For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    भाग मिल्खा भाग- सोनम कपूर इंटरव्यू

    |

    रांझना फिल्म की अपार सफलता के बाद बॉलीवुड की स्टाइल आइकन और बेहतरीन अदाकारा सोनम कपूर की भाग मिल्खा भाग फिल्म जल्द ही रिीज होने वाली है। भाग मिल्खा भाग में सोनम कपूर का किरदार बहुत ही छोटा सा है लेकिन सोनम ने फिल्म सिर्फ इसलिए की क्योंकि वो चाहती थीं कि फरहान अख्तर जैसे बेहतरीन एक्टर के साथ वो काम करें और अपनी आने वाली पीढ़ी को बता सकें कि उन्होंने फरहान के साथ काम किया था। सोनम कपूर ने बताया कि उनके पापा अनिल कपूर आज भी उन्हें एडवाईज देती हैं जिन्हें अक्सर वो फॉलो करती हैं। आइये जानते हैं कि वनइंडिया की रिपोर्टर सोनिका मिश्रा के साथ हुई बातचीत के दौरान सोनम ने और क्या-क्या बताया अपनी फिल्म भाग मिल्खा भाग के बारे में।

    जैसा कि हमने सुना कि आपने भाग मिल्खा भाग फिल्म इसलिए की क्योंकि आप फरहान के साथ काम करना चाहती थीं। क्या सिर्फ एक यही वजह थी भाग मिल्खा भाग साइन करने के पीछे?

    भाग मिल्खा भाग मैंने इसलिए साइन क्योंकि मैं फरहान अख्तर की बहुत बड़ी फैन हूं। फरहान अख्तर एक बहुत ही बेहतरीन एक्टर, निर्देशक और निर्माता हैं। मैं चाहती हूं कि भविष्य में मैं अपने बच्चों और उनके बच्चों को ये बताऊं कि मैंने फरहान अख्तर के साथ काम किया था। इसके अलावा राकेश मेहरा एक ऐसे निर्देशक है जिनके साथ मैं बार-बार काम करना चाहूंगी। साथ ही प्रसून जोशी ने ऐसी स्क्रिप्ट लिखी है कि जिसे पढ़कर मैंने डिसाइड कर लिया कि मुझे इस फिल्म में काम करना है भले ही मेरा किरदार छोटा सा ही क्यों ना हो।

    रांझना फिल्म की सफलता के बाद क्या बदलाव आप महसूस कर रहीं हैं अपनी निजी जिदगी में और अपने करियर में?

    (हंसते हुए) रांझना की सफलता को इंज्वॉय करने का मुझे वक्त ही नहीं मिल रहा है। रांझना की सफलता से मैं बहुत खुश हूं। मैंने ये सोचकर रांझना फिल्म नहीं की थी कि ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट होगी। बल्कि मैंने इसलिए ये फिल्म की क्योंकि रांझना फिल्म मुझे इंडस्ट्री की बेहतरीन फिल्मों में से एक लगी। फिल्म की शूटिगं खत्म करने के बाद मुझे ऐसा लगा कि मेरा लक्ष्य पूरा हुआ क्योंकि ये एक बहुत ही बेहतरीन फिल्म थी और साथ ही आनंद राय जो कि मेरे पंसदीदा निर्देशक हैं जिनके साथ मैं बरा बार काम करना चाहूंगी। रांझना के बाद मैंने भाग मिल्खा भाग की शूटिंग शुरु कर दी थी और अब भाग मिल्खा भाग के बाद मैं आयुष्मान के साथ फिल्म कर रही हूं तो वक्त ही नहीं मिल रहा कि मैं रांझना की सफलता को सेलिब्रेट कर सकूं। लेकिन मैं बहुत खुश हूं।

    राकेश मेहरा के साथ एक बार फिर से आप काम कर रही हैं। कैसा एक्सपीरिंयस रहा?

