For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' के साथ राज-सिमरन के प्यार ने पूरे किये 27 साल, जानें यहां कुछ दिलचस्प बातें

    |

    27 साल पहले सिल्वर स्क्रीन पर रिलीज हुई फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' ने सारे रिकॉर्ड्स तोड़ दिये और हर गुजरते हुए दिन के साथ यह नये-नये कीर्तिमान स्थापित करता जा रहा है। पर्दे पर राज-सिमरन की जोड़ी को जीने वाले शाहरुख खान-काजोल इस फिल्म के बाद रातों-रात स्टार बन गये थे। 27 सालों बाद भी पर्दे पर फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' का जादू बरकरार है। मुंबई के मराठा मंदिर में आज भी यहीं फिल्म दिखायी जा रही है। यह एकलौती ऐसी फिल्म है जिसने इतने लंबे समय तक किसी सिनेमा हॉल में चलने का रिकॉर्ड बनाया है। इन 27 सालों के बाद फिल्म से जुड़े हर किरदार की रियल लाइफ जिंदगी में काफी बदलाव आ चुके हैं।

    चलिए डीडीएलजे से जुड़े एक्टर्स से जुड़ी कुछ जानकारियों के बारे में जानते हैं

    शाहरुख खान :

    शाहरुख खान :

    फिल्म में राज का किरदार शाहरुख खान ने निभाया था। राज एक एनआरआई है जो अपने प्यार को पाने के लिए पंजाब के गांवों में खींचा चला आता है। एसआरके ने अपना फिल्मी कॅरियर 1992 में फिल्म 'दीवाना' से शुरू किया था। इस फिल्म में शाहरुख ने ऋषि कपूर और दिव्या भारती के साथ स्क्रीन शेयर किया था। इसके बाद लगातार 3 फिल्में 'बाजीगर', 'डर' और 'अंजाम' में काम किया था। लेकिन फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' के साथ शाहरुख को किंग ऑफ रोमांस का टैग मिल गया। शाहरुख ने इस साल बॉलीवुड में 30 सालों का अपना सफर पूरा कर लिया है लेकिन उनकी यादगार फिल्मों की लिस्ट में आज भी 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' का ही नाम सबसे ऊपर होता है। इस फिल्म ने शाहरुख खान को रातों-रात सुपरस्टार बना दिया। इसके बाद ही उन्हें कई रोमांटिक फिल्में 'दिल तो पागल है', 'परदेस', 'कुछ कुछ होता है' मिली थी।

    काजोल :

    काजोल :

    'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' में काजोल ने एनआरआई सिमरन का किरदार निभाया था जिसकी शादी उसके बाबूजी (अमरीश पूरी) ने एक देसी पंजाबी मुंडे से तय कर दी है। अपनी शादी से पहले काजोल यूरोप घूमने जाती है जहां उसकी मुलाकात राज से होती है और वह उसे अपना दिल हार बैठती है। काजोल ने भी साल 1992 से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में फिल्म 'बेखुदी' से डेब्यू किया था। 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' से पहले काजोल के खाते में जो फिल्में आयी थी उनमें 'उधार की जिंदगी' और 'ये दिल्लगी' शामिल है। लेकिन डीडीएलजे में शाहरुख खान के साथ उनकी रोमांटिक जोड़ी को फैंस का बेहद प्यार मिला और काजोल-एसआरके की जोड़ी हिट हो गयी। एसआरके के साथ ही काजोल ने भी इस साल बॉलीवुड में अपने 30 साल पूरे किये हैं। इस फिल्म के बाद दोनों ने 'कुछ कुछ होता', 'कभी खुशी कभी गम', 'माय नेम इज खान', 'दिलवाले' जैसी कई यादगार फिल्मों में काम किया है।

    पूजा रूपारेल :

    पूजा रूपारेल :

    फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' में काजोल की बहन और अमरीश पुरी की छोटी बेटी छुटकी का किरदार निभाने वाली पूजा रूपारेल को देखकर पहचानना काफी मुश्किल होगा। वह अब 40 साल की हो चुकी हैं। पूजा रुपारेल फिल्मों और सोशल मीडिया पर काफी कम सक्रिय रहती हैं। वह सिर्फ एक्टिंग ही नहीं सिंगर, कॉमेडियन और स्क्रिप्ट राइटिंग का हुनर भी रखती हैं। काफी कम लोगों को पता होगा कि पूजा और सोनाक्षी सिन्हा कजिन सिस्टर्स हैं। पूजा और सोनाक्षी की मां आपस में बहनें हैं।

    अमरीश पुरी :

    अमरीश पुरी :

    फिल्मों में नेगेटिव किरदारों में जान फूंक देने वाले अमरीश पुरी ने जब फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' में एक सख्त लेकिन अपनी बेटियों पर जान छिड़कने वाले पिता की भूमिका निभाई तो दर्शक देखते रह गये। फिल्म में उन्होंने सिमरन के पिता 'बाबूजी' का किरदार निभाया था जो रोजी-रोटी के लिए अपने परिवार के साथ लंदन में तो रहते हैं लेकिन उनमें भारतीय संस्कृति को कूट-कूट कर भरी हुई है। इस फिल्म के बाद अमरीश पुरी को पॉजिटिव किरदारों में पसंद किया जाने लगा। साल 2005 में उनका निधन हो गया।

    अनुपम खेर :

    अनुपम खेर :

    एक पिता जो अपने बेटे का सिर्फ पिता ही नहीं बल्कि उसका दोस्त भी होता है। एक चरित्र की इन भावनाओं को शानदार तरीके से फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' में अनुपम खेर ने 'पॉप्स' के किरदार में दिखाया था। फिल्म में उन्होंने राज मल्होत्रा (शाहरुख खान) के पिता की भूमिका निभाई थी। अनुपम हमेशा खुद को खुशकिस्मत मानते हैं कि वह इस आईकॉनिक फिल्म का हिस्सा बनें। अनुपम के अनुसार यह फिल्म उनके लिए काफी स्पेशल थी और वह इस फिल्म के हमेशा शुक्रगुजार रहेंगे।

    परमीत सेठी :

    परमीत सेठी :

    परमीत सेठी ने फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' में काजोल के मंगेतर कुलजीत निभाया था। हालांकि इस रोल के लिए परमीत आदित्य चोपड़ा की पहली पसंद नहीं थे। इस रोल को डायरेक्टर आदित्य चोपड़ा ने अरमान कोहली को ध्यान में रखकर बनाया था। इस फिल्म से पहले परमीत ने जितने किरदार निभाये थे, सभी में उनका रोल पॉजिटिव था। परमीत जब डीडीएलजे के कुलजीत के ग्रे शेड वाले किरदार के लिए ऑडिशन देने पहुंचे तो डायरेक्टर को परमीत का पंजाबी मुंडे वाला परफॉर्मेंस काफी पसंद आया और वह इस किरदार के लिए चुन लिये गये।

    English summary
    Bollywood's iconic couple Raj and Simran have completed 27 years of their love. The film 'Dilwale Dulhania Le Jayenge' set a record which is not easy to break. This film changed the life of every actor associated with this film forever.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X