For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    दुष्यंत का 'प्रिय अमित' आज महनायक बन गया

    |

    मेरे सीने में नहीं तो तेरे सीने मे सही, हो कहीं भी आग, लेकिन आग जलनी चाहिए... इस लोकप्रिय लाइन के रचनाकार महाकवि दुष्यन्त कुमार भी सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के मुरीद थे। इस बात का खुलासा हाल ही में हुआ है।

    अमिताभ बच्चन की सुपरडूपर हिट फिल्म दीवार की एक्टिंग देखकर कविराज इतने खुश हुए कि उन्होंने अमिताभ की तारीफ करने और हौसलाअफजाई के लिए एक खत लिखा था जिसमें उन्होंने अपने प्रिय अमित की जमकर तारीफ की थी।

    दुष्यन्त कुमार ने लिखा था कि फिल्म दीवार में अमिताभ ने जो रोल निभाया है उसकी जितनी प्रशंसा की जाये वो कम ही है। उनका आत्मविश्वास और सजीव अभिनय के आगे शशि कपूर जैसा महानायक भी बौना हो गया।

    तब दुष्यन्त कुमार को यह थोड़े ही पता था कि वो आज जिसकी तारीफ कर रहे हैं वो सदी का महानायक साबित होगा। अमिताभ को लिखी गई ये चिट्ठी अब भोपाल शहर में स्थित दुष्यंत कुमार स्मारक पांडुलिपि संग्रहालय की शान बढ़ा रही है।

    मालूम हो कि अमिताभ बच्चन इन दिनो भोपाल में ही हैं। जहां वो प्रकाश झा की आने वाली फिल्म सत्याग्रह का शूटिंग में व्यस्त हैं। फिल्म में वो अन्ना हजारे का किरदार निभा रहे हैं। फिल्म 15 अगस्त को रिलीज होगी।

    English summary
    Great Hindi Poet Dushyant Kumar is a big Fan of Mega Star Amitabh Bachchan.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X