»   » शाहरूख की सात फिल्में copy करके फराह ने बनाई happy new year!

शाहरूख की सात फिल्में copy करके फराह ने बनाई happy new year!

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

[Trisha Gaur] हैप्पी न्यू ईयर की सफलता के यूं तो झंडे इंडिया वाले गाड़ रहे हैं पर फिल्म दरअसल रीमेक है शाहरूख की सभी फिल्मों की। फराह खान इंडस्ट्री की इकलौती शाहरूख फैन हैं जो कभी उनसे बाहर ही नहूीं निकल पातीं और इसलिए उन्होंने बना डाली हैप्पी न्यू ईयर की खिचड़ी। फिल्म आपको हर सीन के साथ शाहरूख की किसी पुरानी फिल्म की याद दिलाती है। पढ़िये कौन से सीन हैं कहां से कॉपी -

पापा का बदला लेकर रहूंगा!

पापा का बदला लेकर रहूंगा!

फराह की फिल्म हैप्पी न्यू ईयर का थीम था बदला। ठीक वैसे ही जैसे कि बाज़ीगर। एक अमीर बाप, उसका एक अमीर दोस्त, फ्रॉड का केस, हीरो के पापा जेल के अंदर, और हीरो बदले के प्लान के साथ जेल के बाहर। हाऊ ओरिजिनल फराह!

डांस कंपीटीशन - रब ने बना दी जोड़ी

डांस कंपीटीशन - रब ने बना दी जोड़ी

रब ने बना दी जोड़ी में शाहरूख और अनुष्का के किरदारों को पास लाने के लिए आदित्य चोपड़ा डांस कंपिटीशन का सराहा लेते हैं। बस फिर क्या था फराह ने वहां से आइडिया उठाया और बना डाला वर्ल्ड डांस चैंपियनशिप का थीम।

किस्मत बड़ी #$%^ चीज़ है

किस्मत बड़ी #$%^ चीज़ है

डायलॉग नया है पर फील वही है...किसी चीज़ को अगर शिद्दत से मांगो तो पूरी कायनात उसे मिलाने की साज़िश करती है। यहां पर भी फराह शाहरूख के हाव भाव से लेकर डायलॉग तक उन्हें रिपीट करती हैं। इसके शाहरूख पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त कहना भी नहीं भूलते।

आग लगाते शाहरूख - वायलिन बजाती सुष्मिता

आग लगाते शाहरूख - वायलिन बजाती सुष्मिता

hny में शाहरूख को देखते ही आग लग जाती है, दीपिका को वो इतने पसंद हैं। ठीक इसी तरह मैं हूं ना में सुष्मिता को देखते ही म्यूज़िक बजने लगता है, शाहरूख को वो इतनी पसंद हैं!

दीपिका पीछे खड़ी है - 6 दिन लड़की इन

दीपिका पीछे खड़ी है - 6 दिन लड़की इन

कल हो न हो का 6 दिन लड़की इन अगर आपको याद है तो फिर आपको समझ में आ जाएगा कि ये हर समय दीपिका का पीछे खड़े होकर कोई राज़ सुनने के पीछे क्या लॉजिक था। कल हो न हो में भी प्रीती ज़िंटा हीरो के पीछे ठीक तभी खड़ी होती हैं जब वो प्लान बता रहा होता है। ज़ाहिर सी बात है हैप्पी न्यू ईयर में कुछ अलग कैसे होता?

तुम गिरो..मैं हूं ना

तुम गिरो..मैं हूं ना

फिल्म के एक सीन में डांसर से लड़ते लड़ते शाहरूख बिल्डिंग के कोने पर पहुंच जाते हैं पर गिरता डांसर है और शाहरूख उन्हें बिल्कुल उसी अंदाज़ में बचा लेते हैं जैसे उन्होंने मैं हूं ना में ज़ाएद खान को बचाया था।

 सत्तर मिनट

सत्तर मिनट

फिल्म के क्लाईमैक्स के ठीक पहले दीपिका चक दे इंडिया का सत्तर मिनट डायलॉग कॉपी करती हैं। जहां उस फिल्म में ये एक डायलॉग रोंगटे खड़ा करता है वहीं है्प्पी न्यू ईयर का यह डायलॉग बस दर्शकों को उंघाता है। हालांकि डायलॉग हंसाने के लिए रखा गया है मगर ऐसा कुछ होता नहीं है।

देशभक्ति, तिरंगा और शाहरूख की बांहें

देशभक्ति, तिरंगा और शाहरूख की बांहें

शाहरूख अंत में एक तिरंगे के आगे अपने ओरिजिनल पोज़ में खड़े हो जाते हैं। ठीक फिर भी दिल है हिंदुस्तानी की तरह। बल्कि पूरे सीन का इफेक्ट फिर भी दिल है हिंदुस्तानी की याद दिला देता है।

अभिषेक की उल्टी - सतीश शाह की थूक

अभिषेक की उल्टी - सतीश शाह की थूक

मैं हूं ना में सतीश शाह की थूक ने सबका जीना दुश्वार किया था। यहां पर अभिषेक बच्चन का भी कुछ ऐसा ही हाल है। उन्हें जब तब उल्टी करने की बेतुकी आदत है जो कहीं से भी कोई ह्यूमर पैदा नहीं करती। कुछ भी करने की हद थी ये तो!

 
English summary
Farah Khan copied almost whatever she could from shahrukh's scenes to his dialogues. Whatever could be copied was pasted.So, basically in Happy New Year Farah Khan copies epic Shahrukh Khan scenes from his various movies to accelerate Happy New Year's pace.
Please Wait while comments are loading...