»   » मुंबई में ना 'जब तक है जान' ना 'सन ऑफ सरदार' सिर्फ 'एक था टाइगर'

मुंबई में ना 'जब तक है जान' ना 'सन ऑफ सरदार' सिर्फ 'एक था टाइगर'

Subscribe to Filmibeat Hindi

कल 17 नवंबर को मुंबई के टाइगर बाल ठाकरे के निधन के बाद से पूरा मंबई शहर जैसे निर्जीव हो गया है। कल रात से पूरे शहर में कर्फ्यू जैसा माहौल है। सारी सड़कें सूनी पड़ी हैं, टीवी पर कोई फिल्मी या डेली सोप चैनल टेलीकास्ट नहीं हो रहा और सिर्फ न्यूज चैनल ही टीवी पर नज़र आ रहे हैं। सिर्फ सड़कों पर ही नहीं बल्कि सिनेमाहॉलों में भी आज पूरा दिन सन्नाटा पसरा रहेगा क्योंकि बाल ठाकरे के निधन की वजह से सभी ने फैसला किया है कि आज मुंबई के किसी भी सिनेमाहॉल में किसी भी फिल्म का शो नहीं होगा।

मुंबई के बिग सिनेमा, सिनेमैक्स, पीवीआर के साथ साथ सिंगल स्क्रीन थियेटर गाइटी, गैलेक्सी और मराठा मंदिर में भी आज के जितने भी शो थे वो रद्द कर दिये गये हैं। इसका सीधा असर पड़ेगा शाहरुख खान की 13 नवंबर को रिलीज हुई जब तक है जान और अजय देवगन की सन ऑफ सरदार के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन पर पड़ेगा। अभी तक जब तक है जान ने 50 करोड़ और सन ऑफ सरदार ने 60 करोड़ का कलेक्शन किया है। लेकिन आज पूरे मुंबई शहर में एक भी शो ना चलने का असर इनके कलेक्शन को कम कर देगा।

मुंबई की शहरों में इस वक्त बालासाहब की अंतिम यात्रा निकाली जा रही है। लोगों को घर से बाहर निकलने के लिए मना कर दिया गया है ताकि और ज्यादा भीड़ ना हो और लोग बेवजह किसी मुसीबत में ना फंसे। शाहरुख खान जिनकी बालासाहब से कुछ खास नहीं जमती थी और जिन्हें कई बार बालासाहब ने काफी बुरा भला भी कहा था ने भी बालासाहब के निधन पर शोक जताया और ट्वीट किया "कई बार हम व्यक्तगत मसलों की वजह से लोगों के और अपने बीच कोई सेतु नहीं बनाते। और फिर बहुत देर हो जाती है। मुझे बालासाहब से एक बार जाकर मिलना चाहिए था।"

फिल्हाल पूरे मुंबई शहर में सिर्फ टाईगर की शांत हो चुकी दहाड़ पर ही पूरा मुंबई शहर शोक मना रहा है। तो कुल मिलाकर ये कहा जा सकता है आज मुंबई में ना जब तक है जान और ना ही सन ऑफ सरदार दिखाई जाएगी दिखाई जाएगी तो सिर्फ एक था टाईगर। देखिये आप भी बाल ठाकरे के निधन से शांत पड़ी मुंबई की एक झलक

बाल ठाकरे का पार्थिव शरीर

बाल ठाकरे का पार्थिव शरीर

18 नवंबर को बाल ठाकरे की अंतिम यात्रा निकाली गयी। उनके पार्थिव शरीर को देखकर हर कोई फूट फूट कर रोया।

मुंबई की सूनी सड़कें

मुंबई की सूनी सड़कें

बाल ठाकरे के निधन के बाद से ही मुंबई की सड़कों पर सन्नाटा पसर गया।

बालासाहब के पोस्टर

बालासाहब के पोस्टर

पूरे मुंबई शहर में बालासाहब के बड़े बड़े पोस्टर लगाए गये और रात से ही उनपर मालाएं चढाई गयीं।

गाडियों पर भी पोस्टर

गाडियों पर भी पोस्टर

मुंबई की सड़कों पर ही नहीं बल्कि वहां सड़कों पर उतरे सभी वाहनों पर भी बालासाहब की तस्वीर ही नज़र आई।

बाला साहब के अंतिम दर्शन

बाला साहब के अंतिम दर्शन

बाला साहब के अंतिम दर्शन के लिए जनसैलाब उमड़ पड़ा।

बाला साहब के प्रति लोगों का प्रेम

बाला साहब के प्रति लोगों का प्रेम

सुबह से ही लोग बालासाहब के अंतिम दर्शन के लिए जगह जगह पर झुंड बनाकर खड़े थे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary
    Bal Thackeray death is a huge loss for Mumbai. Whole city is silent today. All the shows of the movies were being cancelled by the authorities. All theaters are also closed as well as the market. It will effect the Box Office collection of all the movies.
    भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?

    रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Filmibeat sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Filmibeat website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more