For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    एक्टिंग के कीड़े का इलाज न कर पाए ‘डॉ. अस्थाना’, तो 42 की उम्र में शुरू कर दी फिल्मी पारी

    |

    फिल्म 'मुन्नाभाई एमबीबीएस' का डॉक्टर अस्थाना हो या फिर फिल्म 'थ्रि इडियट्स' का वायरस, बोमन ईरानी ऐसे एक्टर हैं जो अपने हर किरदार में जान फूंक देते हैं। फिल्मों में आने से पहले बोमन ईरानी होटलों में वेटर और रुम स्टाफ के तौर पर भी काम कर चुके थे। वह फोटोग्राफर का काम भी करते थे, लेकिन वक्त के साथ-साथ बोमन ईरानी को एक्टिंग रास आने लगा और उन्होंने थिएटर में काम करना शुरू कर दिया। 2 दिसंबर को बोमन ईरानी अपना बर्थडे मना रहे हैं। उम्र के 42 वसंत देखने के बाद बोमन ईरानी ने फिल्म 'मुन्नाभाई एमबीबीएस' में डॉ. अस्थाना के किरदार से अपनी फिल्मी पारी शुरू की। अपनी दमदार एक्टिंग और गजब की कॉमिक टाइमिंग से बोमन ने दर्शकों का दिल जीत लिया।

    आइए Birthday special में आपको बोमन ईरानी से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें बताते हैं :

    जन्म से पहले ही हो गयी थी पिता की मृत्यु :

    जन्म से पहले ही हो गयी थी पिता की मृत्यु :

    बोमन ईरानी के पिता की मृत्यु उस समय हो गयी थी, जब वह अपनी मां के पेट में थे। बोमन को तीन बड़ी बहनों और उनकी मां ने मिलकर पाला है। बोमन ईरानी की मां अपनी एक छोटी सी बेकरी चलाती थी। एक जमाने में बोमन ताज होटल में वेटर की नौकरी किया करते थे लेकिन अपनी मां की बेकरी में हाथ बंटाने के लिए उन्होंने वेटर की नौकरी छोड़ दी। 2021 में बोमन ईरानी की मां का निधन हो गया। आज भले ही बोमन बॉलीवुड पर राज करते हैं लेकिन उनका बचपन बेहद गरीबी में बीता है। बोमन ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि बचपन में वह डिस्लेक्सिया बीमारी के शिकार रह चुके हैं, जिस वजह से वह हकलाते थे।

    इस शख्स ने बदली जिंदगी :

    इस शख्स ने बदली जिंदगी :

    बोमन ईरानी एक बार कोरियोग्राफर श्यामक डावर से मिले। श्यामक डावर ने ही उन्हें थिएटर में अपनी किस्मत आजमाने की सलाह दी। इसके बाद धीरे-धीरे बोमन ईरानी की एक्टिंग को पसंद किया जाने लगा और वह फिल्मों की दुनिया में सक्रिय हो गये। साल 2000 में बोमन ने कुछ कमर्शियल फिल्मों से अपनी एक्टिंग की पारी शुरू की थी। इसके बाद 2001 में उन्होंने दो अंग्रेजी फिल्मों 'विरिबड़ी सेज आई एम फाइन' और 'लेट्स टॉक' से अपना फिल्मी करियर से शुरू किया था। इसके बाद 42 साल की उम्र में उन्होंने बॉलीवुड में कदम रखा।

    ‘डरना मना है’ से बॉलीवुड में शुरू की पारी :

    ‘डरना मना है’ से बॉलीवुड में शुरू की पारी :

    बोमन ईरानी ने 'डरना मना है' और 'बूम' से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में अपना करियर शुरू किया लेकिन उन्हें फिल्म 'मुन्नाभाई एमबीबीएस' से पहचान मिली। इस फिल्म के बाद उन्होंने फिल्म 'लक्ष्य', 'वीर-जारा', 'पेज-3', 'नो एंट्री' जैसी कई फिल्मों में अपने शानदार एक्टिंग दर्शकों का दिल लुट लिया। 'मुन्नाभाई एमबीबीएस' में डॉ. अस्थाना के किरदार के लिए बोमन को बेस्ट कॉमेडियन का और 'लगे रहो मुन्नाभाई' के लिए बोमन ईरानी ने बेस्ट विलेन का फिल्मफेयर अवार्ड जीता था। हाल ही में वह फिल्म 'ऊंचाई' में अमिताभ बच्चन, अनुपम खेर, नीना गुप्ता, सारिका और डैनी डेंग्जोपा संग स्क्रीन शेयर करते नजर आए हैं।

    English summary
    Boman Irani is such an actor who breathes life into every character he plays. At the age of 42, he stepped into Bollywood. Boman Irani is celebrating his birthday on 2 December. Boman won the hearts of the audience with his strong acting and amazing comic timing.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X