For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    कंगना की ललकार - मैं जियूं या मरूं, उद्धव ठाकरे और करण जौहर को एक्सपोज़ करके रहूंगी

    |

    कंगना रनौत के ऑफिस पर BMC ने बुलडोज़र चला दी है और अब कंगना रनौत बिल्कुल दो टूक शब्दों में महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे और उनके हिसाब से मूवी माफिया करण जौहर को खुली चुनौती दे चुकी है। कंगना रनौत अपने घर पहुंच चुकी हैं जिसके बाद उन्होंने ट्वीट्स की बाढ़ लगा दी है।

    कंगना रनौत ने करण जौहर और उद्धव ठाकरे को खुली चुनौती देते हुए लिखा - आओ उद्धव ठाकरे और करण जौहर गैंग। तुमने मेरे काम की जगह तोड़ी है, अब मेरा घर तोड़ दो। मेरा मुंह तोड़ो, शरीर तोड़ो। मैं चाहती हूं कि दुनिया साफ साफ देखे की तुमलोग पीठ पीछे क्या करते हो। मैं मर जाउं या ज़िंदा रहूं, तुम लोगों को फिर भी एक्सपोज़ करूंगी।

    गौरतलब है कि BMC ने हाईकोर्ट के स्टे ऑर्डर के बावजूद, कंगना रनौत के ऑफिस मणिकर्णिका फिल्म्स पर बुलडोज़र चला दिया। इस बात की कड़ी निंदा करते हुए हाईकोर्ट ने कहा कि शहर के हर अवैध निर्माण के साथ अगर BMC इतनी सख्ती दिखाकर काम करता तो आज शहर की तस्वीर कुछ और ही होती।

    वहीं कंगना रनौत का एयरपोर्ट पर काफी बहिष्कार हुआ लेकिन उनके समर्थकों की भी कमी नहीं थी। लोग उन्हें झांसी की रानी बुलाते भी दिखे जिस पर कंगना ने बस मुस्कुरा दिया। कंगना को फिलहाल सरकार से Y Plus सिक्योरिटी मिली है। देखिए घर पहुंचकर कंगना ने क्या क्या साफ साफ कहा -

    सबकी आभारी हूं

    सबकी आभारी हूं

    मैं मुंबई में अपने घर में हूं। मुझपे वार तब हुआ जब मैं फ्लाईट में थी। मेरे पीठ पीछे। सामने नोटिस देने की या वार करने की हिम्मत नहीं है मेरे दुश्मनों में ये जानकर अच्छा लगा। बहुत लोग मुझे पहुंचाई हुई हानि से दुखी और चिंतित हैं, मैं उनके आशीर्वाद की आभारी हूं।

    लोगों ने कहा शेरनी

    लोगों ने कहा शेरनी

    लोगों ने कंगना रनौत की हिम्मत की तारीफ की और कुछ लोगों ने उनकी तस्वीरें शेयर करते हुए उन्हें उद्धव सरकार को हिला देने वाली शेरनी कहा।

    मैं बिल्कुल सही थी

    मैं बिल्कुल सही थी

    फेमिनिज़्म को शो ऑफ करने वाले लोग, बुलीवुड के नेता, कैंडल मार्च करने वाले ग्रुप, अवार्ड वापसी गैंग, किसी के पास हाई कोर्ट के आदेश पर कुछ भी कहने के लिए नहीं है। महाराष्ट्र में कानून और नियमों का खुले आम खून कर दिया गया। बहुत अच्छे। आपने मेरी सारी बातों को सच्चा साबित कर दिया। आप सबको मेरी तरफ से जो भी ट्रीटमेंट मिलता है, वो बिल्कुल सही है।

