी गायक राहत फतेह अली खान को हिरासत में लिए जाने से जहां दोनों देशों के संगीत जगत के लोगों को दुख हुआ तो वहीं कुछ लोगों ने इस घटनाक्रम पर कोई टिप्पणी न देना ही उचित समझा।

    राहत भारत में संगीत समारोहों और पुरस्कार समारोहों में शामिल होने के बाद पाकिस्तान के लिए लौट रहे थे लेकिन उन्हें रविवार को दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर हिरासत में ले लिया गया। उनके 15 सदस्यीय दल के पास से 100,000 डॉलर से ज्यादा अघोषित विदेशी मुद्रा मिली थी।

    पाकिस्तानी संगीतकार व गायक अली जफर ने इस में कहा, 'यह दुखद है। मुझे घटना के विषय में विस्तृत जानकारी नहीं है, मैं नहीं जानता कि कैसे, क्या हुआ। हम सभी उनका सम्मान करते हैं और मैं उनका बहुत बड़ा प्रशंसक हूं।' डीआरआई की दो दिन की पूछताछ के बाद राहत को सोमवार को रिहा कर दिया गया लेकिन उन्हें भारत छोड़कर जाने की इजाजत नहीं दी गई है।

    निर्देशक व संगीतकार विशाल भारद्वाज ने कहा, 'जो कुछ हुआ वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है हम सभी जानना चाहेंगे कि सच क्या है। राहत फतेह अली खान सिर्फ पाकिस्तान से ही ताल्लुक नहीं रखते हैं, वह भारत के महान गायकों में से भी एक हैं।'

    इस मामले पर शंकर महादेवन, शान और प्रसून जोशी जैसी हस्तियों की भी टिप्पणियां लेने की कोशिश की गई लेकिन वे उपलब्ध नहीं थे। राहत को 'इश्किया' के गीत 'दिल तो बच्चा है जी' के लिए स्टार स्क्रीन व फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

    English summary
    Pakistani singer Rahat Fateh Ali Khan's detention in Delhi on the charge of carrying undisclosed foreign currency have upset some in the music fraternity.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X