नूर कहानी

     नूर एक बॉलीवुड ड्रामा है, जिसका निर्देशन सुन्हिल सिप्पी ने किया है।  फिल्म में सोनाक्षी सिन्हा मुख्य भूमिका में हैं।   फिल्म की कहानी पाकिस्तनी लेख सबा इम्तियाज की किताब-'कराची-यू आर किलिंग मी' पर आधारित है।   फिल्म 21 अप्रैल 2017 को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी।  

    फिल्म की कहानी 
    'The trouble is you think you have all the time' नूर रॉय चौधरी (सोनाक्षी सिन्हा) फिल्म की शुरूआत में ये डायलोग बोलते नजर आती हैं। कुछ ही देर बाद फिल्म में उसका करियर और जिंदगी को लेकर नजरिया दिखाया जाता है जिसका उपर लिखी कहावत से कोई लेना देना नहीं है। सोनाक्षी सिन्हा एक ब्रोडकास्ट न्यूज एजेंसी Buzz (बज़) में जर्नलिस्ट हैं। वो एंटरटेनमेंट और पागलपन से भरी शो की कहानियां देखती है। वो अपनी जिंदगी में कुछ गंभीर काम करना चाहती हैं लेकिन खुद अपनी जन्मदिन के दिन मुंबई की बारिश का सामना कर सनी लियोन का इटंरव्यू लेने जा रही होती हैं और एक इंसान की कहानी जो अपने हाथों पर चलता है। उस समय वो खुद को दुनिया की सबसे प्वाइंटलेस जर्नलिस्ट कहती है। सीएनएन का रिजेक्शन लेटर आज तक उसकी मेल में पड़ा है जो उसका ड्रीम जॉ़ब होता है। वो अपनी नाकामयाबियों को कोसते नजर आती हैं। नूर एक ऐसी लड़की है जिससे आप आसानी से कनेक्ट करेंगे, रम पीती है, वजन की चिंता करती है। उसके घर में उसे समझने वाले पापा हैं और एक क्यूट सी बिल्ली और हां नूर के दो दोस्त हैं जारा (शिबानी दांडेकर), साद (कनन गिल),तीनों अपनी जिंदगी के उतार चढ़ाव एक साथ शेयर करते हैं।नूर की जिंदगी तब बदल जाती है जब उसकी मुलाकात एक फोटोजर्नलिस्ट अयान बनर्जी (पूरब कोहली) से एक आर्ट एक्जिबिशन में होती है जो उसके घर कामवाली करने वाली मालती (स्मिता तांबे) के इंटरव्यू के लिए कन्विंस कर लेता है। क्या मुंबई शहर नूर के अंदर की असली सच्चाई को लाने में मदद करेगा जब उसकी अवाज शहर के हंगामे के सामने दब जाती है।
     
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X