»   » 30 साल बाद भी भोपाल त्रासदी खड़े कर देगी रोंगटे

30 साल बाद भी भोपाल त्रासदी खड़े कर देगी रोंगटे

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

करीब 30 साल पहले दिसंबर 1984 में भोपाल में हजारों निर्दोष लोगों की जिंदगी एक पल में खत्म हो गयी। हुआ कुछ यूं था कि भोपाल स्थित यूनियन कार्बाइड कीटनाशक संयंत्र से दुर्घटनावश निकलकर पूरे वातावरण में जहरीली गैस फैल गयी। इस हादसे का शिकार हुए लोगों का दर्द बड़े परदे पर उतारने के लिए कई फिल्मकार व कलाकार आगे आए। कई फिल्मों के जरिये इस हादसे को लोगों के सामने लाया गया।

आज इस त्रासदी को कुल 30 साल पूरे हो गये हैं। इस मौके पर आइये उन फिल्मों पर डालते हैं एक नज़र जो इस त्रासदी पर आधारित थीं।

'भोपाल : ए प्रेयर फॉर रेन'

'भोपाल : ए प्रेयर फॉर रेन'

फिल्मकार रवि कुमार की यह फिल्म पांच दिसंबर को भारत में प्रदर्शित हो रही है। फिल्म सात नवंबर को न्यूयार्क के एक सिनेमाघर में प्रदर्शित हो चुकी है। इसके अलावा लॉस एंजेलिस में 14 नवंबर को और अमेरिका के कुछ शहरों में दिखाई जा चुकी है।

हॉलीवुड कलाकार मार्टिन शीन, मिशा बर्टन, काल पेन और भारतीय कलाकार राजपाल यादव एवं तनिष्ठा चटर्जी ने इसमें काम किया है।

'भोपाल एक्सप्रेस'

'भोपाल एक्सप्रेस'

फिल्मकार महेश मिथाई ने 1999 में यह फिल्म बनाई थी, जिसमें के के मेनन, नसीरूद्दीन शाह, नेत्रा रघुरामन और जीनत अमान जैसे उम्दा फिल्म कलाकारों ने काम किया था। फिल्म में हादसे से प्रभावित एक नवदंपति के जीवन को दर्शाया गया था।

'वन नाइट इन भोपाल'

'वन नाइट इन भोपाल'

बीबीसी ने काल्पनिक किरदारों और कहानी से इतर साल 2004 में यह डॉक्यूमेंट्री बनाई थी, जिसमें भोपाल गैस त्रासदी पीड़ितों और भुक्तभोगियों के दर्द और अनुभवों को उन्हीं की जुबानी पर्दे पर चित्रित किया गया था।

'भोपाली'

'भोपाली'

गैस त्रासदी की घटना से हटके फिल्मकार वैन मैक्समिलियन कार्लसन ने त्रासदी पीड़ितों के हालात और स्थिति पर केंद्रित डॉक्यूमेंट्री बनाई थी, जिसमें यूनियन कार्बाइड के खिलाफ पीड़ितों की न्याय के लिए जंग को दिखाया गया था।

'संभावना'

'संभावना'

फिल्मकार जोसेफ मेलन ने चार साल पहले भोपाल गैस त्रासदी पर डॉक्यूमेंट्री बनाई थी, जो आज भी दर्शकों का दिल दहला देती है। एक तरफ जहां डॉव केमिकल ने भोपाल के निर्दोष लोगों के प्रति अपने उत्तरदायित्व से मुंह मोड़ लिया था, वहीं संभावना क्लीनिक जैसे छोटे से अस्पताल ने हजारों पीड़ितों को मुफ्त में उपचार और चिकित्सा देकर मानवीयता की मिसाल पेश की थी।

'द यस मेन फिक्स द वर्ल्ड'

'द यस मेन फिक्स द वर्ल्ड'

यह राजनीतिक डॉक्यूमेंट्री फिल्मकार एंडी बिचलबम और माइक बोनान्नो ने मिलकर बनाई थी। फिल्म मुख्य रूप से भोपाल गैस त्रासदी पीड़ितों के हक और न्याय की लड़ाई पर केंद्रित थी। निर्देशक कुर्त एंगफेहर ने भी फिल्म में योगदान दिया था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary
    Bhopal Gas tragedy is one of the biggest disaster happened in India. Its been 30 years of this tragedy. Thousands of people lost their lives due to this tragedy. Here are movies who portrayed this disaster on silver screen.

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more