For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    चंडीगढ़ के लिए गुल ने खाया राजमा-चावल और पी 25 कप चाय

    |

    इस बार का लोकसभा चुनाव अपने आप में काफी रोमांचक है। देश की हर सीट की लड़ाई अपने-आप में एक नई कहानी कह रही है लेकिन जो बात चंडीगढ़ में दिख रही है वो कहीं और नहीं। यहां कि सीट पर दो खूबसूरत तारिकाओं की टक्कर है। एक है भारतीय सुंदरी गुल पनाग तो एक हैं बॉलीवुड की फेमस करेक्टर आर्टिस्ट किरण खेर।

    जिस तरह से लीक से हटकर फिल्में गुलपनाग ने अपने करियर में चुनी हैं उसी तरह से वो लोगों से जुदा अंदाज में लोगों से वोट मांग रही हैं। आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार गुल पनाग इन दिनों सुबह-सुबह पार्को में सैर करती हुई और चंडीगढ़ की सड़कों पर 350 सीसी की रॉयल एनफील्ड मोटरसाइकिल चलाती हुई चुनाव प्रचार कर रही हैं।

    चंड़ीगढ़ के लिए गुल ने छेड़ी किरण के खिलाफ ट्विटर जंग

    लोगों से मुलाकात के लिए वह अलस्सुबह सुखना लेक पर जॉगिंग करने निकल पड़ती हैं और पार्को में सैर करते हुए लोगों से हाथ मिलाती हैं। दोपहर में वह पंजाब विश्वविद्यालय के पास किसी ढाबे में विद्यार्थियों संग राजमा-चावला खाती नजर आती हैं। मालूम हो कि खूबसूरती के शहर चंडीगढ़ में मतदान 10 अप्रैल को है।

    पहले चंडीगढ़ सीट से आप की उम्मीदवार दिवंगत हास्य कलाकार जसपाल भट्टी की पत्नी सविता भट्टी थीं, लेकिन बाद में गुल को मैदान में उतारा गया। बॉलीवुड की चकाचौंध भरी दुनिया से सीधे राजनीति में आईं गुल ने स्वयं को राजनीति की मुख्यधारा में पाकर बेहद खुश और उत्साहित हैं।

    आगे की खबर स्लाइडों में..

    गुल पनाग-किरण खेर-पवन बंसल

    गुल पनाग-किरण खेर-पवन बंसल

    गुल का मुकाबला कांग्रेस के मौजूदा सांसद और चार बार सांसद रहे चुके पवन कुमार बंसल और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उम्मीदवार अभिनेत्री किरण खेर से है। गुल चंडीगढ़ के 600,000 से अधिक मतदाताओं को रिझाने की हर तरकीब आजमा रही हैं।

    मोटरसाइकिल की सवारी

    मोटरसाइकिल की सवारी

    गुल प्रचार अभियान में कहीं मोटरसाइकिल से तो कहीं पैदल चलती दिखाई देती हैं। इसकी वजह वह फंड की कमी बताती हैं और कहती हैं कि इसका एक फायदा यह भी है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों से मिल पाती हैं।

    राजमा-चावल खा रही हैं..

    राजमा-चावल खा रही हैं..

    गुल शाम के समय पीजीआईएमआईआर के नजदीक सड़क किनारे के एक ढाबे पर खाना खाती देखी जाती हैं। दिन में पंजाब विश्वविद्यालय परिसर के स्टूडेंट-कैंटीन में राजमा-चावल खाती हैं। गुल ने अपनी पी.जी. (स्नातकोत्तर) की पढ़ाई इसी संस्थान से की है। कई दिन भीड़ भरे बाजार में पान की दुकान पर पान खाती भी नजर आईं।

     25 कप चाय पी रही हैं गुल

    25 कप चाय पी रही हैं गुल

    गुल ने बताया, "यह मेरा लोगों के साथ सीधे तौर पर जुड़ने का तरीका है। लोगों के बातचीत करते हुए मैं रोज 25 कप तक चाय पी जाती हूं। चाय न केवल मुझे लोगों से जोड़ती है, बल्कि तरो-ताजा भी करती है।"

    साइकिल की सवारी

    साइकिल की सवारी

    यही नहीं, उन्होंने पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने और चंडीगढ़ में बढ़ते यातायात पर चिंता जाहिर करने के लिए साइकिल की सवारी भी करती हैं।

    English summary
    Gul Panag has already proved she is no pushover in the election for Chandigarh's lone Lok Sabha seat. she rides a Royal Enfield 350 cc bike, walks in parks and shares a quick bite of rajma-chawal with students at Panjab University's popular haunt.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more
    X