For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Release Rewind: दिल तो पागल है से जुड़ी 9 बातें, जो आप नहीं जानते

    |

    'दिल तो पागल है' आज 17 साल की हो गई। शाहरूख, माधुरी और करिश्मा की इस म्यूजिकल रोमांस फिल्म ने प्यार और दोस्ती की ऐसी परिभाषा गढ़ी थी कि आज भी यह युवाओं के दिलों में स्पेशल जगह बनाए हुए है। वैलेटाइंस डे हो या दिल वाले गुब्बारे, निशा की दोस्ती हो या पूजा की खूबसूरती, इस फिल्म की हर सीन ने युवाओं को खुद से बांध लिया था। लिहाजा, दिल तो पागल है हुई सुपर डुपर हिट और फिल्म के संगीत ने तोड़ डाले सारे रिकॉर्डस।

    'दिल तो पागल है' से जुड़ी कई बातें हमने सुनी हैं। इनमें से कुछ सच हैं तो कुछ महज अफवाह। जैसे फिल्म की मेकिंग के वक्त इस अफवाह ने काफी हवा पकड़ी थी कि फिल्म निर्देशक यश चोपड़ा और करिश्मा कपूर के बीच अफेयर चल रहा है। वहीं, यह भी कहा जा रहा था कि इस फिल्म में माधुरी के रोल को काट कर छोटा कर दिया गया है। जिसे फिल्म देखने के बाद आपने भी अफवाह ही मानी होगी।

    लेकिन दिल तो पागल है से जुड़ी कुछ ऐसी दिलचस्प बातें हैं, जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। क्या आपको पता है इस फिल्म में पूजा के रोल के लिए माधुरी दीक्षित यश चोपड़ा की पहली पसंद नहीं थी। नहीं न, तो फिर बढ़ाइए स्लाइडर और जानिए, कौन होती दिल तो पागल है की 'पूजा' और इस फिल्म से जुड़ी कुछ और मजेदार बातें:

    4 हीरोइनों ने इस रोल को किया था 'ना'

    4 हीरोइनों ने इस रोल को किया था 'ना'

    'दिल तो पागल है' के लिए करिश्मा कपूर को बेस्ट सर्पोटिंग एक्ट्रेस का राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया था। लेकिन दिलचस्प बात यह है कि करिश्मा के पहले इस रोल को 4 हिरोइनों ने 'ना' किया था। इस रोल के लिए यश चोपड़ा की पहली पसंद थी जूही चावला। लेकिन जूही ने माधुरी के सामने सर्पोटिंग एक्ट्रेस बनने से ऐतराज किया और फिल्म को कर दिया बॉय बॉय। वहीं जूही के बाद, मनीषा कोइराला, उर्मिला मांतोडकर और काजोल ने भी इस रोल को ज्यादा महत्व नहीं दिया।

    माधुरी नहीं थीं यश चोपड़ा की पहली पसंद

    माधुरी नहीं थीं यश चोपड़ा की पहली पसंद

    जी हां, न करिश्मा 'निशा' होती और न माधुरी होती 'पूजा'। बल्कि पूजा के किरदार के लिए यश चोपड़ा की पहली पसंद थी श्रीदेवी। लेकिन श्रीदेवी ने इस रोल को सिरे से नकार दिया था, क्योंकि उन्हें लगा था, इस टाइप के रोल वह पहले भी कई बार निभा चुकी है। वैसे फिल्म रिलीज के बाद शायद यश चोपड़ा को भी इस बात का अहसास हो गया होगा कि पूजा के किरदार में जो जादू माधुरी ने भरा है, वह शायद ही किसी भी और अदाकारा से क्रिएट हो पाता।

    डीडीएलजे के रिकॉर्ड को तोड़ा था

    डीडीएलजे के रिकॉर्ड को तोड़ा था

    'दिल तो पागल है' के संगीत ने जादू कर दिया था। यह न सिर्फ फिल्म के संगीतकार उत्तम सिंह के करियर की सबसे लोकप्रिय एल्बम साबित हुई। बल्कि यश चोपड़ा के करियर की भी सबसे हिट म्यूजिक एल्बम थी। इसके एल्बम ने 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' के संगीत का रिकॉर्ड भी तोड़ डाला था। इसे साल 1997 के सबसे बेहतरीन म्यूजिक स्कोर के लिए भी एवार्ड दिया गया था। इस फिल्म के लिए उत्तम सिंह ने यश चोपड़ा को कुछ 100 से ज्यादा धुनें सुनाई थी, जिनमें से यश चोपड़ा ने 9 धुनों को सेलेक्ट किया और बन गई 'दिल तो पागल है' की एल्बम।

