For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    कई साल में बनी थी मधुर भंडारकर की पहली मूवी लेकिन फ्लॉप गई, दूसरी फिल्म के बाद धड़ाधड़ नेशनल अवॉर्ड

    |

    26 अगस्त 1968 को बंबई के खार में जन्मे मधुर भंडराकर आज अपना जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। मधुर भंडारकर वही नाम है जिन्हें हम "चांदनी बार", "ट्रैफिक सिग्नल", "पेज 3" और "फैशन" जैसी फिल्मों के लिए खूब जानते हैं। उनकी दूसरी खासियत ये है कि उनकी ज्यादातर फिल्मों ने नेशनल अवॉर्ड जीता है। फिल्मों में इतना नाम कमाने वाले ये वही मधु थे जिनका मन कभी पढ़ाई में नहीं लगता था। उन्होंने सोच लिया था कि वह बिजनेस करेंगे। ऐसे सोचते सोचते उन्होंने कैसेट का बिजनेस शुरू किया। वह कुछ कैसेट खरीदते हैं और फिर घरों में जाकर कैसेट डिलीवर करने लगे। ऐसे उनका छोटा सा बिजनेस शुरू हो गया।

    मधुर के लिए कैसेट का बिजनेस जमने भी लगा। कुछ समय उनका बढ़िया चला। लेकिन फिर मुसीबतें आने लगी और उनका बिजनेस ढीला पढ़ने लगा। इसकी वजह था टेलीविजन का बढ़ता चलन। लोग चटकारे के साथ टेलीविजन पर टीवी शो और फिल्में देखने लगे। इसके बाद उनका काम ठप हो गया।

    मधुर का काम बिल्कुल बंद पड़ गया और हालात ये हो गए कि वह रेड लाइट पर च्युइंग गम बेचने को मजबूर हो गए। यहीं काम करते करते मधुर भंडारकर को फिल्मों का शौक होने लगा। वह खूब मजे से गली में लगने वाली फिल्मों को एन्जॉय करते थे। मधुर ने खूब मेहनत की और छोटे छोटे कई निर्देशकों संग काम करना शुरू किया। ऐसे करते करते उन्हें रामगोपाल वर्मा का साथ मिला और उनके काम की तलाश पूरी हुई। मधुर वह इंसान थे जिसे मौके की तलाश थी बाकि प्रतिभा उनके पास थी।

    फिल्म रंगीला से करियर मिली करियर को दिशा

    फिल्म रंगीला से करियर मिली करियर को दिशा

    मधुर भंडारकर ने बचपन से ही खूब स्ट्रगल किया। बॉलीवुड में नाम कमाने से पहले उन्होंने कई छोटे मोटे प्रोजेक्ट पर काम किया। लेकिन उन्हें नाम मिला फिल्म 'रंगीला' से। वहीं 'रंगीला' जिसमें जैकी श्रॉफ और उर्मिला का बोल्ड अवतार देखने को मिला था। जिसे राम गोपाल वर्मा ने डायरेक्ट किया था। इस फिल्म में मधुर को काम मिला असिस्टेंट डायरेक्टर का। यहीं से उनकी दौड़ बॉलीवुड में शुरू हो गई।

    पहली फिल्म के लिए

    पहली फिल्म के लिए

    रामगोपाल वर्मा के साथ तीन फिल्मों में साथ में काम करने के बाद अब मधुर भंडराकर चाहते थे कि वह अपनी फिल्म में काम करें। फिल्मों के साथ साथ इंडस्ट्री को अबतक मधुर बखूबी समझ चुके थे। समझदार होने के साथ साथ अब उनके पास अनुभव भी था और कॉन्फिडेंस।

    डेब्यू फिल्म फ्लॉप

    डेब्यू फिल्म फ्लॉप

    किसी भी निर्देशक का सफर दूसरे कलाकार की तरह मुश्किलों भरा रहता है। मधुर के पास अनुभव व समझदारी तो थी लेकिन उन्हें फिल्म बनाने के लिए पैसा जुटाने से लेकर रिलीज तक भारी मशक्कत करनी पड़ी। यही वजह है कि पहली फिल्म बनाने का सफर उनका साल 1997 में शुरू हुआ। ये फिल्म थी अरशद वारसी की 'त्रिशक्ति'। इस फिल्म को रिलीज होने में 3 साल लग गए। समय पर रिलीज न होने के चलते फिल्म फ्लॉप साबित हुई।

    'चांदनी बार' से करियर में भी आ गई चांदनी

    'चांदनी बार' से करियर में भी आ गई चांदनी

    कई साल इंडस्ट्री में गुजारने के बाद भी कलाकारों की परेशानियां कुछ कम नहीं होती। मधुर भंडराकर भी दूसरे कलाकारों की तरह लगातार स्ट्रगल कर रहे थे। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी बल्कि वह नई फिल्म पर काम करने लगे। ये फिल्म थी 'चांदनी बार'। इस फिल्म के साथ ही मधुर निर्देशक मधुर भंडारकर कहलाने लगे। ऐसा इसीलिए न केवल फिल्म हिट हुई बल्कि लोगों के बीच में खासा पसंद भी गई। तब्बू द्वारा अभिनीत इस फिल्म को नेशनल फिल्म अवॉर्ड फॉर बेस्ट फिल्म ऑन सोशल इशू भी मिला। फिर क्या था, मधुर का सफलता का सफर यहां से शुरू हुआ। उनकी प्रतिभा इस फिल्म के बाद रंग लाई।

    बेशक न बनाई हो सैकड़ों फिल्में

    बेशक न बनाई हो सैकड़ों फिल्में

    मधुर ने अपने करियर में बेशक 200-300 फिल्में न बनाई हो लेकिन जितना भी काम उन्होंने बतौर निर्देशक किया, उस काम की प्रशंसा खूब हुई। जैसे ट्राफिक सिग्नल, पेज 3 और चांदनी बार के लिए तीन बार उन्हें नेशनल अवॉर्ड मिला। वहीं उन्हें भारत सरकार ने पद्मश्री सम्मान से भी नवाजा।

    फिल्मों के जरिए संदेश

    फिल्मों के जरिए संदेश

    मधुर भंडारकर की जितनी भी फिल्में देखें तो एक खासियत है कि वह हर बार अपनी फिल्मों के जरिए संदेश देना चाहते हैं। वह सिर्फ मसाला परोसने में विश्वास नहीं रखते। यही वजह है कि उन्हें उनके अलग अंदाज के लिए जाना जाता है। जैसे फैशन फिल्म न सिर्फ सुपरहिट थी बल्कि ग्लैमरस दुनिया की चकाचौंध के साथ साथ उस दुनिया की हकीकत को दिखाया गया था।

    English summary
    director Madhur Bhandarkar debut with trishakti won first national award for chandni bar read interesting facts on birthday
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X