    राकेश मेहरा के साथ काम करने का मेरा एक्सपीरिंयस हमेशा से ही बेहतरीन रहा है। राकेश मेहरा के साथ काम करना ऐसा है जेसे अपने घर में वापस आना। जब मैं सेट पर गयी तो मुझे कुछ भी नया नहीं लगा सिर्फ एक्टर के और फिल्म के। रांझना के बाद भाग मिल्खा भाग में का किरदार निभाना एक बहुत ही अलग तरह का एक्सपीरिंयस था जैसे कि मैं गहरी सांस ले रहूी हूं। क्योंकि जोया का करिदार बहुत ही अलग तरह के रंग और इमोशन्स लिये हुए था जबकि का किरदार बहुत ही प्योर था। जो कि करना मेरे लिए बहुत ही जरुरी था।

    आपने अधिकतर फिल्में अपनी उम्र के एक्टरों के साथ की हैं जबकि आपके साथ की एक्ट्रेसेस अपने सीनियर एक्टर्स के साथ काम करने में ज्यादा उत्सुक होती हैं। इसके पीछे कोई खास वजह?

    (हंसते हुए) अब इसमें मेरी क्या गलती है कि मैं सीनियर एक्टर्स के साथ काम नहीं करती। मैं फिल्में एक्टर को देखकर नहीं चूज करती बल्कि मैं फिल्में निर्देशक को देखकर और फिल्म की कहानी को देखकर चुनती हूं। मैं उन लोगों को कमेंट नहीं कर रही जो कि एक्टर देखकर फिल्में चुनती हैं लेकिन मैं नहीं करती।

    अनिल कपूर जी की पहली फिल्म कन्नड़ में थी। क्या आपका साउथ इंडियन फिल्में करने का कोई प्लान है?

    मैं हमेशा से कहती रही हूं कि मुझे किसी भाषा से कोई मतलब नहीं है। मुझे अच्छे किरदार मिलने चाहिए तो मैं किसी भी भाषा में फिल्में करुंगी। मुझे साउथ से कई ऑफर्स मिले हैं लेकिन मुझे अभी तक कोई भी फिल्म में किरदार पंसद नहीं आया है। जिस दिन मुझे अपनी पसंद का किरदार मिल जाएगा मैं साउथ की फिल्में भी करुगी। आज भी जब मैं सड़कों पर जाती हूं तो लोग मुझे बिट्टू, आयशा, सकीना, मसकली और जोया कहकर बुलाते हैं। तो जब मुझे ऐसा ही कोई बेहतरीन किरदार मिलेगा तो मैं साउथ की फिल्में करुंगी।

    आप एक फैशन आइकन मानी जाती हैं। लड़कियां आपको फॉलो करती हैं। कभी मॉडल बनने के बारे में नहीं सोचा?

    मैं जब छोटी थी तब 90 किलो की थी। मैंने अपना वजन सिर्फ एक्ट्रेस बनने के लिए घटाया था। मॉडल नहीं बनना चाहती थी।

    सोनम कपूर के इंटरव्यू के कुछ अंश-

    भाग मिल्खा भाग एक खिलाड़ी पर आधारित फिल्म है। आपका किरदार कितना मजबूत है फिल्म में?

    भाग मिल्खा भाग एक खिलाड़ी पर आधारित फिल्म है। आपका किरदार कितना मजबूत है फिल्म में?

    मेरा फिल्म में बहुत ही छोटा सा किरदार है। मेरी स्पेशल भूमिका ही मान लीजिये। फिल्म में एक बहुत ही सिंपल लड़की का किरदार है जिससे मिल्खा सिंह प्यार करता है और इसी लड़की के लिए खुद को बदलना चाहता है। भाग मिल्खा भाग को साइन करने के पीछे मेरा मकसद यही था कि मैं फरहान खान के साथ और राकेश महेरा के साथ काम करना चाहती थी। इसके अलावा मुझे लगता है कि ये फिल्म ऐतिहासिक होगी और मुझे इस बात की खुशी होगी कि मैं इस फिल्म का एक हिस्सा हूं।

    आपको पढ़ना बहुत पसंद है। आपकी कोई फेवरेट बुक या कोई फेवरेट लेखक?

