For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    PICS: MSG नहीं, ये फिल्में भी थीं विवादित, लेकिन हुई सुपरहिट

    By Neeti
    |

    विवादों से घिरी फिल्म मैसेंजर ऑफ गॉड का आज प्रीमियर है। सेंसर बोर्ड ने डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की फिल्म 'मैसेंजर ऑफ गॉड' पर लगी रोक को हटा लिया है। अब फिल्म 18 जनवरी को रिलीज हो जाएगी। आपको बता दें, यह फिल्म आज यानि की 16 जनवरी को रिलीज होने वाली थी, लेकिन सेंसर बोर्ड ने इसे रोक रखा था। रिलीज के विरोध में सेंसर बोर्ड की अध्यक्ष लीला सैमसन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

    आज फिल्म की मीडिया स्क्रीनिंग है। यहां किसी भी मीडियाकर्मी को कैमरा या मोबाइल फोन लेकर जाने की इजाजत नहीं है। मीडिया स्क्रीनिंग और प्रीमियर के बाद गुरमीत राम रहीम सिंह एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।

    बहरहाल, आपको बता दें, मैसेंजर ऑफ गॉड भारत में पहली ऐसी फिल्म नहीं है, जिस पर रोक लगने की मांग की जा रही है। बल्कि इससे पहले भी समय समय पर फिल्मों पर आपत्ति जताई जाती रही है। लेकिन किसी फिल्म को लेकर सेंसर बोर्ड की अध्यक्ष का इस्तीफा देना इस बात को अहम बना देता है।

    फिलहाल, यहां देखिए, MSG से पहले किन किन फिल्मों को रिलीज के दौरान विवादों का सामना करना पड़ा है:

    हैदर

    हैदर

    शाहिद कपूर स्टारर विशाल भारद्वाज की फिल्म 'हैदर' काफी कंट्रोवर्सियों से गुजरी थी। कहीं देशभक्ति की भावना को आहत पहुंचा था तो कहीं आर्मी जवानों को ठेस पहुंची थी। फिल्म के कई सीन और शब्दों को लेकर विवाद उठाया गया था। अफवाहें तो यहां तक उठी थी कि जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला को फिल्म बिल्कुल पसंद नहीं आई है, लेकिन बाद में इसे बकवास बताया है। हालांकि फिल्म 2 अक्टूबर को रिलीज हुई और लोगों ने इसे पसंद भी किया। फिल्म को समीक्षकों की ओर से भी मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली।

    पीके

    पीके

    राजकुमार हिरानी की फिल्म 'पीके' से बेहतर उदाहरण फिलहाल कौन सी फिल्म हो सकती है। हिंदुओं से लेकर हर धर्म के लोगों ने फिल्म बैन करने की मांग रखी थी। हालांकि सेंसर बोर्ड और कोर्ट अपने निर्णय पर अटल रहा और फिल्म बॉलीवुड की सबसे ज्यादा कमाने वाली फिल्म साबित हुई। लेकिन विवादों का दौड़ अब तक खत्म नहीं हो पाया है। पीके पर हिन्दू धर्म के लोगों की भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया गया था। बाद में सेंसर बोर्ड के एक सदस्य ने खुलासा भी किया कि उन्हें पीके के कुछ सीन्स से आपत्ति थी।

    गोलियों की रासलीला- राम लीला

    गोलियों की रासलीला- राम लीला

    गोलियों की रासलीला- राम लीला.. इस फिल्म का नाम रखा गया था, रामलीला.. सिर्फ रामलीला। लेकिन फिल्म रिलीज के पहले हिन्दू संगठनों ने फिल्म के नाम पर आपत्ति जताई। जिसके बाद फिल्म का नाम हुआ राम-लीला। लेकिन इस पर लोग संतुष्ट नहीं हुए, जिसके बाद संजय लीला भंसाली ने फिल्म के नाम को बढ़ाकर कर दिया, गोलियों की रासलीला- राम लीला। बहरहाल, फिल्म रिलीज हुई और दर्शकों को काफी पसंद आई। यह फिल्म साल 2013 की सबसे हिट फिल्मों में थी।

    जोधा अकबर

    जोधा अकबर

    आशुतोष गोवारिकर की इस फिल्म को भी विवादों के दौर से गुजरना पड़ा था। इस फिल्म पर राजपूत घरानों ने सवाल उठाए थे। लोगों ने तो यहां तक भी कहा था कि जोधा अकबर की पत्नी ही नहीं थी, जो कि फिल्म में दिखाया गया था। आशुतोष गोवारिकर पर इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप डाला गया था। हालांकि, तमाम बातें साफ होने के बाद फिल्म रिलीज हुई और दर्शकों ने इसे खासा पसंद किया। अकबर बने ऋतिक और जोधा के किरदार में ऐश्वर्या ने सबका दिल जीत लिया।

    विश्वरूपम

    विश्वरूपम

    कमल हसन की इस सुपरहिट अंधाधुंध कमाई करने वाली फिल्म को भी काफी विवादों से गुजरना पड़ा था। यहां तक की इस फिल्म को पूरे देश में बैन करने को लेकर बातें उठने लगी थी। मुस्लिम संगठनों ने आरोप लगाया था कि फिल्म में मुस्लिमों को गलत ढ़ंग से पेश किया गया है। आतंकियों को फिल्म में मुसलमान दिखाया गया है। विवाद यहां तक पहुंच गया था कि कमल हसन ने कहा था कि, यदि विश्वरूपम को रिलीज नहीं किया जाएगा तो मैं देश छोड़ दूंगा। हालांकि फिल्म रिलीज हुई और सुपरहिट हुई।

    रागिनी एमएमएस

    रागिनी एमएमएस

    2011 में आई फिल्म रागिनी एमएमएस को भी विवादों ने घेरा था। यह फिल्म रियल स्टोरी पर आधारित थी। जिसपर लोगों ने काफी आपत्ति जताई थी। यह देश के सबसे बड़े विवादित एमएमएस स्कैंडल पर बेस्ड थी, जिसे फिल्म के माध्यम से दर्शकों के सामने लाया गया था। फिल्म में जमकर एक्सपोज भी किया गया था। वहीं, इस फिल्म के सीक्वल में सनी लियोन दिखाई दी थीं। जो कि उनके करियर की सबसे सफल फिल्म साबित हुई।

    ओह माई गॉड

    ओह माई गॉड

    अक्षय कुमार की ओह माई गॉड को ज्यादा तो नहीं, लेकिन हां विवादों का सामना करना पड़ा। फिल्म में देवी- देवताओं से लेकर बाबाओं पर जमकर प्रहार किया गया था। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने सेंसर बोर्ड से फिल्म के कुछ दृश्यों को हटाने का भी आदेश दिया। उमेश शुक्ला की इस फिल्म में अक्षय कुमार ने भगवान कृष्ण की भूमिका निभाई थी। हालांकि फिल्म रिलीज हुई और सफल भी रही।

    English summary
    Here are list of 7 films which faced controversy as today Messenger of God is facing. But all these films are superhit.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X