For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    #BestScenes: संजू के ये 10 सीन आपके रोंगटे खड़े कर देंगे, रणबीर कपूर का करियर बेस्ट

    |

    रणबीर कपूर स्टारर संजू रिलीज़ हो चुकी है और फिल्म को किसी ने 4 स्टार से कम दिए ही नहीं है। फिल्म वाकई इतने शानदार तरीके से ही बनाई गई। बस आप देखेंगे और देखते रह जाएंगे।

    आगे आप कुछ भी पढ़ें इससे पहले हम आपको बता दें, इस आर्टिकल में हमने पूरी कोशिश की है कि फिल्म के लिए आपका मज़ा बिल्कुल किरकिरा ना होने दें। लेकिन अगर आपको कोई चांस नहीं लेना है तो आगे ना पढ़ें।

    क्योंकि हम आपको यहां पर बताने जा रहे हैं संजू के बेस्ट सीन। रणबीर कपूर ने अपने करियर का बेस्ट परफॉर्मेंस दिया है ये आपको संजू के हर सीन में दिखाई देगा।

    फिल्म इतने शानदार तरीके से लिखी गई है कि हर सीन में रणबीर कपूर को चमकने का मौका दिया गया है। इसलिए बड़ी मुश्किल से ही सही हम आपके लिए लेकर आए हैं संजू के 10 बेस्ट सीन -

    मां का जाना

    मां का जाना

    संजय दत्त अपनी मां नरगिस के काफी करीब थे। फिल्म में नरगिस की आखिरी सांस से जुड़ा संजय दत्त का एक राज़ है जो परदे पर खुलेगा तो आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। मां का जाना हर किसी के लिए कठिन होता है लेकिन संजू की एक गलती से ये सहन करने लायक नहीं बचा था।

    रॉकी प्रीमियर

    रॉकी प्रीमियर

    फिल्म थोड़ा आगे बढ़ती है तो नरगिस की मौत से जुड़ा काफी बड़ा सच संजय दत्त अपने पिता सुनील दत्त से पहली बार बांटते हैं। उस एक सीन में रणबीर कपूर की तड़प, छटपटाहट और हताशा देख आपका दिल भर आएगा।

    जेल सीन

    जेल सीन

    1993 में संजय दत्त को जेल हो जाती है। उस वक्त उन पर आतंकवादी होने का चार्ज लगता है जिसकी वजह से वो काल कोठरी में रहते थे। उस कोठरी की हालत देख कर आपको रोना आ जाएगा। और रणबीर कपूर ने इस सीन में इतनी जान फूंक दी है कि आप बस देखते रह जाएंगे।

    बेल सीन

    बेल सीन

    संजय दत्त के लिए जेल में रहना कितना मुश्किल था ये आपको फिल्म दिखाएगी। जब वो अपनी बेल का इंतज़ार करते रह जाते हैं और उन्हें पता लगता है कि आतंकवादी होने की वजह से उनकी बेल कैंसिल हुई है उसके बाद उनकी निराशा और डर जो रणबीर के चेहरे पर दिखेगा वो देखकर एक पल के लिए आप भी डर जाएंगे।

    सोनम - रणबीर

    सोनम - रणबीर

    सोनम कपूर के हिस्से में फिल्म में ज़्यादा कुछ है नहीं। लेकिन एक सीन में उन्हें और रणबीर को देखकर आपको भी दया आएगी। सोनम की लाचारगी पर और रणबीर की बेचारगी पर।

    जादू की झप्पी

    जादू की झप्पी

    ये फिल्म का सबसे ज़्यादा दिल भर देने वाला सीन है। एक बाप और बेटे इस तरह गले मिलते हैं जैसे बरसों से एक दूसरे के गले लगकर रोना चाहते हों। और कट बोलने के बाद भी वो बस वही करते रह जाते हैं ।

    रणबीर की स्पीच

    रणबीर की स्पीच

    संजय दत्त बड़ी हिम्मत करके अपने पिता के लिए एक स्पीच लिखते हैं जो किसी वजह से वो उन्हें सुना नहीं पाते हैं और अगली ही सुबह सुनील दत्त का देहांत हो जाता है। इसके बाद रणबीर ने उस एक स्पीच में जो जान डाली है वो आपका दिल धक कर देगी।

    विक्की कौशल

    विक्की कौशल

    दोस्ती के दो ही उसूल होते हैं - शक नहीं करने का और शक किया भी तो साथ नहीं छोड़ने का। विक्की कौशल का किरदार जब इन दो नियमों को तोड़ने के बाद पछताता है तो सब कुछ आपको अपना सा लगेगा, बैकग्राउंड म्यूज़िक, गाना, उनका रोना। सब आपका दर्द बन जाएगा।

    आई एम नॉट अ टेररिस्ट

    आई एम नॉट अ टेररिस्ट

    संजय दत्त जब पहली बार पूरे विश्वास के साथ ये कहते हैं कि मैं आतंकवादी नहीं हूं तो आपके भी रोंगटे खड़े हो जाएंगे। रणबीर का गुस्सा, उनका गुरूर, अपने पिता के लिए चिंता, बेबसी सब कुछ उस एक सीन में रणबीर निचोड़ कर रख देते हैं।

    आखिरी सीन

    आखिरी सीन

    फिल्म का आखिरी गाना बहुत ही प्यारा है। क्योंकि ये हल्के फुल्के अंदाज़ में ही सही लेकिन संजय दत्त की ज़िंदगी का सारा दुख आपके सामने रख देगी और फिर आपको तय करना है कि यकीन करें या ना करें। अब इतना सब कुछ पढ़ने के बाद तुरंत संजू का टिकट तो कटवा ही लीजिए।

    English summary
    Ranbir Kapoor shines in each and every frame of Sanju. But we chose the ten best scenes from the Rajkumar Hirani directorial.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X