    आपको पढ़ना बहुत पसंद है। आपकी कोई फेवरेट बुक या कोई फेवरेट लेखक?

    मैं बहुत पढ़ती हूं इसलिए मेरी कोई पसंदीदा बुक या पसंदीदा लेखक नहीं है। जब मैं किसी रिलेशनशिप में आती हूं तो मुझसे पूछा जाता है कि तुम्हारा फेवरेट कलर कौन सा है और मैं उनसे कहती हूं कि पता नहीं। मुझे बहुत सारे कलर पसंद हैं। मेरी पसंद बदलती रहती है। तो मैं ये नहीं बता सकती की मेरी पसंदीदा बुक, कलर या फूड क्या है।

    क्या आपको लगता है कि फिल्म इंडस्ट्री आज भी मेल डोमिनेटिंग है?

    क्या आपको लगता है कि फिल्म इंडस्ट्री आज भी मेल डोमिनेटिंग है?

    जी हां, ये सच है। इंडस्ट्री बदल रही है लेकिन बहुत ही धीरे-धीरे।

    पाकिस्तान में रांझना फिल्म कुछ अज्ञात कारणों से बैन कर दी गयी है। लेकिन आपके फैन्स जानना चाहते हैं कि क्या आप भाग मिल्खा भाग के प्रमोशन के लिए पाकिस्तान जाएंगी?

    पाकिस्तान में रांझना फिल्म कुछ अज्ञात कारणों से बैन कर दी गयी है। लेकिन आपके फैन्स जानना चाहते हैं कि क्या आप भाग मिल्खा भाग के प्रमोशन के लिए पाकिस्तान जाएंगी?

    भाग मिल्खा भाग फिल्म की टीम कुछ समय बाद शायद पाकिस्तान जा रही है लेकिन उस वक्त मैं नुपुर की फिल्म की शूटिगं कर रही हूं तो मैं शायद नहीं जा पाउँगी लेकिन मैं पाकिस्तान जरुर जाना चाहूंगी क्योंकि मैं वहां पर होजरी और जूतियों की शॉपिंग करना चाहती हूं।

    एक्टिंग के अलावा डायरेक्शन या स्क्रिप्ट राइटिंग का कोई प्लान?

    एक्टिंग के अलावा डायरेक्शन या स्क्रिप्ट राइटिंग का कोई प्लान?

    मैं निर्देशन में जाना चाहती हूं लेकिन अभी नहीं।

    आपको इंडस्ट्री में काफी वक्त हो गया है। क्या आपके पापा अनिल कपूर जी आपको आज भी फिल्मों के चुनाव को लेकर एडवाइज देते हैं? आप कितना फॉलो करती हैं उनकी एडवाईज को?

    आपको इंडस्ट्री में काफी वक्त हो गया है। क्या आपके पापा अनिल कपूर जी आपको आज भी फिल्मों के चुनाव को लेकर एडवाइज देते हैं? आप कितना फॉलो करती हैं उनकी एडवाईज को?

    मैं बिल्कुल अपने पापा की एडवाईज लेती हूं। आखिर वो पिछले 40 सालों से इंडस्ट्री में हैं और सबकुछ बेहतर जानते हैं। मैं बेवकूफ होंगी अगर मैं उनकी एडवाईस ना लूं तो। लेकिन साथ ही हमेशा मैं उनकी बात नहीं मानती जैसा कि अधिकतर बच्चे करते हैं। पापा कहते हैं कि तुम्हें ये करना चाहिए लेकिन मुझे लगता है कि नहीं मैं ये करुंगी।

    English summary
    Sonam kapoor is very happy after Ranjhanaa's huge success. Sonam Kapoor is playing small role of Farhan Akhtar's lady love in Bhag Milkha Bhag. Sonam Kapoor says that she did this movie just because she wanted to work with Farhaan Akhtar and also because Rakesh Mehra is one of her favorite directors, with whom she wants to work again ad again.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X