    'दिल तो पागल है' होती 'मोहब्बत कर ली'

    'दिल तो पागल है' होती 'मोहब्बत कर ली'

    अब ये जानिए, न करिश्मा निशा होती, न माधुरी पूजा और न ही यह फिल्म होती दिल तो पागल है। जी हां, दिल तो पागल है का पहला नाम था, मैंने तो मोहब्बत कर ली। फिर इसका नाम बदलकर रखा गया मोहब्बत कर ली। लेकिन इन नामों से न निर्देशक संतुष्ट थे, न ही कोई और। लिहाजा, काफी सोच विचार के बाद फिल्म का रखा गया 'दिल तो पागल है'। जो आज भी युवाओं को पागल करती है।

    करिश्मा और शाहरूख की एकमात्र फिल्म

    करिश्मा और शाहरूख की एकमात्र फिल्म

    'दिल तो पागल है' शाहरूख खान और करिश्मा कपूर की पहली और आखिरी फिल्म थी। हालांकि 6 सालों बाद ये दोनों फिल्म शक्ति- दि पॉवर में नजर आए थे, लेकिन इस फिल्म में शाहरूख कैमियो भूमिका में थे। वहीं, अक्षय कुमार और माधुरी दीक्षित ने भी इस फिल्म में पहली बार साथ काम किया था।

    माधुरी का हुआ कमबैक

    माधुरी का हुआ कमबैक

    दिल तो पागल है को एक तरह से माधुरी दीक्षित की कमबैक फिल्म भी मानी जा रही थी। क्योंकि दिल तो पागल है से पहले माधुरी की आखिरी हिट फिल्म थी राजा, जो कि साल 1995 में आई थी। लेकिन दिल तो पागल है ने उन्हें फिर से दर्शकों के दिलों में उतरने का कारण दिया।

     राम-लक्ष्मण से टूटा लता का साथ

    राम-लक्ष्मण से टूटा लता का साथ

    इस फिल्म की म्यूजिक हिट की वजह से फिल्म इंडस्ट्री के कई कलाकार काफी चिढ़ गए। और उन्होंने अलग अलग तरीके से अपनी कुढ़न निकाली थी। इस फिल्म के ज्यादातर गानों को आवाज दी थी लता मंगेश्कर ने। लिहाजा, गानों की सफलता से संगीतकार राम-लक्ष्मण इतने चिढ़ गए थे कि उन्होंने लता मंगेश्कर को अपनी अगली फिल्म हम साथ साथ हैं में गाने के लिए नहीं चुना।

    डांस का बेजोड़ नमूना

    डांस का बेजोड़ नमूना

    दिल तो पागल के डांस ने सबको पागल कर दिया था। वजह थे, श्यामक डावर। श्यामक डावर ने इस फिल्म के जरिए बॉलीवुड में धमाकेदार एंट्री मारी थी। और इसके बाद उन्हें कभी पीछे मुड़कर देखने की जरूरत भी नहीं पड़ी। डांस ऑफ एन्वी हो या कोई और, इस फिल्म में डांस स्टाइल काफी नया था। वहीं, क्या आपको पता है, श्यामक के ट्रूप में होने की वजह से इस फिल्म में शाहिद कपूर ने भी डांस किया था, लेकिन वे एक्सट्रा डांसरर्स में थे।

    'दिल तो पागल है' से करण भी जुड़े थे

    'दिल तो पागल है' से करण भी जुड़े थे

    दिल तो पागल है एक ऐसी फिल्म थी, जिसने दोस्ती और प्यार की परिभाषा को नया लुक दिया। लेकिन क्या आपको पता है बॉलीवुड में दोस्ती के लिए मशहूर जोड़ी शाहरूख और करण जौहर यहां भी साथ थे। जी हां, इस फिल्म में शाहरूख के कपड़ों को किसी और ने नहीं बल्कि करण जौहर ने डिजाइन किया था।

    English summary
    Here are some unknown and interesting facts of the evergreen film Dil To Pagal hai.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X