    ये साफ साफ गुंडागर्दी है

    ये साफ साफ गुंडागर्दी है

    अब जब हाई कोर्ट ने कह दिया है कि ये गुंडागर्दी का साफ साफ प्रदर्शन है। और ये मेरे साथ तब हुआ जब मैंने ड्रग्स रैकेट के बारे में बात की, सुशांत के मर्डर की ढीली जांच पर प्रश्न उठाए तो लोगों को समझ आ ही गया होगा। हर चीज़ की कीमत होती है। मेरे आवाज़ उठाने की कीमत मुझे ऐसे चुकानी पड़ी है, आपको भी हर चीज़की कीमत चुकानी पड़ेगी।

    हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

    हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

    गौरतलब है कि हाई कोर्ट ने बीएमसी से जवाब मांगा है कि कंगना की प्रॉपर्टी पर हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद बुलडोज़र क्यों चलाया गया। उन्हें नोटिस क्यों नहीं दिया गया और उनके आने तक का इंतज़ार क्यों नहीं किया गया?

    वायरल हो रहा फेक नोटिस

    वायरल हो रहा फेक नोटिस

    हाईकोर्ट के सवालों के बाद, एक फेक नोटिस भी वायरल हो रहा है जिसकी तारीख 2018 की लिखी है। कंगना ने इसे शेयर करते हुए कहा - महाराष्ट्र सरकार के खरीदे हुए सूत्र, अफवाहें फैला रहे हैं। BMC ने मुझे कभी कोई नोटिस नहीं भेजा है। बल्कि मैंने अपने ऑफिस के सारे डॉक्यूमेंट खुद BMC से क्लियर करवाए थे। कम से कम सच बोलने की हिम्मत तो रखो। इतना झूठ किसलिए?

    कल को आपके साथ होगा

    कल को आपके साथ होगा

    कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा - आज इन्होंने मेरा घर गिराया है, कल को आपका घर गिराएंगे। सरकारें आती और जाती रहेंगी लेकिन अगर आप इस तरह की हिंसात्मक, अराजक, गुंडागर्दी को नॉर्मल मानने लगेंगे तो आपकी दबी हुई आवाज़, नॉर्मल चीज़ों का हिस्सा बन जाएगी। आज एक आदमी के जलने से बहुत कुछ बदल सकता है, कल को हज़ारों लोग जौहर करेंगे। आप भी जागिए।

    लोगों ने पूछे सवाल

    लोगों ने पूछे सवाल

    लोगों ने ट्वीट कर पूछा - क्या कंगना रनौत का ऑफिस गैर कानूनी था? अगर था तो अचानक उसे आज ही क्यों गिराया गया? पहले क्यों नहीं? बदला? अगर यही चीज़ भाजपा सरकार के राज्य में किया गया होता तो इसे फांसीवाद कहा जाता। कितना अच्छा होता अगर BMC मुंबई के गड्ढों और बहते नालों को ठीक करने में भी इतनी ही फुर्ती दिखाती।

    24 घंटे के अंदर सारा कांड

    24 घंटे के अंदर सारा कांड

    कंगना ने इस बात का जवाब देते हुए कहा - मेरे ऑफिस को अचानक पिछले 24 घंटों में अवैध करार दे दिया गया। इन्होंने सब कुछ चोड़ दिया। फर्नीचर से लेकर लाइट्स तक। और अब मुझे धमकियां दे रहे हैं कि ये लोग मेरे घर आकर उसे भी तोड़ेंगे। मुझे खुशी है कि मूवी माफिया के विश्व के बेस्ट मुख्यमंत्री के बारे में मेरी राय बिल्कुल सही थी।

    बीएमसी ने कहा - काम हो गया

    बीएमसी ने कहा - काम हो गया

    वहीं बीएमसी का दावा है कि उन्होंने कंगना के ऑफिस का उतना ही हिस्सा तोड़ा है जितना गैर कानूनी था। उनकी कार्यवाही पूरी हो चुकी है और अब वो कोई तोड़ फोड़ नहीं करेंगे।

    English summary
    Kangana Ranaut promises to expose Uddhav Thackeray and Karan Johar whether she lives or die.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X